Japanese girl marries Indian boy, vows to live happily in village

japaneseLarge number of people turned up to witness marriage of a lacal youth with a Japanese girl at Mirzapur. Nikhil of village Oraiya and Ayumi of Japan had fallen in love during studies at Benaras Hindu University (BHU). Though the girl is a Buddhist, the marriage was solemnised with Hindu rites. Nikhil says that it is a dream come true for him.

मीरजापुर. यूपी के मीरजापुर में शुक्रवार को हुई एक शादी चर्चा का विषय बनी रही। यहां देशी छोरे ने जापान की गुड़ि‍या के साथ 7 फेरे लिए। इस शादी को देखने के लिए दूर-दूर से लोग पहुंचे थे।
जब लड़के के घर वालों ने कहाविदेशी लड़की गांव में कैसे रहेगी

– मीरजापुर जिले के औरईया गांव के रहने वाले निखिल ने जापान की आईजुमिको की रहने वालीं आयुमी से शादी की।

– निखिल ने कहा, मैं साल 2012 में बनारस हिंदू यूनिवर्सिटी (BHU) से मास्टर ऑफ टूरिज्म एडमिनिस्ट्रेशन जापानी लैंग्वेज कोर्स की पढ़ाई कर रहा था।
– इसी दौरान मेरी मुलाकात आयुमी से हुई। पहले हमारी दोस्‍ती हुई।
– फिर धीरे-धीरे दोस्‍ती प्‍यार में कब बदल गई, पता ही नहीं चला।
– आखिर में हमने शादी करने का फैसला किया।
– पहले तो घरवाले राजी नहीं हुए। उनका कहना था कि विदेशी लड़की गांव में कैसे रहेगी।
– हालांकि, मैंने उन्‍हें मना लिया। आयुमी के पैरेंट्स भी शादी के लिए राजी हो गए।
जापानी गुड़ि‍या ने कहामुझे मेरा प्‍यार मिल गया

– आयुमी की मां मोरिका सातो और पिता यूची सातो बौद्ध धर्म को मानते हैं।
– हालांकि, दोनों परिवार हिंदू परंपरा से शादी को राजी हो गया।
– परंपरा के अनुसार आयुमी ने लहंगा साड़ी पहनी थी।
– आयुमी ने कहा, मैं इस शादी से बहुत खुश हूं। मुझे मेरा प्‍यार मिल गया।
– वहीं, निखिल ने कहा, ये मेरे लिए किसी सपने से कम नहीं है।
– शादी से कुछ दिन पहले ही आयुमी की फैमिली और रिलेटिव निखिल के घर आ गए थे।
– स्थानीय नागरिक राजेश दूबे ने बताया, आसपास के दर्जनों गांव से लोग पैदल ही इस शादी को देखने आए थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *