When Rs. 2000 notes rained in this city, people looted them

barishLakhimpur Khiri (Uttar Pradesh): Life was going on normally when people saw hundreds of Notes of Rs. 2000 and old Rs. 1000 notes lying on a road. This led to jostling among people to loot the notes. It is not known as to from which vehicle these notes fell and where they were being taken. Some eyewitnesses, however, said that the notes had fallen from a vehicle having blue beacon light used by police vehicle. The matter is being investigated.

सड़क पर बिखरे दो-दो हजार रुपए के नोट,मची लूट

उत्तर प्रदेश में कैश की किल्लत के बीच भी सड़क पर नोटों की बरसात हो रही है। लखीमपुर खीरी में कल पुलिस चौकी के पास अचानक सड़क पर 2000 और 1000 रुपए के नोटों की बारिश सी होने लगी।

लखीमपुर खीरी (जेएनएन)। देश में पांच सौ तथा एक हजार रुपए के नोट बंद होने के बाद किल्लत के बीच उत्तर प्रदेश के तराई क्षेत्र लखीमपुर खीरी में सड़क पर दो-दो हजार रुपए के नोट की बरसात हो गई। नीली बत्ती लगी गाड़ी से सड़क पर दो-दो हजार रुपए के नोट गिरने के बाद से उनको लूटने की होड़ लग गई। रिक्शे वाले से लेकर हर किसी ने नोट को लपका।

उत्तर प्रदेश में कैश की किल्लत के बीच भी सड़क पर नोटों की बरसात हो रही है। लखीमपुर खीरी में कल पुलिस चौकी के पास अचानक सड़क पर 2000 और 1000 रुपए के नोटों की बारिश सी होने लगी। बड़ी संख्या में यह नोट किसी गाड़ी से गिरे थे।

नोट गिरता देख उनको लूटने की होड़ लग गई। नोट लूटने के लिए अफरातफरी सी मच गई। रिक्शे वाले से लेकर खोमचे वाले, चाय वाले और राहगीरों ने नए नोट लूटे। जिसको देखो सड़क पर पड़े नए नोटों को देख अपने कब्जे में लेने के लिए आतुर था।

कुछ लोगों के हाथ में दो-दो हजार तथा कुछ लोगों के हाथ में हजार तथा सौ-सौ रुपए के नोट लगे। यह सब नोट किस गाड़ी से गिरे, इसका किसी को भी पता नहीं चल सका। इन नोटों को देख एक बोलेरो वालों ने नोटों के ऊपर गाड़ी खड़ी कर दी।

गुलाबी नोटों को देख कुछ लोग तो बोलेरो के नीचे तक घुस गए. जैसे ही इसकी खबर पुलिस को मिली, उसने लोगों 13 हजार रुपए के 2000 नोटों को लोगों से छीन लिए। पुलिस के आला अफसर अब बोलेरो की तलाश में हैं, जिसके डायस पर नीली बत्ती रखी थी। मौके पर मौजूद होमगार्ड अशोक कुमार वर्मा ने बताया कि मैं यहां बस अड्डे पर ट्रैफिक ड्यूटी पर था। मैं नहीं बता सकता कि ये रकम बोलेरी से गिरी या मोटरसाइकिल से। उसी समय पश्चिम की तरफ से पूर्व की तरफ बोलेरी आ रही थी, सड़क पर पैसे गिरे देख गाड़ी रूक गई। इस दौरान कुछ लोग तो बोलेरो के नीचे घुस गए, जिसके हाथ जो लगा, वो पैसे ले गया।

पुलिस को इसकी जब जानकारी हुई तो उसने पड़ताल भी की। सीओ सिटी एमपी सिंह ने बताया कि अब तक जांच में पता चला है कि खंभारखेड़ा मिल की एक गाड़ी उसी समय गुजरी थी, जिसके संदिग्ध होने की जांच कराई जा रही है। वहीं कार चालक ने स्वीकार किया कि उधर से गाड़ी निकली थी, लेकिन उसमें ऐसा कोई नहीं बैठा था, जिसके रुपये गिरे हों। फिलवक्त वो चौपहिया वाहन किसका था? उसके अंदर नीली बत्ती किसने रखवाई थी? उसमें से नोट बाहर कैसे आए? ऐसे तमाम सवालों के जवाब पुलिस खंगाल रही है।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *