Three years old child claims rebirth in Bhutan Royal family

janmRajmata of Bhutan Doji Ongchuk visited ancient Nalanda University at Rajgir in Bihar along with her family. She said that her grandson Jigmi Jiten Ongchuk used to utter word Nalanda University since he was one year old. On growing older at 3 years, he said that this is his rebirth and he had pursued education in Nalanda University in previous Janm.

He also gave details about his stay at in Nalanda University in previous Janm. Rajmata said that she is astonished that the descriptions given about things and places at Nalanda by the child are same and there is not difference between them.

bhutanराजगीर.भूटान की राजमाता दोजी ओंगचुक शनिवार को प्राचीन नालंदा विवि का भग्नावशेष देखने नालंदा पहुंचीं। वहां से लौटकर महारानी ने बताया कि उनका नाती जिग्मी जिटेन ओंगचुक जब एक साल का था तब से ही प्राचीन नालंदा यूनिवर्सिटी का नाम लेता था। पहले तो हम सभी को कुछ समझ में नहीं आया। जब कुछ और बड़ा हुआ तो उसने बताया कि पिछले जन्म में उसने यहां पढ़ाई की है। जानिए क्या है पूरा मामला...

– नालंदा खंडहर में जब राज माता परिवार के साथ पहुंची तो वहां उनके नाती जिग्मी जिटेन ओंगचुक ने कुछ अलग ही गतिविधि शुरू कर दी।

– वह खंडहर में मौजूद विभिन्न अवशेषों और संरचनाओं के बारे में बताने लगा। यहां तक कि उसने यह भी बताया कि पिछले जन्म में वह किस कमरे में पढ़ाई करता था।

– पहले तो उसने काफी भाग-दौड़कर कमरे का भग्नावशेष खोजा। उसके बारे में जानकारी दी कि वह यहीं पढ़ता था। उसने सोने वाला कमरा भी दिखाया।

भूटान में जो बताया था, सब कुछ वैसा ही मिला

– राज माता और उनके साथ आए लोगों को स्तूप सहित कई ऐसी संरचनाएं देखने को मिली जिसके बारे में वह भूटान में बताया करता था।

– वहां वह एक रास्ते और ऊंची जगह के बारे में बताता था। यहां आकर उसे भी खोज लिया।

– महारानी ने बताया कि भूटान में वह जो भी बताता था उसकी सारी बातें यहां सच निकल रही है।

– उन्होंने बताया कि वह भूटान में यहां आने के लिए जिद भी करता था। वह आठवीं शताब्दी के बारे में सारी बात बताता है।

– बता दें कि राजमाता के साथ इस दौरे पर पुत्री सोनम देझेन ओंगचुक और तीन साल का नाती जिग्मी जिटेन ओंगचुक और इसका छोटे भाई सहित 16 सदस्यीय दल है।

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *