Woman murders husband for love of 10 years younger BF

murderWhen an woman fell in love with 10 years younger co-worker in a hotel, she decided to get rid of her husband. Under a conspiracy, she took the husband to a jungle where her lover and she knifed him to death.

Datia police had recovered an unclaimed body from jungle near Ratangarh Mata on December 2. Later, he was identified s Phool Singh son if Hirala of Bhopal. On suspicion, the police interrogated wife of the deceased Chhoti Bai, who confessed to murder and revealed details including her love for accused Ramakant.

होटल पर साथ काम करने वाले 10 साल छोटे युवक से इश्क हो गया तो पत्नी ने पति को रास्ते से हटाने की ठान ली। प्लानिंग के साथ पति को रतनगढ़ माता के दर्शन के लिए साथ लाई। जंगल में पहुंचते ही पहले से इंतजार कर रहे प्रेमी के साथ मिलकर पति को चाकुओं से गोद डाला।ये है मामला.
– दतिया के रतनगढ़ माता के रास्ते में बीहड़ से 2 दिसंबर को अज्ञात शव बरामद किया था।
– शव की पहचान फूलसिंह पुत्र हीरालाल निवासी शिवनगर भोपाल के रूप में हुई थी।
– पुलिस ने मृतक के भाई ज्ञान सिंह की शंका के आधार पर उसकी पत्नी छोटीबाई से पूछताछ की।

– पत्नी ने आखिरकार स्वीकार कर लिया कि उसना ने प्रेमी रमाकांत बघेल के साथ पति की हत्या की है।
– पुलिस ने हत्यारे प्रेमी प्रेमिका को गिरफ्तार कर उनके कब्जे से मृतक का मोबाइल व हत्या के लिए उपयोग की गई छुरी जब्त कर ली। दोनों को जेल भेज दिया गया।
10 साल छोटे हलवाई से हुआ प्यार
– छोटीबाई की शादी फूल सिंह से हुई थी, लेकिन दोनों में अनबन के बाद करीब 2.5 साल तलाक हो गया था।
– तलाक के बाद वह छोटीबाई अपने मायके में भाइयों के साथ रहने लगी, लेकिन भाइयों ने भी उसे घर से भगा दिया।
– मजबूरन छोटीबाई फिर पति फूलसिंह के पास लौट आई साथ रहने लगी।
– भोपाल में ही होटल में उम्र में करीब दस साल छोटे हलवाई रमाकांत से छोटीबाई को प्रेम हो गया।
– फूलसिंह को पत्नी की रमाकांत से नजदीकी की भनक लग गई तो वह उसकी बेरहमी से पिटाई करने लगा।
– मारपीट से छुटकारा और प्रेमी के साथ पाने के लिए छोटी बाई ने रमाकांत के साथ पति को रास्ते से हटाने का प्लान बना लिया।

शराब छुड़ाने के बहाने पति को लाई रतनगढ़
– 24 नवंबर को छोटीबाई पति फूलसिंह को शराब छुड़वाने के बहाने रतनगढ़ माता मंदिर के लिए लेकर आई।
– छोटीबाई का प्रेमी रमाकांत भी यहां उनके साथ आ गया, 25 नवंबर की रात तीनों ने रतनगढ़ माता मंदिर में दर्शन किए।
– दर्शन के बाद तीनों पैदल ही दतिया वापसी के लिए रवाना हो गए। जंगल में सुनसान आते ही छोटीबाई और प्रेमी रमाकांत ने फूल सिंह को छुरी से गोद दिया।
– फूल सिंह की मौके पर ही मौत हो गई, इसके बाद सुबूत खत्म करने के लिए जंगल के भरकों में लाश फेंक दी।
– वारदात के बाद छोटीबाई भोपाल चली गई, जबकि उसका प्रेमी रमाकांत अपने गांव सेंथरी में रुक गया।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *