Minor boy caught on CCTV camera kidnapping 5 years old girl

kidnapA minor boy has been caught on CCTV camera kidnapping 5 years old girl on Sunday morning at Raipur in Chhattisgarh state of India. The boy carrying a cycle enticed the girl with a chocolate and took her away.

Syla alias Lado daughter of Rajkumar Sahu of Kabir Nagar was playing in the colony at 11.45 ams. Soon after missing of the girl, family members knew about it. Police have found CCTV footage from two points and is searching for the kidnapper appearing to be between 14 and 16 years of age.

Meanwhile, no ransom call has been received.

Latest update on September 14

the boy was step-brother of the girl who had taken her to his house for playing. Actually Rajkumar Sahu has two wives but he hid the fact from girls mother and married her. the boy is the 13 years old son of the first wife, who also lives in the same city. this incident has exposed two marriages of Rajkumar now.

रायपुर। राजधानी के कबीर नगर स्थित हाउसिंग बोर्ड कॉलोनी से कथित तौर पर गायब हुई पांच साल की बच्ची को पुलिस ने 30 घंटे के अंदर खोज निकाला। इसके साथ ही बच्ची के पिता राजकुमार के दो महिलाओं से रिश्तों का राज भी खुल गया। कहानी की शुरुआत में विलेन नजर आ रहा 13 साल का किशोर ही असली हीरो निकला।जानिए क्या है पूरी कहानी…
पहले जानिए क्या था मामला
– कबीर नगर स्थित हाउसिंग बोर्ड कॉलोनी में रहने वाली मंजू साहू ने रविवार दोपहर पुलिस को 5 साल की बेटी लाडो के गायब होने की सूचना दी।
– मानव तस्करी, अपहरण जैसे संगीन अपराधों के शक में पुलिस तत्काल सक्रिय हो गई। 
– कॉलोनी के मेन गेट से लेकर आस-पास के संभावित सभी रास्तों में लगे कैमरों के सीसीटीवी फुटेज जांचे गए।
– हीरापुर अंडरब्रिज के पास लगे कैमरे के फुटेज में एक 12-13 साल का लड़का बच्ची को साइकिल में बिठाकर बड़े आराम से जाते हुए दिखाई दिया।
– पुलिस को अपहरण के किसी शातिर गिरोह का हाथ होने का शक बढ़ गया। 
– लेकिन जब आगे के और भी घरों, चौक-चौराहों पर लगे कैमरों की जांच की गई तो करीब 30 घंटे की मशक्कत ने पुलिस को उस घर में पहुंचा दिया जहां बच्ची मौजूद थी।
कहां थी बच्ची
– पुलिस ने जब पूरी तैयारी के साथ घर में दबिश दी तो बच्ची बड़े आराम से टीवी देख रही थी।
– फुटेज में दिख रहा वह लड़का और उसकी मां भी वहीं मिले। पूछताछ शुरू हुई तो असली कहानी सामने आ गई।
– लड़के का नाम हर्ष है और वह लाडो का सौतेला भाई है। वह अपनी बहन को खेलने के लिए अपने घर ले गया था। अपहरण जैसा कोई गलत इरादा तो था ही नहीं।
two-wifखुल गया राजकुमार का राज
– दरअसल राजकुमार की पहली शादी मधु से हुई थी, जिससे उसका बेटा हर्ष (13) है।
– पहली के पांच-छह साल बाद उसका प्रेम-प्रसंग मंजू से हुआ तो उसे भी पत्नी बनाकर कबीर नगर स्थित घर में रख लिया।
– मंजू को मधु के के बारे में पता था लेकिन मधु को पति की दूसरी पत्नी के बारे में जानकारी नहीं थी।
– इसमें इंट्रेस्टिंग फैक्ट ये भी है कि राजकुमार अपनी दूसरी पत्नी मंजू को भी मधु ही बुलाता था।
– राजकुमार अधिक समय मंजू के घर बिताता। जब मधु से मिलने जाता तो लाडो को साथ ले जाता और उसे दोस्त की बेटी बताता।
– मधु के घर जाते-जाते हर्ष से उसकी अच्छी जमने लगी थी। हर्ष लाडो को बहन की तरह दुलारता-प्यार करता था।
– कुछ महीने पहले हर्ष को समझ में आने लगा कि उसके पिता की एक और पत्नी है और लाडो उसकी सौतेली बहन है।
– हालांकि उसके मन में सौतेलेपन का कोई भाव नहीं था, वह संडे के दिन अपनी मर्जी से बच्ची को लेकर सात किलोमीटर दूर अपने घर ले गया था।
पुलिस को किया गुमराह
– बच्ची जब गायब हुई तो लाडो का पिता राजकुमार दिल्ली में था।
– उसे पुलिस ने जब लड़के का वीडियो भेजा तो उसने जानबूझकर उसे पहचानने से इनकार कर दिया।
– दरअसल, वह इस कोशिश में था कि वह रायपुर लौटते ही पहली पत्नी के घर से बच्ची को ले आएगा और लाडो की मां को बता देगा कि बच्ची को उसने ढूंढ लिया है।
– लेकिन उससे पहले ही पुलिस बच्ची तक पहुंच गई। राजकुमार को और मंजू पर पुलिस को बरगलाने का केस दर्ज किया गया है।
– पूरे शहर में अपहरण की जगह अब मानवीय संबंधों के ताने-बाने और सौतेले भाई-बहन के प्यार की चर्चा हो रही है।

earlier news

रायपुर( छत्तीसगढ़).राजधानी रायपुर में रविवार सुबह एक 5 साल की बच्ची का किडनैप हो गया। यह वारदात इलाके के दो कैमरों में कैद हो गई। इस फुटेज में देखा जा एक स्पोर्टस साइकिल में बिलकुल स्पोर्टी लुक में अाए नाबालिग लड़के ने किस शातिराना तरीके से इस वारदात को अंजाम दिया। किडनैपर बच्ची को चॉकलेट खिलाने का झांसा देकर साइिकल पर बिठाकर ले गया। चॉकलेट खिलाने का झांसा देकर किया किडनैप...

चॉकलेट खिलाने का झांसा देकर किया किडनैप

– कबीर नगर के राजकुमार साहू और मधु साहू की 5 साल की इकलौती बेटी सायला उर्फ लाडो रविवार सुबह 11:45 बजे कॉलोनी में खेल रही थी।

– तभी स्पोर्टससाइकिल में एक नाबालिग लड़का वहां आया और बच्ची को चॉकलेट खिलाने का झांसा देकर साइिकल में बिठाकर ले गया।

– उसके दो मिनट बाद परिवार वालों को खबर मिल गई। आसपास की सारी सड़कों और गलियों के साथ काॅलोनी को छान मारा, लेकिन बच्ची नहीं मिली।

– उसके बाद पुलिस को सूचना दी। पुलिस ने शहर की नाकेबंदी कर जांच शुरु की, लेकिन देर रात तक बच्ची का कोई सुराग नहीं मिला है।

दो जगह की सीसीटीवी से मिले फुटेज

– उस इलाके के कई घरों और दुकानों के सीसीटीवी कैमरे की जांच की गई। जिसमें दो जगह उसके फुटेज मिले हैं।

– एक फुटेज में किडनैपर बच्ची को साइकिल में बिठाकर ले जाते नजर आ रहा है। एक में वह काॅलोनी में ही बच्ची के पास खड़ा है। दोनों में उसका चेहरा साफ नजर नहीं आ रहा है।

– इस वजह से पुलिस की उलझन बढ़ गई है, हालांकि बच्ची की तलाश में पुलिस के साथ क्राइम ब्रांच की टीम भी जुटी है।

साथ खेल रही लड़की ने घर आकर दी जानकारी

– सायला पड़ोस में रहने वाली अपनी ही उम्र की छोटी बच्ची के साथ खेल रही थी। दोनों खेलते खेलते घर से थोड़ी दूर पहुंच गए।

– उसी दौरान एक लड़का सायला के पास आया और साइकिल पर बैठाकर ले गया। उसके साथ खेल रही बच्ची देखते ही रही।

– वह हड़बड़ा गई और दौड़कर घर आकर अपनी मम्मी को घटना के बारे में बताया। दोनों मां-बेटी उसी समय बच्ची के घर गए और सायला की मां मधु को इसकी जानकारी दी।

सड़क के किनारे बैठे चप्पल वाले ने देखा

– चौक पर सड़क किनारे चप्पल बनाने वाले ने भी बच्ची को साइकिल में बैठकर जाते हुए देखा है। उसके मुताबिक बच्ची को ले जाने वाले किडनैपर 14 से 16 के बीच लग रहा था। वह हुलिए से लोकल लग रहा था।

– सायला की मां ने बताया कि सीसीटीवी फुटेज में जिस लड़के की तस्वीर दिखाई दे रही है, उन्होंने उसे पहले कभी नहीं देखा है। वह पहली बार कॉलोनी में आया है।
– मिनटभर में बच्ची के गायब होने की खबर पूरी कॉलोनी में फैल गई। सभी बच्ची और उस साइकिल वाले काे तलाश करने लगे। तलाशी के बाद भी बच्ची के नहीं मिलने पर दोपहर 1 बजे थाने में खबर करने पर आधा घंटे में पुलिस के आला अफसर मौके पर पहुंचे।

फिरौती के लिए कोई फोन नहीं आया

– प्राइवेट कंपनी में मैनेजर लाडो के पिता राजकुमार अपने ऑफिस के काम के सिलसिले में एक हफ्ते से दिल्ली गए हैं। उन्हें घटना की सूचना दे दी गई है। बच्ची के गायब होने के बाद से मां का रो रोकर बुरा हाल है।

– पुलिस ने कई इलाकों में दबिश दी है और आधा दर्जन लोगों को हिरासत में लिया है, हालांकि देर रात तक फिरौती के लिए कोई फोन नहीं आया है।

बच्ची को किडनैप कर सीधे स्टेशन लेकर गया

– बच्ची का किडनैप करने के बाद नाबालिग किडनैपर सीधे स्टेशन पहुंचा। रेलवे स्टेशन में उसका करीब 1 बजे का वीडियो फुटेज है।

– इसी से माना जा रहा है कि वह बड़े गिरोह का सदस्य है। हालांकि लाडो को किसी भी ट्रेन में बिठाकर ले जाने का कोई फुटेज नहीं है, लेकिन माना जा रहा है कि उसे ट्रेन से बिठाकर बाहर ले जाया गया है।

رائے پور (چھتیس گڑھ) راجدھاني رائے پور میں اتوار کی صبح ایک 5 سال کی بچی کو اغوا ہو گیا. اس واردات علاقے کے دو کیمرے میں قید ہو گئی. اس فوٹیج میں دیکھا جا رہا ایک اسپورٹس سائیکل میں بالکل اسپورٹی لک میں ااے معمولی لڑکے نے کس شاطرانہ انداز میں اس واردات کو انجام دیا. كڈنےپر بچی کو چاکلیٹ کھانا کھلانے کا جھانسہ دے کر ساكل پر بٹھاکر لے گیا. چاکلیٹ کھانا کھلانے کا جھانسہ دے کر کیا اغوا …

چاکلیٹ کھانا کھلانے کا جھانسہ دے کر کیا اغوا

– کبیر نگر کے پرنس ساہو اور شہد ساہو کے 5 سال کی اکلوتی بیٹی سايلا عرف لاڈو اتوار کی صبح 11:45 بجے کالونی میں کھیل رہی تھی.

– تبھی سپورٹسساكل میں ایک معمولی آدمی وہاں آیا اور بچی کو چاکلیٹ کھانا کھلانے کا جھانسہ دے کر ساكل میں بٹھاکر لے گیا.

– اس کے دو منٹ بعد خاندان والوں کو خبر مل گئی. ارد گرد کی ساری سڑکوں اور گلیوں کے ساتھ کالونی کو چھان مارا، لیکن بچی نہیں ملی.

– اس کے بعد پولیس کو اطلاع دی. پولیس نے شہر کی ناکہ بندی کر تحقیقات شروع کی، لیکن دیر رات تک بچی کا کوئی اشارہ نہیں ملا ہے.

دو جگہ کی سی سی ٹی وی سے ملے فوٹیج

– اس علاقے کے بہت سے گھروں اور دکانوں کے سی سی ٹی وی کیمرے کی جانچ کی گئی. جس میں دو جگہ اس فوٹیج ملے ہیں.

– ایک فوٹیج میں كڈنےپر بچی کو سائیکل میں بٹھاکر لے جاتے نظر آ رہا ہے. ایک میں وہ کالونی میں ہی بچی کے پاس کھڑا ہے. دونوں میں اس کا چہرہ صاف نظر نہیں آ رہا ہے.

– اس وجہ سے پولیس کی الجھن بڑھ گئی ہے، تاہم بچی کی تلاش میں پولیس کے ساتھ کرائم برانچ کی ٹیم بھی مصروف ہے.

ساتھ کھیل رہی لڑکی نے گھر آکر دی معلومات

– سايلا پڑوس میں رہنے والی اپنی ہی عمر کی چھوٹی سی بچی کے ساتھ کھیل رہی تھی. دونوں کھیلنے کھیلنے گھر سے تھوڑی دور پہنچ گئے.

– اسی دوران ایک لڑکا سايلا کے پاس آیا اور سائیکل پر بٹھا کر لے گیا. اس کے ساتھ کھیل رہی بچی دیکھتے ہی رہی.

– وہ هڑبڑا گئی اور دوڑ کر گھر آکر اپنی ممی کو واقعہ کے بارے میں بتایا. دونوں ماں بیٹی اسی وقت بچی کے گھر گئے اور سايلا کی ماں شہد کو اس کی اطلاع دی.

سڑک کے کنارے بیٹھے موزے والے نے دیکھا

– چوک پر سڑک کنارے موزے بنانے والے نے بھی بچی کو سائیکل میں بیٹھ کر جاتے ہوئے دیکھا ہے. اس کے مطابق بچی کو لے جانے والے كڈنےپر 14 سے 16 کے درمیان لگ رہا تھا. وہ هلے سے لوکل لگ رہا تھا.

– سايلا کی ماں نے بتایا کہ سی سی ٹی وی فوٹیج میں جس لڑکے کی تصویر دکھائی دے رہی ہے، انہوں نے اس سے پہلے کبھی نہیں دیکھا ہے. وہ پہلی بار کالونی میں آیا ہے.
– منٹبھر میں بچی کے غائب ہونے کی خبر پوری کالونی میں پھیل گئی. تمام بچی اور اس سائیکل والے كاے تلاش کرنے لگے. تلاشی کے بعد بھی بچی کے نہ ملنے پر دوپہر 1 بجے تھانے میں خبر کرنے پر نصف گھنٹے میں پولیس کے اعلی افسر موقع پر پہنچے.

تاوان کے لئے کوئی فون نہیں آیا

– پرائیویٹ کمپنی میں منیجر لاڈو کے والد پرنس اپنے آفس کے کام کے سلسلے میں ایک ہفتے سے دہلی گئے ہیں. انہیں واقعہ کی اطلاع دے دی گئی ہے. بچی کے غائب ہونے کے بعد سے ماں کا رو رو کر برا حال ہے.

– پولیس نے کئی علاقوں میں دبش دی ہے اور نصف درجن افراد کو حراست میں لیا ہے، اگرچہ دیر رات تک تاوان کے لئے کوئی فون نہیں آیا ہے.

بچی کو اغوا کر براہ راست اسٹیشن لے کر گیا

– بچی کا اغوا کرنے کے بعد معمولی كڈنےپر براہ راست اسٹیشن پہنچا. ریلوے اسٹیشن میں اس کا تقریبا 1 بجے کا ویڈیو فوٹیج ہے.

– اسی سے سمجھا جا رہا ہے کہ وہ بڑے گروہ کا رکن ہے. تاہم لاڈو کو کسی بھی ٹرین میں بٹھا کر لے جانے کا کوئی فوٹیج نہیں ہے، لیکن مانا جا رہا ہے کہ اس ٹرین سے بٹھاکر باہر لے جایا گیا ہے

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *