NRI father murdered by son on being disowned from property, blast cylinder to evade police

murderAn ex-merchant navy sailor allegedly murdered his father by slitting his throat before trying to take his own life by setting off an LPG cylinder explosion, leaving 10 policemen injured, in east Delhi’s Madhu Vihar area, police said today.

The decased, Ravinder Matta, had disowned his son Rahul “because of bad conduct”, and also got him banned from entering the society where he lived.

Rahul however managed to gain entry to his father’s apartment and murdered him by slitting his throat. The accused’s mother was not present at home the time of the incident, police said.

Decease Ravindra Mata
Decease Ravindra Mata

Meanwhile, a PCR call was made and when police reached the spot and tried to catch hold of him, Rahul fled to another flat and attacked its occupant, police said.

While police tried to overpower him, he ran to the kitchen, bolted the door from inside and opened the gas connection. When police managed to break open the door, he lit a matchstick, triggering an explosion.

Three sub-inspectors were severely injured and seven others sustained minor injuries while the accused Rahul, who had been dismissed from Merchant Navy, also sustained burn injuries to his hand.

जायदाद से बेदखल करने पर NRI पिता का मर्डर, पुलिस से बचने के लिए एक्टर के फ्लैट में आरोपी ने किया सिलेंडर ब्लास्ट

राहुल माटा को छेड़छाड़ के आरोप लगने पर मर्चेंट नेवी से निकाल दिया गया था। -फाइल

नई दिल्ली.जायदाद से बेदखल करने पर ईस्ट दिल्ली के मधु विहार इलाके में बेटे ने पिता का चाकू से मर्डर कर दिया। बीच-बचाव करने वाले पड़ोसियों पर हमला किया। पुलिस से बचने के लिए आरोपी ने खुद को एक्टर वीके शर्मा के फ्लैट में बंद कर लिया। एक्टर को बाहर निकालने के बाद पुलिस टीम अंदर घुसने की कोशिश कर रही थी, तभी आरोपी ने किचन में सिलेंडर ब्लास्ट किया। इसमें आरोपी समेत 11 पुलिसवाले जख्मी हो गए। महिला को घर में साथ रखना चाहता था आरोपी…

– पुलिस के मुताबिक, मधु विहार के अजंता अपार्टमेंट के फ्लैट नंबर-32 में कुछ दिन पहले तक राहुल माटा मां के साथ रहता था। पहले वह मर्चेंट नेवी में नौकरी करता था, लेकिन छेड़छाड़ के आरोप लगने पर उसे निकाल दिया गया।

– बताया जा रहा है कि राहुल एक महिला को घर में रखना चाहता था। इस महिला के पहले से ही दो बच्चे थे। महिला से संबंध रखने और प्रॉपर्टी में हिस्सा मांगने पर मां से उसका अक्सर झगड़ा होता था।

– राहुल के एनआरआई पिता रविंद्र माटा और छोटा भाई कनाडा में नौकरी करते हैं। आरोप है कि राहुल मां से मारपीट करता था, जिसके वीडियो देखकर अक्टूबर में रविंद्र पत्नी से मिलने दिल्ली आए थे।

– पिता ने दिल्ली पुलिस में राहुल के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई थी। उसे घर से निकाल दिया था और सोसाइटी में एंट्री बैन करा दी थी। जिसके बाद से राहुल, उस महिला और बच्चों के साथ पांडव नगर में रहने लगा था।

दोनों हाथों में छुरे लेकर आया था आरोपी

– चश्मदीदों ने बताया कि रविवार दोपहर राहुल दोनों हाथों में छुरे लेकर सोसाइटी के गेट पर आया। वहां अचानक उसके पिता भी आ गए, राहुल ने उनका गला रेता और कई वार किए। फिर वह मां को मारने के लिए फ्लैट की ओर भागा, लेकिन मां ने गेट नहीं खोला।

– चीख-पुकार सुनकर पड़ोसी रेणु बंसल आईं तो उन पर भी अटैक किया। पुलिस से बचने के लिए वह एक्टर वीके शर्मा के फ्लैट नंबर-35 में घुस आया। शर्मा ने तेवर फिल्म में सोनाक्षी के पिता का रोल किया है।

एक्टर के फ्लैट में किया सिलेंडर ब्लास्ट

– वीके शर्मा ने बताया, ”राहुल ने कहा मैंने पिता का मर्डर कर दिया है, शोर मचाया तो तुम्हें भी मार दूंगा। उसने मुझे बाथरूम में जाने को कहा, लेकिन मैंने खुद को एक कमरे में बंद कर लिया। पुलिस की मदद से नीचे आ सका। उसे काबू करने के लिए पुलिस की टीम अंदर जाने की कोशिश कर रही थी। तभी मेरे फ्लैट में उसने सिलेंडर ब्लास्ट कर लिया।”

आरोपी भी 40 फीसदी झुलसा

– डीसीपी ओमवीर बिश्नोई ने बताया, ”शुरुआती जांच में पता चला है कि बेटे की गलत हरकतों के चलते रविंद्र माटा ने उसे जायजाद से बेदखल कर दिया था। बेटे के खिलाफ एक शिकायत भी पुलिस को दी थी। इसी के चलते राहुल पिता से नाराज था।”

– ”राहुल की दिमागी हालत ठीक नहीं है, उसे मर्चेंट नेवी से भी निकाला गया था। पुलिसकर्मियों के साथ राहुल भी 40 फीसदी झुलसा है।”

छेड़छाड़ के केस में जेल जा चुका है राहुल

– पड़ोसियों का दावा है कि पिछले साल जुलाई में अपार्टमेंट की कुछ लड़कियों से राहुल ने छेड़छाड़ की थी, वह जेल भी जा चुका है।

– एक बार जब कनाडा गया तो वहां भी रेप के आरोप लगे और वहां दो साल जेल हुई। बाद में सरकार ने राहुल को भारत भेज दिया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *