Woman, two children burnt to death mysteriously, chitaa was made in house

murderMaihar (Satna): A woman Vindeshwari Devi along with her two kids Srishti (8) and Vivek (10)) were found burnt to death mysteriously. Their bodies were found on a chitaa (pyre) made in the house itself. A plastic chair was also kept on the pyre. At the time of incident, her husband Kamlesh Gautam had gone to drop her sister to her house. Police is assuming a case of murder and has arrested father-in-law Rajendra Gautam.

सतना।MP के सतना जिले के मैहर में मंगलवार सुबह एक मां और उसके दो बच्चों की जली हुई लाश मिली है। पुलिस को घर के अंदर बकायदा लकड़ियों और कंडों की चिता बनी मिली। चिता के ऊपर रखी गई प्लास्टिक की कुर्सी पर बॉडी चिपकी पाई गईं। महिला ने ऐसा कदम क्यों उठाया, फिलहाल रहस्य बना हुआ है। ससुर को संदिग्ध मानकर पुलिस ने लिया हिरासत में…

पति गया था साली को छोड़ने..

-मैहर थाना के प्रभारी एचएल महतेल(SI) के मुताबिक, यहां से करीब 5-6 किमी दूर स्थित पहाड़ी गांव में रहने वाले कमलेश गौतम की पत्नी विंदेश्वरी अपने दो मासूम बच्चे सृष्टि(8) और विवेक(10) के संग घर में जलती मिली।

-मौके पर जब पुलिस पहुंची, तब तीनों की मौत हो चुकी थी। महिला की शादी 12 साल पहले हुई थी।

-मृतक का पति कमलेश सुबह करीब 8.30 बजे अपने साले विक्की दुबे की पत्नी पूजा देवी को अपनी ससुराल छोड़ने समीपवर्ती हर्रई गांव गया हुआ था।

-करीब 11.30 बजे जब आसपड़ौस के लोगों ने घर से धुंआ उठते देखा, तो वे आग बुझाने पहुंचे।

-घर का दरवाजा अंदर से बंद था। दरवाजा तोड़कर आग बुझाई गई, लेकिन तक तक मां और दोनों बच्चों की मौत हो चुकी थी।

RELATED

18 तारीख को 42 की हो जाएगी डॉन की GF, इस शहर में जेल में भी था जलवा

13 जनवरी को विवेक का जन्मदिन मनाया गया…

-13 तारीख को विवेक का 10वां जन्मदिन मनाया गया था। कमलेश की साली पूजा के अलावा और भी कई मेहमान घर आए थे।

-कमलेश का अपने दो भाइयों हरिशंकर और शिवशंकर से प्रॉपर्टी को लेकर विवाद चल रहा है। इसलिए इन दोनों के अलावा उसके मां-बाप राजेंद्र गौतम और रामअवतारी जन्मदिन पार्टी में नहीं आए थे।

-राजेंद्र गौतम कमलेश के घर से कुछ ही दूरी पर एक अलग घर में रहता है। दो दिन पहले विंदेश्वरी का अपनी सास से पारिवारिक विवाद भी हुआ था।

-कमलेश मंगलवार सुबह करीब 8.30 बजे साली पूजा को छोड़ने निकला, तभी उसके पीछे यह घटना हुई। घटना के वक्त विवेक स्कूल यूनिफार्म में था।

जैसे पहले से ही चिता बनाकर रखी गई हो…

-पुलिस के मुताबिक, प्रथम दृष्टया यह मामला संदिग्ध नजर आ रहा है। दरअसल, घर में बकायदा चिता बनाई गई थी। उसके ऊपर प्लास्टिक की कुर्सी रखी गई थी, जिसकी बॉडी चिपकी मिलीं।

-आसपड़ोस के लोगों ने घर से धुंआ उठते देखा, लेकिन किसी के चीखने-चिल्लाने की कोई आवाज नहीं सुनी।

-पुलिस का मानना है कि अगर महिला ने खुद चिता बनाई होती, तो जलने पर चीखने-चिल्लाने की आवाज जरूर होती।

-आशंका है कि, तीनों को मारने के बाद चिता पर बैठाया गया। प्लास्टिक की कुर्सी इसलिए रखी ताकि, आग बुझे नहीं। समीप ही दो सिलेंडर भी रखे हुए थे, हालांकि वे फटने से बच गए।

-घटना की जानकारी लगते ही विंदेश्वरी का एक अन्य भाई बेहसच दुबे गांव पहुंचा। उसने आरोप लगाया कि, उसकी बहन को मारा गया है।

-पुलिस मामले की जांच में जुट गई है। ससुर राजेंद्र गौतम को संदिग्ध मानकर हिरासत में लिया गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *