21 years old daughter burns self due to shock of father’s death, sister also injured

suicideA 21 years old daughter Pinky Kumari (21) burned self due to shock of father’s death. Her sister Shobha (19) also got burnt in saving her. Both have been rushed to hospital in critical condition. Their father (Suresh Yadav) (70) died at about 6 pm. His body was kept in the house when the daughter went upstairs and took this extreme step.

नीचे थी पिता की लाश, छत पर बेटी केरोसिन डाल कर रही थी सुसाइड की कोशिश

भागलपुर.आदमपुर के कोयला घाट में पिता के निधन के सदमे में आकर बेटी पिंकी कुमारी (21) ने केरोसिन डाल खुद को आग लगा ली। पिंकी को जलते देख उसे बचाने गई छोटी बहन शोभा (19) भी बुरी तरह से झुलस गई। घटना मंगलवार शाम सात बजे की है। दोनों को इलाज के लिए मायागंज अस्पताल में भर्ती कराया गया। डॉक्टरों के मुताबिक, दोनों बहनों का शरीर पचास प्रतिशत झुलस चुका है और हालत नाजुक है। जानिए क्या है पूरा मामला…

– बेहतर इलाज के लिए दोनों को हायर सेंटर रेफर कर दिया गया है। इस घटना से मोहल्ले के लोग स्तब्ध हैं।

– पुलिस ने बताया कि छोटी खंजरपुर में मिठाई की दुकान चलाने वाले सुरेश यादव (70) की शाम में छह बजे हार्ट अटैक से मौत हो गई।

– पिता की लाश घर के दालान पर पड़ी थी और सदमे में आकर सुरेश की बेटी पिंकी ने छत के ऊपर के किचन में जाकर खुद पर केरोसिन उड़ेल लिया और आग लगा ली।

– पिंकी को जलते देख उसकी छोटी बहन शोभा बचाने गई, लेकिन शोभा के ऊलेन कपड़े में आग पकड़ लिया और वह भी जलने लगी।

– दोनों बहनों को जिंदा जलते देख घरवाले घबरा गए। आसपास के लोगों की मदद से किसी तरह दोनों बहनों को बचाया गया और इलाज के लिए मायागंज अस्पताल ले जाया गया।

परिजनों ने कहा, सदमा बरदाश्त नहीं कर पाई थी

घटना की जानकारी मिलते ही आदमपुर थानेदार रोहित कुमार सिंह, दारोगा उत्तम कुमार मौके पर पहुंचे और परिजनों से पूरे मामले की जानकारी ली। परिजनों ने भी बताया कि पिंकी ने सदमे में आकर खुद को आग लगाई थी।

पांच साल पहले हो चुकी है मां की मौत

– परिजनों ने बताया कि पिंकी बीए पार्ट-3 में पढ़ती है, जबकि शोभा बीए पार्ट-2 में। दोनों एसएम कॉलेज की छात्रा है।

– भाई दिनेश यादव ने बताया कि मां का निधन पांच साल पहले ही हो चुका है। पिंकी की शादी भी तय हो चुकी है।

– इसी बीच मां के बाद अब पिता की मौत का सदमा पिंकी बर्दाश्त नहीं कर पाई, इस कारण वह घर की पहली मंजिल पर पहुंचकर खुद को आग लगाकर आत्महत्या का प्रयास की।

नीचे पिता की लाश, छत पर बेटी कर रही थी आत्महत्या का प्रयास

 

– कोयला घाट मोहल्ले में मिठाई दुकानदार सुरेश यादव के निधन पर उसकी बेटी द्वारा आत्महत्या का प्रयास किये जाने की घटना से हर कोई दु:खी है।

– सुरेश के इकलौते पुत्र दिनेश यादव ने बताया कि मेरी मां का निधन पांच साल पूर्व ही हो चुका है और अब पिता जी चल बसे।

– नीचे पिता की लाश पड़ी थी अौर छत पर मेरी बहन पिंकी आत्महत्या का प्रयास कर रही थी। पिता की मौत का सदमा वह बर्दाश्त नहीं कर सकी।

– दिनेश ने कहा कि मां-पिताजी के चले गए तो क्या हुआ, मैं अभिभावक बन दोनों को देखूंगा। परिजनों ने बताया कि सुरेश ने कुछ दिन पूर्व ही तारापुर में पिंकी की शादी तय की थी।

– सबकुछ फाइनल हो चुका था, बस तिलक होने की देरी थी अौर शादी की तिथि मुकर्रर होनी थी। लेकिन इससे पहले ही पिंकी ने खुद को जिंदा जला डाला।

– बहन को जलते देख शोभा भी आग में कूद गई। सुरेश की छह बेटियां है, जिसमें चार की शादी हो चुकी है। बस पिंकी और शोभा बची थीं।

– आदमपुर थानेदार को मौके पर केरोसिन का खाली डिब्बा मिला। किचन भी अस्त-व्यस्त था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *