BF celebrates his birthday with GF in boys hostel and then kills her

murderA youth called his girlfriend to his hostel where he celebrated his birthday. Later, the youth murdered the girl named Neha, who was an inmate of Nirman Nagar girls hostel. After that he stuffed Neha’s dead body in a suitcase and set off towards Gandhi Nagat railway station to put it in some train.

However, blood started dropping from the trolley on which accused was carrying the dead body in suitcase. Seeing this, the accused fled away from the scene.

The police found salary slip of Rakesh Kumar Pandey who is brother of the accused. However, the accused succeeded in escaping from the city. Four teams have been sent in different directions to locate him.  

जयपुर. शहर के गांधी नगर रेलवे स्टेशन पर बैग में मिले शव के मामले में बुधवार को जीआरपी ने बड़ा खुलासा किया। बताया गया कि आरोपी ने पहले नेहा के साथ खुद का जन्मदिन मनाया इसके बाद हथियार गले में घोंप कर हत्या कर दी। आरोपी ने निर्माण नगर हॉस्टल में रहने वाली नेहा को जन्मदिन मनाने के लिए केक लेकर अपने ब्वॉयज हाॅस्टल में बुलाया था। हॉस्टल में साथ केक काटकर पार्टी मनाई थी। हत्या के बाद शव को ठिकाने लगाने के लिए ट्रेन में रखने के इरादे से बैग में डालकर गांधीनगर रेलवे स्टेशन लेकर आया था। कैसे लड़के तक पहुंची पुलिस…

– हालांकि स्टेशन पर ट्राली बैग से रिस रहे खून की वजह से आरोपी बैग को ट्रेन में नहीं छोड़ पाया था और भाग गया।

– बता दें कि इस मामले का खुलासा नेहा के शव के साथ राकेश कुमार पांडेय की एक निजी कंपनी की सैलरी स्लिप मिली थी।

– जांच में सामने आया कि हत्यारा राकेश कुमार पांडे का भाई है। इसके बाद आरोपी के मोबाइल की कॉल डिटेल से युवती के बारे में पता चला था।
– रेलवे पुलिस अधीक्षक ने बताया कि नेहा के मोबाइल की कॉल डिटेल व लोकेशन के आधार पर हत्या उसके पड़ोस के गांव का ही युवक निकला।

लड़की का दोस्त था हत्यारा

– आरोपी को पकड़ने के लिए जीआरपी की 4 टीमें बिहार भेजी गई हैं। पुलिस के आने की भनक मिलने पर हत्यारा वहां से भाग गया।

– हत्यारा तीन साल से नेहा का दोस्त था। वह टोंक रोड पर इंडिया गेट के पास एक हॉस्टल में रहता था।

– हत्या वाले दिन सोमवार को आरोपी का बर्थ-डे था तो नेहा को केक लेकर हॉस्टल बुलाया। और पार्टी करने के बाद गले पर चाकू घोंप कर हत्या कर दी।

डायरी में लिखी मिली मर्डर की पूरी प्लानिंग

– पुलिस को हत्यारे के कमरे से मर्डर की प्लानिंग लिखी हुई एक डायरी भी मिली है। जिसमें मर्डर करके लाश को ठिकाने लगाकर फरार होने तक की कहानी लिखी हुई है।

– स्टेशन पर ही बैग से खून निकलने पर बैग छोड़कर वहीं घूमता रहा। आरोपी के मोबाइल की लोकेशन से सामने आया कि हत्यारा करीब एक घंटे तक स्टेशन पर लाश के आस-पास ही घूम रहा था।

– उसके बाद ही कुछ देर के लिए अपना फोन स्विच ऑफ कर भाग गया।

दोनों में 3 साल से थी दोस्ती
– आरोपी की तीन साल से नेहा की दोस्ती थी। नेहा का तीन साल पहले नेहा का एक्सीडेंट हुआ था, तभी हत्यारे से नेहा की दोस्ती हुई थी।

– नेहा के हॉस्टल में साथ रहने वाली लड़कियों से पूछताछ में सामने आया कि नेहा राजपूत समाज से थी, और लड़का ब्राह्मण समाज से था।

– पिछले कुछ दिनों से किसी दूसरी जगह नेहा के रिश्ते की बात चल रही थी। जिससे लड़का नाराज था। वह बार-बार नेहा को धमकाता था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *