14 years old female wrestler defeats 35 years old male wrestler like Dangal girls

female wrestlerHisar »Haryana » » Gold Medalist Wrestler 14 years old female wrestler Ritu Verma has defeated a 35 years old male wrestler. She is also from Haryana and her story is also like Dangal girls. After winning national wrestling championship at Dewas, she threw challenge to the male wrestler. Her challenge was accepted by Maharashtra’s wresting coach. To astonishment and pleasant surprise of spectators, Ritu beat the male wrestler within minutes. Ritu has been national champion in Sambo as well as judo and fencing.

14 साल की लड़की ने 35 साल के रेसलर को किया चित, दंगल गर्ल जैसी है स्टोरी

हिसार।म्हारी छोरियां छोरों से कम है के। दंगल फिल्म का ये डायलॉग आपने सुना ही होगा। बलाली की पहलवान बहनों की जिंदगी से जुड़ी ये फिल्म आने के बाद हरियाणा की और बेटियां भी दंगल जीत रही हैं। नया कीर्तिमान रचा है हिसार की 14 साल की रितु वर्मा ने। 14 साल की लड़की ने 35 साल के पहलवान ने किया चित…

– उज्जैन के देवास में 13 से 15 जनवरी तक हुई सैंबो नेशनल चैंपियनशिप में रितु ने गोल्ड मेडल जीतने के बाद अोपन चैलेंज दे डाला।

– महज 14 साल की रितु के चैलेंज पर हर कोई हैरत में था। तभी रिंग में महाराष्ट्र के नेशनल कोच उतरे और रितु के साथ मैच खेलने शुरू कर दिया।

– मगर सबसे ज्यादा हैरतंगेज वाकया तो तब हुआ जब रितु ने 35 साल के नेशनल पुरुष कोच को कांटे की टक्कर दी और मैच जीत लिया।

– रिंग के बाहर खड़े दर्शकों को एक बार तो यकीन नहीं हुआ मगर इसके बाद तालियों की गड़गड़ाहट रुकने का नाम नहीं ले रही थी। हारने वाले कोच भी भौंचक रह गए।

फिल्म देख किया ऐसा कमाल

– रीतु इस खुली चुनौती और जीत की प्रेरणा फिल्म को ही मानती है। उसने बताया कि मूवी देखने बाद उसने भी ऐसा करने की ठानी।

– सिर्फ गोल्ड मेरे लिए काफी नहीं था, सो खुली चुनौती दे दी। और जीती भी। रितु ने बताया कि उसके पापा उमेद वर्मा कैब ड्राइवर हैं और मां दर्शना ब्यूटी पार्लर चलाती हैं।

– मगर अब ठान लिया है कि मुझे उनका बेटा बन घर के हालात बदलने हैं, अब पापा नहीं हम कमाएंगे और वो आराम करेंगे।

रितु को 3 खेलों में महारथ हासिल

– महावीर कॉलोनी निवासी व राइजिंग सन पब्लिक स्कूल की नौंवी कक्षा में पढ़ने वाली खिलाड़ी रितु सैंबो के अलावा फैनसिंग और जूडो भी खेलती है।

– तीनों ही खेलों में रितु नेशनल खेल चुकी है। सैंबो खेल रेसलिंग की तरह ही होता है और इसमें प्वाइंट्स लेने के नियम भी इसी तरह होते हैं।

बहन भी नेशनल प्लेयर, दोनों एक साथ करती हैं अभ्यास

– नेशनल प्लेयर रितु वर्मा की बड़ी बहन दसवीं की छात्रा मीनाक्षी वर्मा भी जूडो प्लेयर है। दो नेशनल गोल्ड मेडलिस्ट हैं।

– मीनाक्षी भी सैंबो की नेशनल प्लेयर है। हालांकि 12वीं में पढ़ रहे उनके बड़े भाई शुभम की खेलों में कम रुचि है।

कोच बोला, कोशिश तो बहुत की, पर हारा कैसे, समझ से बाहर

– रितु ने बताया कि हारने के बाद कोच ने पीठ थपथपाई और कहा कि मैंने कोशिश तो की थी, पर मैं हार कैसे गया यह बात मुझे समझ नहीं आई।

– हरियाणा की बेटियां वाकई में मजबूत होती है, यह सुना था मगर आज देख भी लिया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *