Journalist found dead, father files FIR against GF

murderHazaribagh (Jharkhand): Body of Hindi newspaper journslist Hari Prakash was found near overbridge of railway station. In the suicide note, he wrote to his mother to see his diary to know how he was cheated. Following this, his father Jeetan Mahto has filed an FIR against the girlfriend Preeti Agrawal and others in Katkamdag police station.

हजारीबाग (झारखंड) यहां रेलवे स्टेशन के ओवरब्रिज के समीप एक हिंदी अखबार के जर्नलिस्ट हरिप्रकाश का शव सोमवार की सुबह मिला। घटनास्थल से पुलिस ने एक पन्ने का सुसाइड नोट, सल्फास का डब्बा और प्रेस कार्ड बरामद किया है। सुसाइड में हरिप्रकाश ने अपनी मां को लिखा है कि ‘मैं कैसे फंसा इसकी कहानी अपनी डायरी में लिखी है, जो घर के अलमारी में है।’ पिता ने गर्लफ्रेंड सहित अन्य के खिलाफ दर्ज कराया हत्या का मामला...

– इस संबंध में जर्नलिस्ट के पिता जीतन महतो ने कटकमदाग थाने में अपने पुत्र का अपहरण कर हत्या कर देने का मामला दर्ज कराया है।

-जहां से बॉडी मिली है, वह स्थान उनके घर से 4 किलोमीटर दूर है। एफआईआर में जर्नलिस्ट की गर्लफ्रेंड प्रीति अग्रवाल और अन्य को आरोपी बनाया गया है।

-पुलिस ने सदर अस्पताल में मेडिकल बोर्ड से पोस्टमार्टम कराने के बाद परिजनों को शव सौंप दिया। पोस्टमार्टम में मृतक का बिसरा को प्रिजर्व किया गया है।

क्या है एफआईआर में ?

-पत्रकार के पिता ने एफआईआर में लिखा है कि उनका पुत्र हरि प्रकाश 30 दिसंबर को दो बजे दिन में ऑफिस जाने की बात कहकर घर से निकाला था।

-रात को वापस नहीं लौटने के बाद परिजन उसके खोजबीन में लगे हुए थे। इसी क्रम में दो जनवरी 17 को सुबह में जानकारी मिली कि हजारीबाग रेलवे स्टेशन के समीप उसका शव पड़ा है।

-उन्हें आशंका और यकीन है कि हरि प्रकाश की हत्या कर शव को रेलवे ब्रिज के समीप फेंक दिया गया।

-हजारीबाग सदर अस्पताल में कार्यरत काउंसलर प्रीति अग्रवाल जो हरि प्रकाश की गर्लफ्रेंड है, उसके साथ उसकी अनबन चल रही थी।

-10 दिन पूर्व उसने हरि प्रकाश को गवाह बनाकर सदर थाना में कांड संख्या 1045/16 दर्ज कराया था।

-इसमें प्रीति ने टाटीझरिया निवासी वर्तमान पता लाखे निवासी मो. ईस्माइल उर्फ बबलू पर छेड़छाड़ व मारपीट करने का आरोप लगाया था। उस आवेदन में हरि प्रकाश को गवाह के रूप में जिक्र किया गया है।

-पिता ने एफआईआर में कहा है कि ऐसा प्रतीत हो रहा है कि प्रीति अग्रवाल की छवि अच्छी नहीं है और वो उनके बेटे को उक्त केस को लेकर धमकी दे रही थी, जिसे लेकर हरि प्रकाश ने अपने घर में भी जान को लेकर खतरा बताया था।

-उसने कहा था कि वह महिला उसे मरवा देगी या एड्स का इंजेक्शन लगवा देगी। पिता का आरोप है कि प्रीति अग्रवाल व उनके सहयोगियों ने मिलकर पहले हरि प्रकाश का अपहरण किया फिर उसकी हत्या कर शव को स्टेशन समीप फेंक दिया।

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *