Janardhana Reddy converted Rs. 100 crore black money, says suicide note of driver

Bellary: The driver of a Karnataka bureaucrat has allegedly committed suicide after accusing the officer and mining baron Gali Janardhana Reddy of harassing him over laundered black money.

Ramesh Gowda, who worked as a driver for special land acquisition officer Bheema Naik in Bengaluru, committed suicide on Tuesday by consuming poison, sources told CNN-News18

In his suicide note, Gowda claimed that he had information on how Reddy converted Rs 100 crore black money into white and hence was receiving constant death threats.

driver

Karnataka Administrative Service (KAS) officer Naik was accused by Gowda of having received a 20 percent cut for helping Reddy launder the money needed for his daughter’s lavish wedding.

The suicide note claimed that Reddy along with BJP MP Sriramulu met Naik several times at a five star hotel in Bengaluru in the days before the wedding. Along with 20 percent cut, Naik allegedly wanted Reddy to help him get a ticket to contest the 2018 Karnataka elections.

Police have filed a case against Naik.

Income Tax officials had visited Reddy’s house in Bellary after the “Rs 500 crore” wedding and asked him to produce details.

Earlier, IT sleuths had unearthed around Rs 150 crore in unaccounted property and cash – Rs 5.7 crore was in new notes of Rs 2,000 – at the palatial residences of two state government engineers. Chikkarayappa and SC Jayachandra have been suspended now. These engineers are said to be close aides of CM Siddaramaiah, however he was quick to reject such allegations.

Janardhana reddy daughter wedding2 Gali Janardhana Reddy’s daughter’s wedding ceremony. (CNN-News18 TV grab)

According to reports, Reddy, who spent four years in Hyderabad and Bengaluru jails, had returned to Karnataka’s Bellary after five years on November 1 to make preparations for his daughter’s Rs 500 crore wedding.

बेंगलुरू. कर्नाटक के एक अफसर के ड्राइवर ने राज्य के पूर्व मंत्री जी. जनार्दन रेड्डी पर गंभीर आरोप लगाए हैं। ड्राइवर ने खुदकुशी कर ली है। उसका सुसाइड नोट सामने आया है, जिसमें लिखा है, ‘रेड्डी ने 100 करोड़ रुपए के काले धन को सफेद में बदला। ये बात मुझे मालुम थी।’ ड्राइवर ने खुद को मेंटली टॉर्चर करने का भी आरोप लगाया है।बेटी की शादी से पहले ब्लैकमनी को व्हाइट में कन्वर्ट किया...

– न्यूज एजेंसी के मुताबिक, ड्राइवर केसी रमेश की बॉडी मंगलवार रात मांड्या जिले के माडुर में एक लॉज में पाई गई।

– रमेश कर्नाटक एडमिनिस्ट्रेटिव सर्विस के एक अफसर का ड्राइवर था।
– ड्राइवर ने सुसाइड नोट में लिखा है, ‘मेरे बॉस ने मनी लॉन्ड्रिंग में रेड्डी की मदद की थी। बदले में रेड्डी ने बॉस को 20% कमीशन दिया था।’
– रेड्डी पर आरोप लगा है कि उन्होंने बेटी की शादी से पहले अपनी ब्लैक मनी को व्हाइट में कन्वर्ट किया।
– बता दें कि खनन कारोबारी जनार्दन रेड्डी पिछले महीने तब चर्चा में आए थे, जब उन्होंने बेंगलुरू में शाही ढंग से अपनी बेटी की शादी की थी।

खुलासा करने पर जान से मारने की धमकी दी थीड्राइवर
– ड्राइवर रमेश ने सुसाइड नोट में लिखा है, ‘इस मामले में शामिल लोगों ने मुझे खुलासा करने पर जान से मारने की धमकी दी थी।’
– रमेश ने अपने बॉस भीमा नायक पर भी आरोप लगाए हैं। लिखा है, ‘नायक ने बेल्लारी के बीजेपी सांसद बी. श्रीरामुलु और जर्नादन रेड्डी के एक करीबी सहयोगी से मुलाकात की थी।’

रिसेप्शन में पहुंचे थे बीजेपीकांग्रेस के कई नेता
– पिछले महीने जर्नादन रेड्डी ने अपनी बेटी की शादी की थी। देश में कैश की किल्लत के दौर में हुई यह शादी काफी चर्चा में रही थी।
– रिसेप्शन में कांग्रेस और बीजेपी के कई बड़े नेता भी शामिल हुए थे।

500 करोड़ रुपए किए थे खर्च
– रिसेप्शन के लिए रेड्डी ने एक मशहूर मंदिर का मॉडल तैयार करवाया था।
– समारोह में कुल 50 हजार गेस्ट पहुंचे थे। पूरे समारोह पर 500 करोड़ रुपए खर्च किए थे।

संसद में उठा था मुद्दा
– रेड्डी की बेटी की शाही शादी का मुद्दा संसद में भी उठा था।
– नेताओं ने पूछा था कि नोटबंदी के बाद कैश की किल्लत होने के बावजूद रेड्डी ने शादी में पेमेंट कैसे किए?

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *