She planned husband’s murder while sleeling with lover on Diwali night

arrestedThis woman is charged with murder of her husband at Panchu in Bikaner. When people were celebrating Diwali in the night. She was having sexual intercourse with her lover and planning for murder of her husband. They killed the husband on Tuesday, but the case was solved in just two days and they were arrested.

Kushalaram Jat was found murdered at Charnisara village in Nagaur. He was murdered by his wife Nenu and her boyfriend Santosh Jat, who is brother-in-law of deceased’s brother.

During interrogation of people, it was known that Neno had illicit relations with Santosh. The police got suspicious of them and interrogated with force. Thereafter, the couple confessed to their crime.

प्रेमी के साथ बिताई दिवाली की रात और बना डाला पति के मर्डर का प्लान

इसी ने प्रेमी के साथ कर दी थी पति की हत्या।

पांचू-बीकानेर।दिवाली के दिन जहां लोग अपने घर-परिवार के लोगों के साथ खुशियां मना रहे थे, उसी समय एक विवाहिता अपने प्रेमी के साथ मिलकर पति के मर्डर की प्लानिंग कर रही थी। दोनों ने मगंलवार को साजिश को अंजाम पर भी पहुंचा दिया। दो दिन बाद ही उनका राज खुल गया और पुलिस ने उन्हें गिरफ्तार कर लिया। ये है पूरा मामला…

– मंगलवार की रात नागौर में पांचौड़ी थाना क्षेत्र के चारणीसरा गांव निवासी कुशालाराम जाट की पांचू थाना क्षेत्र में कटार से गोदकर हत्या कर दी गई थी।

– पुलिस को उसका शव चंदोलाई नाड़ी ओरण में कच्ची सड़क पर पड़ा मिला था।

– पुलिस पूछताछ में सामने आया कि कुशालाराम की पत्नी नेनू और उसके भाई के साले संतोष जाट के नाजायज संबंध थे।

– वे दोनों कुशालाराम को मारना चाहते थे।

– दोनों ने दिवाली वाले दिन मिलकर योजना बनाई और संतोष ने कुशालाराम पर कटार से ताबड़तोड़ वार कर उसकी हत्या कर दी।

– वारदात के बाद शव चंदोलाई नाड़ी की ओरण में फेंका और अपने गांव भोजास चला गया।

– पुलिस ने संतोष को बुधवार की रात और नेनू को गुरुवार को गिरफ्तार किया।

दोनों के बीच ये था अवैध संबंधों का राज

– संतोष को कोर्ट में पेश कर पांच दिन का रिमांड लिया है। नेनू को शुक्रवार को कोर्ट में पेश किया जाएगा।

– सीओ नोखा बनवारीलाल मीणा ने बताया कि भोजास निवासी नेनू के करीब तीन साल से संतोष से संबंध थे।

– दो-ढाई साल पहले उसका गौना चारणीसरा निवासी कुशालाराम के साथ कर दिया गया।

– गौने के बाद भी नेनू और संतोष मिलते रहे और दोनों ने कुशालाराम को रास्ते से हटाने की योजना बनाई।

– कुशालाराम सूरत में लकड़ी का काम करता था और दिवाली पर अपने घर आया हुआ था।

– वह अपने गांव से बाइक पर सवार होकर पत्नी नेनू को लेने भोजास गांव जा रहा था।

– रास्ते में संतोष ने कुशालाराम से संपर्क किया और सारूंडा गांव में उससे मुलाकात की।

– वह कुशालाराम को भुंडेल गांव में किसी से रुपए लेने के बहाने अपने साथ ले गया।

– भूंडेल से वापस लौटते समय अंधेरा होने पर बांसी गांव की रोही में चंदोलाई नाड़ी के पास संतोष ने बाइक रुकवाई और कुशालाराम की पीठ में कटार घोंप दी।

– कुशालाराम नीचे गिर गया तो उस पर कटार से ताबड़तोड़ वार कर उसकी हत्या कर दी।

– वारदात के बाद संतोष ने बाइक सारूंडा गांव की रोही में खड़ी की और भोजास में खोजो की ढाणी अपने घर चला गया था।

– गौरतलब है कि कुशालाराम के बुधवार को भोजास जाने की जानकारी उसकी पत्नी नेनू ने ही प्रेमी संतोष को दी थी।

ऐसे खुला राज

– पुलिस को आशंका थी कि कुशालाराम की हत्या में किसी रिश्तेदार या उसके परिचित का हाथ हो सकता है।

– पुलिस ने उसके ससुराल भोजास में लोगों से पूछताछ की और जानकारी बटोरी।

– पत्नी नेनू के बारे में जानकारी हासिल की। पुलिस बुधवार को खोजो की ढाणी भी गई और संतोष के बारे में भी पूछताछ और खोजबीन की।

– सुराग हाथ लगते गए और पुलिस का शक यकीन में बदल गया।

– पुलिस संतोष को थाने ले आई और उसने पूछताछ में नेनू के साथ मिलकर कुशालाराम की हत्या करना स्वीकार कर लिया।

– उसके बाद पुलिस ने नेनू को भी गिरफ्तार किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *