Woman nearly killed by love-lorn father-in-law

susar

Bilaspur: A woman is battling for life in hospital after she was chased and attacked with knife by her own father-in-law who wanted to have sex with her. When she ran away from him, he chased her upto a school where he stabbed her in front of teachers and students. Father-in-law also tried to commit suicide.
Father-in-law Keju Ram (58 years) lives separately nearby. He made advances towards the woman several times, but she did not report it to anyone due to shame. Victim Nirmala was used to cook meal for mid-day meal of a school. When she was going to the school, Keju Ram intercepted her with bad intentions. On refusal, Keju Ram hit her with an iron rod, but she dodged and ran away to the school where also Keju Ram stabbed her. However, people rushed the woman to hospital.
Later, Keju Ram returned home and made futile suicide attempt.
बिलासपुर। ससुर के दुष्कर्म से बचकर भागी बहू। पीछे-पीछे वहशी बन चुका ससुर सड़क पर। वह जान बचाने के लिए पास के स्कूल में जाकर छिप गई। दरिंदा वहीं पहुंच गया और बच्चों व टीचर के सामने ही बहू पर चाकू से हमला कर दिया। सड़क पर और स्कूल में बच्चों ने इस घटना को देखा और दहशत में आ गए। पति जाता है काम पर तो ससुर करता है छेड़खानी…
– घर आकर ससुर ने खुद भी आत्महत्या करने की कोशिश की। दोनों को सिम्स में भर्ती कराया गया है। घटना के दौरान शिक्षक दहशत में रहे, वहीं कुछ बच्चे स्कूल छोड़कर भाग निकले।
– पुलिस ने आरोपी ससुर के खिलाफ जुर्म दर्ज कर लिया है। शहर से करीब 15 किलोमीटर दूर बिलासपुर-रतनपुर रोड पर यह वारदात हुई।
– ग्राम नवगवां निवासी निर्मला खरे पति धर्मेंद्र खरे 31वर्ष पति व बच्चों के साथ रहती है। वह प्राइमरी स्कूल में मध्याह्न भोजन पकाती है जबकि पति रोजी मजदूरी करने दूसरे गांव जाता है।
बहू के पीछे सड़क पर दौड़ा ससुर, स्कूल में बच्चों के सामने चाकू मारा
– ससुर केजूराम 58 वर्ष उनके घर के पास ही अलग मकान में रहता है। वह निर्मला पर बुरी नजर रखता था।
– कई बार उसने दुष्कर्म की नीयत से छेड़खानी की पर लोक लाज के भय से उसने इसकी शिकायत किसी से नहीं की।
– मंगलवार की सुबह निर्मला मध्याह्न भोजन पकाने स्कूल जाने के लिए घर के बाहर दरवाजे पर ताला लगा रही थी। इसी दौरान केजूराम वहां पहुंचा।
– उसके हाथ में सब्बल था। आते ही उसने निर्मला से दुष्कर्म की नीयत से छेड़खानी शुरू कर दी। उसने जबरन दरवाजा खुलवाने की कोशिश की पर निर्मला वहां से भाग निकली।
– केजूराम इससे गुस्से में आ गया और उसे मारने दौड़ाने लगा। वह रास्ते में ही उसे सब्बल फेंककर मारा पर निशाना चूक जाने से वह बच गई।
– यहां से महिला कोटवार के घर गई और रास्ते में आने जाने वालों को घटना की जानकारी दी पर किसी ने उसकी मदद नहीं की।
– वह प्राइमरी स्कूल पहुंची और स्वीपर रोहित के मोबाइल से फोन कर अपने पति धर्मेंद्र को सूचना दी और उसे जल्दी आने के लिए कहा।
– धर्मेंद्र के आने से पहले केजूराम चाकू लेकर स्कूल पहुंच गया और महिला को पीछे से पकड़कर उसपर ताबड़तोड़ हमला कर दिया। उसने सिर पर लगातार तीन वार किए।
– गांव के ही मनीराम नामक अधेड़ ने हिम्मत कर महिला को केजूराम के चंगुल से छुड़ाया और उसे भगाया।
आंख पर मारा चाकू और लगा ली फांसी
– केजूराम यहां से घर आ गया। धर्मेंद्र पहुंचा तो 108 से महिला को सिम्स लेकर आया।
– केजूराम घर आकर पहले खुद पर चाकू से आंख के पास वार किया फिर फांसी लगाकर खुदकुशी करने की नीयत से दरवाजा बंद कर लिया।
– उसके बड़े बेटे बाबूलाल खरे 35वर्ष ने दरवाजा तोड़कर उसे बाहर निकाला और सिम्स लेकर आया। बहू व आरोपी ससुर का एक साथ इलाज चल रहा है। मामला कोनी थाना क्षेत्र का है।
महिला की किसी ने नही की मदद
– निर्मला को जब उसका ससुर दौड़ाया तो गांव के कई लोगों ने देखा। काेटवार सहित कुछ लोगों को उसने घटना के बारे में बताया भी पर किसी ने उसकी मदद नहीं की तो वह भागते स्कूल पहुंची।
– यहां से मदद के लिए स्वीपर के मोबाइल से पति को फोन कर जल्दी आने के लिए कहा। इस बीच महिला की मदद करने कोई नहीं आया। किसी ने केजूराम कोरोक लिया होता तो वारदात नहीं होती।
शिक्षकों में दहशत, बच्चे स्कूल छोड़कर घर भागे
– महिला पर उसका ससुर चाकू से हमला कर रहा था तो बच्चे व शिक्षक स्कूल में मौजूद थे। अचानक हुई इस तरह की घटना से सभी दहशत में आ गए।
– बच्चे काफी डर गए थे। घटना के बाद कुछ बच्चे स्कूल छोड़कर घर भाग निकले। महिला काफी देर तक लहुलुहान पड़ा रहा।
– उसका पति आया तब उसे अस्पताल लाया गया। इस बीच आरोपी के डर से कोई स्कूल में आकर मदद नहीं की।
महिला 12 साल से परेशान है हर पल अपने ही ससुर की गंदी नजर से
– महिला के अनुसार वह अपने ससुर से पिछले 12 साल से परेशान है। जब से वह शादी होकर आई है तब से वह छेड़खानी कर रहा है। उसका जीना मुहाल हो चुका था।
– घर से दिशा मैदान के लिए जाती है तब भी वह पीछा करता है और पेड़ पर चढ़कर उसपर नजर रखता है। जब वह नहाने तालाब जाती है तब मेढ़ पर बैठकर उसका इंतजार करता है।
– इस बात की जानकारी उसने ससुराल में अन्य लोगों को दी पर किसी ने ध्यान नहीं दिया। पुलिस ने परिवार की दूसरी महिलाओं से भी बयान लिया तो पता चला कि केजूराम उनपर भी बुरी नजर रखता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *