Cheat creates fake ID of senior police superintendent to cheat people

fakePatna: A police team of Patna on November 27 arrested a youth Vedant Mishra from Jagatnagar colony of Bhogaon in Mainpui district in Uttar Pradesh (UP) with the help of local police for creating a Social media account in the name of SSP, Patna, Manu Maharaaj, and making false promises to the 3,000 friends he had created in his name. He has been brought over to Patna for further investigation into the matter.

SSP, Patna, Maharaaj had constituted a three-member Special investigation team (SIT) headed by SI Vinay Prakash to probe the matter after several persons contacted him on his official mobile when they found the number given to them by Vedant was not responding.

The SSP got the matter investigated by the cyber cell which found that Maharaaj had never created any Social media account in his name but someone had used his photo and name to create a Social media in his name. After this, Maharaaj got a case of cyber crime lodged with Secretariat police station, Patna, on November 25, 2016. The SIT was entrusted with the task of investigation of the case. The team members connected themselves with the fake Social media account and started talking to Vedant and even got his  mobile number which was immediately put on surveillance to find his location which was found at Bhogaon in Mainpuri district, UP. The SIT team reached there on November 27, 2016, and arrested him with the help of local police.

पटना .बिहार पटना एसएसपी मनु महाराज के नाम से फर्जी फेसबुक एकाउंट बनाकर सैकड़ों लोगों को चपत लगा चुके शातिर वेदांत को उत्तरप्रदेश के मैनपुरी जिले के भौगांव थाना क्षेत्र से गिरफ्तार किया गया है। उसे सोमवार को पटना लाने के बाद पुलिस उससे पूछताछ कर रही है। उसके मोबाइल को भी खंगाला जा रहा है। उसके एक साथी को रविवार को मुंबई पुलिस गिरफ्तार कर ले गई है। ऐसे खुली पोल…
– एक ईंट भट्ठा पर मुंशी का काम करने वाला वेदांत वर्ष 2015 से मनु महाराज के नाम से फर्जी फेसबुक एकाउंट चला रहा था।

– लेकिन, दो महीने से वह ज्यादा सक्रिय था। उसकी फ्रेंड लिस्ट में 3500 से अधिक यूपी, बिहार, उत्तराखंड आदि के लोग शामिल हैं।

– इनमें कई अधिकारी, थानेदार, कुछ चर्चित नेता, पत्रकार, शामिल हैं। वह फर्जी नंबर से पटना एसएसपी के नाम से वाट्स एप भी चलाता था।

– वाट्स एप नंबर से सौ से अधिक महिलाएं जुड़ी हैं। वह लड़कियों से अश्लील बातचीत भी करता था। कई महिलाओं का उसने गलत इस्तेमाल भी किया।

– बिहार के ही एक नेता से उसने फोन पर शराब मांगी थी। नौकरी के नाम पर भी वह कई लोगों से पैसा ठग चुका है।

ऐसे खुली पोल
– जब लोग वेदांत के हाथों ठगे गए और उनका काम नहीं हुआ, तो एसएसपी मनु महाराज के सरकारी नंबर पर संपर्क किया।

– लगातार कई लोगों के फोन आने के बाद एसएसपी ने इसकी पड़ताल की। अक्टूबर के पहले हफ्ते से ही टीम ने इस पर काम शुरू कर दिया।

– मनु महाराज ने 25 नवंबर को सचिवालय थाने में इस संबंध में मामला दर्ज कराया।

– साइबर सेल ने जब वेदांत के बारे में पुख्ता जानकारी जुटा ली, तब विनय प्रकाश और गुलाम मुस्तफा के नेतृत्व में एक टीम को मैनपुरी भेजा गया।

– टीम ने रविवार की देर रात वेदांत को मैनपुरी से गिरफ्तार किया। उसके पास से एक स्मार्ट फोन व चार सिम मिले हैं। पुलिस नंबरों की जांच कर रही है।

…तो पहले जांच लें
– एसएसपी मनु महाराज के नाम से फेसबुक पर दस से अधिक एकाउंट बने हुए हैं। इसके साथ ही मनु महाराज के नाम से कई पेज भी बने हुए हैं।

– एसएसपी ने लोगों ने अपील की है कि वे इस तरह के झांसे में न आएं। उन्होंने कहा कि मेरा कोई फेसबुक एकाउंट नहीं है।

– उन्होंने कहा कि किसी भी जिम्मेदार व्यक्ति के एकाउंट से फ्रेंड रिक्वेस्ट आता है, तो पहले जांच लें, तभी दोस्ती आगे बढ़ाएं।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *