Why this lady software engineer murdered in broad daylight

murderPUNE: A young software engineer from Kolkata was stabbed to death by a youth on Friday night barely 500 metres from her office in Pune. The assailant chased her with a knife after a heated argument and hit her on the head and neck, a motorcyclist who witnessed the attack told police.

Antara Das, 23, was a resident of Sarsuna in Behala and worked for Capgemini.Her father, Debananda Das, reached Pune by a late evening flight on Saturday.

Antara was attacked on a footpath in Talawade, about 22km from here, around 8.35pm when the street lights were off. She ran towards people screaming “Bachao, Bachao” and collided with the motorcyclist, Satyandra Krushnanand Sinha (36), who was on his way home.Sinha took the help of a passing vehicle and rushed her to a private hospital, but doctors pronounced her dead on arrival.

murderSinha later lodged a complaint with the police. He told the cops that the assailant was wearing a T-shirt with black and blue stripes. The police are yet to identify the attacker.

Dehu Road police said Antara stayed as a paying guest and usually took a bus home.But on Friday night, she deci ded to walk to a friend’s place nearby . She left office at 8.25pm and started walking towards KNB Chowk when she was attacked. She suffered serious injuries on her head and nape of the neck.

SP (Pune rural) Jay Jadhav and other senior officers rushed to the spot after the attack. Police found Antara’s Kolkata address from documents inside her purse. They also found an identity card on her and immediately contacted her parents.

This is the fifth incident of a woman techie being killed in Pune by known or unknown assailants. In one of the earlier cases, the assailants are yet to be nabbed.

3 साल की लड़की पर बदमाशों ने जानलेवा हमला किया। वह बचने की कोशिश में रोड पर दौड़ती रही। लेकिन हमलावर धारदार हथियार से कई वार कर फरार हो गए। एक बाइक सवार ने कुछ लोगों की मदद से लड़की को हॉस्पिटल पहुंचाया, लेकिन उसे बचाया नहीं जा सका। अंतरा दास नाम की विक्टिम साॅफ्टवेयर इंजीनियर थी। घटना शुक्रवार की है लेकिन रविवार को सामने आई। मामला छेड़छाड़ से जुड़ा बताया गया है। उस रात लड़की ने नहीं ली कैब…
– मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, अंतरा एक प्राइवेट कंपनी में सॉफ्टवेयर इंजीनियर थी। शुक्रवार रात 8 बजे वह ऑफिस से घर के लिए निकली थी।
– कंपनी ने पुलिस को बताया कि ऑफिस शहर से बाहर है, इसलिए इम्पलॉई को कैब सर्विस दी गई है। अंतरा ने रजिस्ट्रर में लिखा था कि आज घर जाने के लिए वह रिक्शा लेगी।
– अंतरा को हॉस्पिटल पहुंचाने वाले ने कहा, ”लड़की का एक शख्स से झगड़ा हुआ था। जिसने उसके सिर पर वार किया की। जब वो जान बचाकर भागने लगी तो रोड पर पीछा भी किया।”
– बाइक सवार इस चश्मदीद ने पुलिस को दिए बयान में हमलावर को देखने का दावा भी किया है।
कुछ लड़कों पर परेशान करने का शक
– सूत्रों के मुताबिक, अंतरा को पिछले कुछ दिन से लड़के परेशान कर रहे थे, उन्होंने कई बार छेड़छाड़ भी की।
– पिता ने इसकी शिकायत देहूरोड़ थाने में दर्ज कराई थी। पुलिस फैमिली से पूछताछ कर ये जानने की कोशिश कर रही थी कि कहीं हमलावर अंतरा का कोई जानकार तो नहीं था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *