Husband asks wife for tattoo on her private part 4 days after love marriage

tattooIndore: In a shameful incident, a man who had married a junior engineering student after love affair, asked her to have a tattoo on her private parts. When she resisted, he made a tattoo of his date of birth on her neck. Before it, she was subjected to atrocities.

Later, she was beaten time and again for months demanding Rs. 50 lakh dowry. Police has register FIR and searching for her husband and in-laws who are absconding.

इंजीनियरिंग की पढ़ाई के दौरान मोहब्बत, शादी और फिर पति बोला- ‘वहां बनवाओ टैटू’

कॉलेज में पढ़ाई के दौरान इंजीनियरिंग के एक स्टूडेंट की अपने सीनियर से दोस्ती हो गई. पहले दोस्ती से शुरू हुआ यह सिलसिला बाद में मोहब्बत में बदला गया. इसके बाद दोनों ने वैदिक रीति-रिवाज से शादी कर ली.

लव मैरिज के चौथे दिन प्रेमिका से पत्नी बनी युवती के सामने उसके पति ने ऐसी ख्वाहिश रख दी, जिसे सुन उसके पैरों तले जमीन खिसक गई. पति की जिद थी कि पत्नी अपने प्राइवेट पार्ट्स पर उसके नाम का टैटू बनवाए. यह जिद पूरी नहीं करने पर उसे जमकर शारीरिक प्रताड़ना दी गई और फिर पति ने उसके गले पर जबर्दस्ती अपनी डेट ऑफ बर्थ (जन्मतिथि) गुदवा दी.

tattooयह बेहद हैरान करने वाला मामला मध्यप्रदेश के इंदौर शहर का है. यहां प्राइवेट इंजीनियरिंग कॉलेज में पढ़ने के दौरान एक छात्रा को अपने से एक साल सीनियर छात्र से मोहब्बत हो गई थी. दोनों के बीच चार साल तक दोस्ती और मोहब्बत का सिलसिला चला, फिर मई 2016 में शादी के साथ ही दोनों पति-पत्नी के रिश्ते में बंध गए.

शादी के महज चार दिन बाद ही पति बने प्रेमी के तेवर बदल गए. आरोप है कि पति ने मोहब्बत का वास्ता देकर पत्नी से उसके नाम का टैटू कलाई पर गुदवाने का दबाव डाला. पत्नी बड़ी मुश्किल से इस बात के लिए राजी हुई तो अगले दिन कथित तौर पर पति ने उसके सामने प्राइवेट पार्ट्स पर टैटू बनाने की डिमांड रख दी.

बताते हैं कि ऐसा करने से मना करने के बाद युवती के सास-ससुर ने भी उसे दहेज के लिए प्रताड़ित करना शुरू कर दिया. इस दौरान पति ने उसके गले पर जबर्दस्ती अपनी डेट ऑफ बर्थ गुदवा दी.

वहीं, सास-ससुर और ननद भी उसे प्रताड़ित करने लगे. आरोप है कि उन्होंने शादी के चंद महीने बाद बहू को यह कहते हुए मायके छोड़ दिया कि यदि बेटे के साथ रहना है तो 50 लाख रुपए लेकर आओ.

जब युवती ने महिला थाने में इसकी शिकायत की तो पुलिस ने एफआईआर दर्ज नहीं की. पुलिस ने पारिवारिक मामले को आपसी सहमति से सुलझाने का सुझाव दिया.

इसके बाद युवती ने वकील कृष्ण कुमार कुन्हारे के माध्यम से इंदौर डिस्ट्रिक्ट कोर्ट में याचिका दायर की. मामले में अदालत ने महिला एवं बाल विकास अधिकारी को गुप्त जांच के आदेश दिए.

जांच रिपोर्ट के आधार पर डिस्ट्रिक्ट कोर्ट ने स्वतः संज्ञान लेते हुए पति, सास-ससुर और ननद के खिला घरेलू हिंसा अधिनियम के तहत केस दर्ज करते हुए सभी आरोपियों को 27 दिसंबर को कोर्ट में पेश होने का आदेश दिया है.

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *