BJP’s Parivartan Yatras flop as people did not attend in large number

flopBJP’s Parivartan Yatras in Uttar Pradesh are turning out to be flop as people did not attend in large number. Such a Yatra was organised at Sultanpur on Friday. Attendance in the rally was so thin that Amit Shah postponed his programme to address it. Finally, Nitin Gadkri was sent to address the sparse attendance drawn mainly from BJP’s core workers and not the general public.

 लखनऊ, भाजपा द्वारा चलाई जा रही परिवर्तन यात्रा का प्रदेश की जनता के ऊपर कुछ खास असर दिखाई नहीं पड़ता है। पीएम मोदी ने भी दो परिवर्तन रैली की हालांकि कुछ भीड़ तो जुटा पाए मगर 2014 के लोकसभा का जादू नजर नहीं आ रहा है। भाजपा की परिवर्तन यात्रा की आज सुल्तानपुर में रैली थी। रैली का आलम ये था कि रैली में लगाई गयी कई सारी कुर्सियां खाली पड़ी रह गयी। भाजपा की रैलियों में नोटबंदी का असर साफ़ तौर पर देखा जा सकता है।

आज की रैली में भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह को भी आना था आखिरी समय पर अमित शाह ने रैली का दौर रद्द कर दिया। जिनकी जगह केंद्रीय सड़क परिवहन एवं जहाजरानी मंत्री नितिन गडकरी को भेज गया उनके साथ अपना दल की अनुप्रिया पटेल भी उपस्थित रहीं और प्रदेश अध्यक्ष केशव मौर्या भी उपस्थित रहे।

रैली के दौरान गडकरी ने कहा कि एक हजार व 500 के नोट बंद किए जाने से गरीब नहीं, काला धन जमा करने वाले कुछ नेता, अफसर व उद्योगपति नाराज हैं।

उन्होंने कहा कि हजार, पांच सौ के 16 लाख नोट छपे थे, लेकिन अभी तक सिर्फ छह लाख करोड़ रुपये ही आए हैं। 10 लाख करोड़ अभी आने बाकी है।

अनुप्रिया पटेल ने बसपा सुप्रीमो मायावती पर निशाना साधते हुए कहा कि उनकी जुबान को लकवा मार गया है। मायावती पर कठोर शब्द कसते हुए कहा कि वे बाबा साहब का नाम लेकर बहुजनवाद की दुकान चलाती है।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *