Why this B. Tech student was murdered 7 days after sister’s suicide?

murderKota: B. Tech student hailing from here had gone missing in Bengaluru after suicide by his sister. Now his dead body has been fished out from under Hanging Bridge in Kota. The police has registered case of murder.

Vikrant Sharma, a resident of RK Puram sector in Kota had gone to his sister Mona Lisa in Bengaluru in search of job. Mona Lisa was also a software engineer who died after consuming poison on December 9. Soon after it, Vikrant had gone missing. An FIR was lodged in this connection.

Entire episode of sister’s suicide followed by brother’s murder is shrouded in deep mystery, which is proving as a hard nut to crack for the police.

कोटा। बहन की मौत के बाद बैंगलुरू से गायब हुए उसके भाई का शव कोटा के हैंगिंग ब्रिज के नीचे चंबल नदी में मिला। लड़के के हाथ रूमाल से बंधे थे और गले में बेल्ट का फंदा लगा था। शव के पास मिले वोटर आईडी, मोबाइल अन्य दस्तावेजों के आधार पर उसकी पहचान हो सकी है। पुलिस ने प्रथम दृष्टया इसे हत्या मानकर जांच शुरू कर दी है। क्या है पूरा मामला

– कोटा के आरकेपुरम सेक्टर-बी में रहने वाले विक्रांत शर्मा के पिता राजेन्द्र कुमार शर्मा ने बताया कि विक्रांत आरटीयू से बीटेक पासआउट स्टूडेंट था। विक्रांत सॉफ्टवेयर इंजीनियर की नौकरी तलाशने बड़ी बहन मोनालिसा शर्मा के पास बैंगलुरू गया था।
– मोनालिसा सॉफ्टवेयर इंजीनियर थी, जो पिछले करीब 3 सालों से बैंगलुरू में एक नामी कंपनी में काम कर रही थी।

बहन की मौत के बाद से ही गायब था विक्रांत
– 9 दिसंबर को बहन की जहर खाने से आकस्मिक मौत हो गई थी। इसके बाद से विक्रांत गायब हो गया। परिजनों ने थाने में उसकी गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज करवाई थी।
– बैंगलुरू पुलिस लगातार उसके मोबाइल को ट्रेस कर रही थी, लेकिन मोबाइल स्विच ऑफ होने के कारण पुलिस को कोई खास सफलता नहीं मिल पाई थी।
पूरी तरह टूट चुका हूं मैं

– राजेन्द्र शर्मा, मृतक के पिता बोले 5 दिन पहले बेटी मोनालिसा की मौत हुई थी, उसके कारणों का अभी तक कोई पता नहीं चला है।

– पुलिस वाले कुछ नहीं बता रहे, पोस्टमार्टम रिपोर्ट भी नहीं आई है। बेटा विक्रांत भी उसी दिन से गायब है, बैंगलुरू के पुलिस थाने में रिपोर्ट करवाई थी।
– इस बीच पता चला कि कोटा में उसकी हत्या हो गई? बेटी और बेटा दोनों नहीं रहे… मैं पूरी तरह टूट चुका हूं।

अधिकतम 36 घंटे पहले डूबा विक्रांत
– शव की सूचना सबसे पहले निगम गोताखोरों को मिली। गोताखोर विष्णु शृंगी और उनकी टीम ने हैंगिंग ब्रिज के नीचे पुराने पंप हाउस के पास से शव निकाला।
– शृंगी ने बताया कि शव देखने पर लगता है कि शव अधिकतम 36 घंटे पहले हाथ गला बांधकर नदी में फेंका गया है। सूचना पर आईपीएस चूनाराम जाट, सीआई शोकत अली खान सहित पुलिस मौके पर पहुंची और मामले की जांच शुरू की।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *