Russian lady officer falls in love with Indian labourer’s son working as barman

russianA Russian officer fell in love with Indian labourer’s son working as barman in Goa. The woman Anastastha is an officer of Russsian Parliament House’s economics department whereas Narendra is barman on a bear bar counter. They had met three years ago after which they got married.

The 25 years old did not know English. They had language barrier, but continued to talk to each other through language of heart. For about 2 and half years, Anastastha continued to visit India time and again to meet Narendra.

Later, she called him to Moscow where they got married. Now they have come to Narendra’s home town Sagar in Madhya Pradesh and applied for marriage registration to Additional Collector. They plan to settle in Moscow.

गोवा में बारमैन का काम करने वाले एक मामूली खेत मजदूर के बेटे ने कभी नहीं सोचा होगा कि उसकी शादी किसी विदेशी लड़की से होगी। लड़की भी कोई मामूली नहीं, बल्कि रशियन पार्लियामेंट हाउस के इकोनॉमिक्स डिपार्टमेंट की एक अफसर से। एमपी के छोटे-से कस्बे के रहने वाले एक नरेंद्र के साथ ऐसा ही हुआ। उन्होंने रूस की अनस्तस्था से मुलाकात के 3 साल बाद शादी कर ली। ऐसे हुआ रूसी लड़की से प्यार, पढ़ें पूरी लवस्टोरी…

– नरेंद्र की मुलाकात अनस्तस्था से करीब 3 साल पहले गोवा में हुई थी। जहां वह एक बियर बार काउंटर पर बारमैन काम करता था।

– शुरुआती बातचीत टूटी-फूटी अंग्रेजी में हुई। 25 साल की रूसी लड़की भी अंग्रेजी नहीं जानती थी, लेकिन दोनों ने एक-दूसरे की भाषा आंखों से समझी, फिर दिल की।

– करीब ढाई साल तक वह नरेंद्र से मिलने के लिए भारत आती रही। इस दौरान सोशल मीडिया के जरिए उनकी बातचीत होती रही।

– इसके बाद उसने अनस्तस्था ने उसे मॉस्को बुला लिया। जहां उन दोनों ने अगस्त में विधिवत शादी कर ली।

– यही नहीं, बुधवार को उन्होंने सागर में अपर कलेक्टर दिनेश श्रीवास्तव को अपनी शादी का रजिस्ट्रेशन कराने के लिए अर्जी भी दी है।

खेतों में मजदूरी करते हैं नरेंद्र के पिता

– नरेंद्र मूलत: मजदूर परिवार से है। उसके पिता काशीराम लोधी के पास न के बराबर जमीन है।

– पूरे परिवार की गुजर-बसर खेतों में मजदूरी करके होती है। परिवार में मां के अलावा एक और भाई, एक बहन है।

– नरेंद्र के मुताबिक, वह कुछ दिन पहले अपनी पत्नी अनस्तस्था को गांव ले गया था।

– माता-पिता से मिलवाने के बाद अब वह उसके साथ रूस में ही रहने की तैयारी में है। इसके लिए उसने वीजा के लिए अप्लाई कर दिया है।

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *