Man rapes adopted minor daughter, girl becomes pregnant

rapeGopalganj (Bihar): A man raped his adopted minor daughter. When the girl got pregnant, she informed her mother about it. They approached a doctor, but he refused to conduct abortion. On return, the girl tried to commit suicide by jumping before a train. After this GRP questioned the accused Vinod of Madhopur.

Meanwhile, the victim girl has been adopted by a charitable organization.

गोपालगंज. बिहार के गोपालगंज में एक शख्स ने गोद ली हुई बेटी के साथ रेप कर उसे प्रेग्नेंट कर दिया। घटना के बाद लड़की ने ये बात अपनी रियल मां को बताई जिसके बाद वो डॉक्टर के पास पहुंचे। यहां डॉक्टर ने अबॉर्शन करने से इनकार कर दिया। यहां से लौटने के दौरान लड़की ने ट्रेन के आगे कूद सुसाइड की कोशिश की। जब जीआरपी ने सवाल जवाब किया तो मामले की खुलासा हुआ। जानिए क्या है पूरा मामला...
– लड़की सीवान के जामो थाना क्षेत्र के लालाहाता गांव की रहने वाली है।
– लड़की का आरोप है कि आरोपी मनोज यादव और उसकी पत्नी शारदा उसे बेटी बनाकर घर ले गए थे।
– यहां आरोपी ने लड़की के साथ नशे में रेप किया। जब लड़की ने ये बात अपनी मुंहबोली मां को बताई तो उसने कुछ नहीं कहा।
– इसके बाद आरोपी जब-तब लड़की का रेप करने लगा।
– लड़की के मुताबिक, इसी बीच वो प्रेंग्नेंट हो गई जिसके आरोपी और उसकी पत्नी ने उसे घर से निकाल दिया।

केस ट्रांसफर होने में लग गए एक साल

– लड़की की मां ने बताया कि ट्रेन से जख्मी होने के बाद लड़की को गंभीर हालत में रेलवे पुलिस ने अस्पताल में भर्ती कराया।
– गोरखपुर में ही युवती के बयान पर प्राथमिकी दर्ज कर हुई। इधर केस के ट्रांसफर होने में एक वर्ष लग गए।
– बुधवार को केस ट्रांसफर हो महिला थाने में पहुंचने पर युवती ने माधोपुर के आरोपी पति-पत्नी के विरुद्ध प्राथमिकी दर्ज करवाया।
– इसके बाद संस्था के मंत्री- प्रबंधक के साथ गोरखपुर को चली गई।
– महिला थानाध्यक्ष सरिता कुमारी ने बताया कि प्राथमिकी दर्ज कर लिया गया है। आरोपित की गिरफ्तारी के लिए पुलिस छापेमारी कर रही है।

विकलांग प्रशिक्षण संस्थान के मंत्री प्रबंधक ने लिया गोद

– माधोपुर के विनोद का शिकार हुई युवती को गोरखपुर के गोरखनाथ लक्ष्छीपुर राजेन्द्र नगर स्थित सरजू देवी विकलांग प्रशिक्षण संस्थान के मंत्री प्रबंधक ने गोद लिया है।
– साथ लेकर महिला थाने पहुंचे मंत्री प्रबंधक ने महिला थानाध्यक्ष सरिता कुमारी को लिखित आवेदन दिया कि उसे बेटी की तरह रखते हुए उसकी शादी करवाएंगे।
– जब भी थाना द्वारा उसे बुलाया जाएगा। उन्होंने बताया उक्त युवती मिरगी रोग से ग्रसित है। जिसका लखनऊ से इलाज चल रहा है। महिला थानाध्यक्ष ने आवेदन लेने के बाद उसे मंत्री प्रबंधक के सुपुर्द कर दिया।

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *