Woman swindler who used sex as weapon against political leaders sent to jail for 3 years

sexSolar scam accused Biju Radhakrishanan and Sarita S Nair have been convicted by a court in Ernakulam. The Judicial Magistrate Court in Perumbavoor sentenced the duo to a three year prison term and a fine of Rs 10,000 each. The court acquited Malayalam actor and dancer Shalu menon, her mother Kamaladevi and Manilal, who had earlier worked for the fraudulent company.

This is the first conviction in the scam that rocked Kerala three years ago with the arrest of Saritha S Nair and her live-in partner Biju Radhakrishnan, who had conned businessmen in the state and some NRIs by flaunting their high-level connections, including that of former chief minister Oommen Chandy. They were both business partners in a Kochi-based firm, Team Solar Renewable Energy Solutions Pvt Limited, which offered solar energy solutions to institutions and households.

Friday’s verdict comes in a complaint filed by Sajjad, a resident of Perumbavoor, on whose complaint that the police had earlier arrested Saritha. There are several cases pending against the accused. The case assumed political significance after it became evident that Radhakrishnan and Saritha had conned several by flaunting their proximity to Chandy, who had deposed before the judicial commission probing scam in January this year.

On Wednesday, Salimraj, who was the gunman of Chandy had told the Justice Sivarajan Commission that Saritha used to call the CM on his phone. He also claimed that she also has spoken to Chandy several times on his private secretary Jikkumon’s phone.

In February 2014, Nair got out on bail after eight months in jail. But she kept the state and its media hanging on to every word, or name, she uttered and kept the issue alive by dropping a new name every now and then, mostly of politicians and their close aides. Her revelations were almost always followed by a scramble among politicians to cover up their links with Nair.

कोच्चि. केरल के एक कोर्ट ने सोलर पैनल स्कैम के दो दोषी सरिता एस. नायर और बीजू राधाकृष्णन को धोखाधड़ी के केस में 3-3 साल जेल की सजा सुनाई है। दोनों पर 10-10 हजार रुपए फाइन भी लगाई गई है। यह फैसला पेरुम्बवूर मजिस्ट्रेट कोर्ट ने सुनाया है। बता दें कि इस साल की शुरुआत में इस मामले ने खूब तूल पकड़ा था। तब सरिता ने आरोप लगाया था कि नेता, मंत्री, सांसद, विधायक और उनके प्राइवेट सेक्रेटरी तक केवल सेक्स की वजह से घोटालों में उसकी मदद किया करते थे। दोनों ने की थी करोड़ों रुपए की ठगी

– इस मामले में सरिता और राधाकृष्णन ने लोगों के यहां सोलर पैनल लगाने की पेशकश की थी। इसकी आड़ में कई लोगों से करोड़ों रुपए की ठगी की गई थी।

– यह केस के.एम. साजिद ने दायर किया था, जिनसे इन दोनों ने 40 लाख रुपए ठगे थे।
– दोनों ने साजिद को भरोसा दिलाया था कि उनके लिए एक सोलर पैनल सिस्टम तमिलनाडु में और दूसरा केरल में उनके घर पर लगाया जाएगा।
– इस केस में सरिता को कुछ महीने जेल में रहने के बाद जमानत मिल गई थी। हालांकि, राधाकृष्णन अपनी पत्नी के मर्डर के केस में अभी भी जेल में है।

– कोर्ट ने इस केस में बाकी 3 आरोपियों मलयालम फिल्म-टीवी एक्ट्रेस सालू मेनन, उनकी मां कलादेवी और मणिकंदन को बरी कर दिया।

सीएम की कुर्सी पड़ गई थी खतरे में
– सरिता और बीजू ने इस केस में फंसने के बाद सीएम ओमन चांडी पर भी सेक्शुअल रिलेशन बनाने का आरोप लगाया था। इसके चलते इस साल की शुरुआत में चांडी की कुर्सी खतरे में पड़ गई थी।
– चांडी को ज्युडीशियल कमीशन के सामने पेश होना पड़ा था। करीब 14 घंटे तक उनसे पूछताछ हुई थी।
– वे केरल के पहले सीएम हैं, जो ज्युडीशियल कमीशन के सामने पेश हुए। तब उन्होंने कहा था कि उनके खिलाफ राजनीतिक साजिश की जा रही है।

कौन है सरिता, क्या है उसका बैकग्राउंड?
– सरिता को केरल में ‘सोलर सरिता’ के नाम से भी जाना जाता है। उसे कथित रूप से एक हाई प्रोफाइल लाइजनर कहा जाता है।
– अपने प्रभाव का इस्तेमाल कर वह कंपनियों को सरकारी कॉन्ट्रैक्ट दिलाने का काम किया करती थी।
– एक फाइनेंशियल आपराधिक मामले में उसे 2005 में भी अरेस्ट किया गया था।
– सरिता ने 10वीं में टॉप किया था। उसे अंग्रेजी, हिंदी, मलयालम तीनों भाषाएं बहुत अच्छे से आती हैं।
– सरिता की मां ने उसकी शादी दुबई में बसे राजेंद्रन से की थी। शादी के वक्त उसकी उम्र सिर्फ 18 साल थी।
– शादी के बाद राजेंद्रन अपनी नौकरी के लिए गल्फ चला गया, लेकिन ये शादी बहुत दिनों तक टिकी नहीं।
– राजेंद्रन ने यह कहते हुए उसे तलाक दे दिया कि उसके दूसरे मर्दों से संबंध हैं। तलाक के समय तक उनका एक बच्चा हो चुका था।
– एक वरिष्ठ पुलिस अफसर का कहना है कि सरिता का बेटा तिरुवनंतपुरम के एक स्कूल से पढ़ाई कर रही है।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *