Suicide note recovered from under-garment of newly wed girl

brideAllahabad: A newly married girl committed suicide at Rajroop Pur under Dhumanganj police station. A suicide note was recovered from under-garment saying that she was unhappy that she was married to a man she did not like and denied marriage with a youth of her choice.

Deceased Suman (19) was a student of BA in nearby degree college. She was married to Saurabh, who pursuing education of LLb.

PM के दौरान नवविवाहिता के अंडर गारमेंट से मिला सुसाइड नोट, लिखी थी ये बातें

24 नवंबर 2016 को हुई थी शादी।

इलाहाबाद. एक नवविवाहिता ने रविवार-सोमवार की रात फांसी लगाकर खुदकुशी कर ली। पोस्‍टमॉर्टम के दौरान उसके अंडर गारमेंट से एक सुसाइड नोट मिला है, जिसमें उसने अपनी पीड़ा बयां की है। सुसाइड नोट में लिखा है, ‘जो लड़का मुझे पंसद था, उसके बजाय परिवार वालों ने किसी दूसरे लड़के के साथ जबरन शादी करा दी। इससे जिंदगी उसे बोझ लगने लगी है।’ दूसरी ओर, मृतका के भाई ने उसके पति पर हत्‍या करने का आरोप लगाया है। आगे पढ़िए क्‍या है पूरा मामला…

-घटना इलाहाबाद के धूमनगंज थानाक्षेत्र के राजरूपपुर मोहल्ले की है।

-पड़ोसी जिला कौशाम्बी के मोहब्बतपुर पइंसा थानाक्षेत्र के मसहायपुर गांव निवासी स्व. रावेन्द्र कुमार पांडेय के एक बेटा दिलीप कुमार पांडेय और तीन बेटियां शालिनी, सुमन और गुड्डी थी।

-सुमन (19) घर के नजदीक स्थित एक डिग्री कॉलेज से बीए सेकेंड ईयर की स्‍टूडेट थी।

-उसकी शादी 24 नवंबर 2016 को इलाहाबाद जिले के धूमनगंज थानाक्षेत्र के राजरूपपुर निवासी सौरभ दुबे के साथ हुई थी।

-सुमन के भाई दिलीप पांडेय ने बताया कि उसे बताया गया था कि सौरभ एलएलबी की पढ़ाई कर रहा है, लेकिन शादी के बाद पता चला कि वह झूठी बात थी।

-वह पढ़ाई न करके प्राइवेट नौकरी कर रहा है। उसके पिता हर्षनाथ दुबे फतेहपुर में लेखपाल के पद पर कार्यरत हैं। शादी के बाद से ही उसकी बहन को प्रताड़ित किया जाता था।

-एक हफ्ते पहले सुमन ने फोन किया था। तब ठीक से बात नहीं हो पाई थी। वह रो रही थी।

-उस वक्त उसका पति वहां मौजूद था और उससे मोबाइल छीन लिया था। उसे मोबाइल से बात नहीं करने दिया जाता था।

जब दिलीप गया सुमन के घर

-कई दिन बीत जाने की वजह से जब बात नहीं हो पाई तो 23 जनवरी को वह (दिलीप) दोपहर में सुमन की ससुराल पहुंच गया।

-उस समय घर पर उसके ससुर हर्षनाथ दुबे भी मौजूद थे, जो घर के दूसरे तल पर थे।

-उसने आवाज लगाई तो हर्षनाथ दुबे बाहर निकले। उन्हें देखकर दिलीप छत पर चला गया।

-वहां पता चला कि उसकी सास रेखा पांडेय पड़ोस में पूजा में गई हैं। पति सौरभ अपने काम पर गया है।

-जब उसने बहन सुमन को आवाज लगाई तो वह नहीं बोली। उसके बाद दिलीप उसके ससुर हर्षनाथ के साथ नीचे आया और बहन के कमरे के दरवाजे पर दस्तक दी, लेकिन दरवाजा अंदर से बंद था।

-उसने खिड़की से झांका तो अवाक रह गया। अंदर सुमन पंखे के कुंडी में साड़ी के फंदे से लटक रही थी। उसने पुलिस को खबर दी।

-पुलिस पहुंची और शव को फंदे से नीचे उतारकर पूछताछ की। उसके बाद देर मंगलवार शाम शव का पंचनामा करके पोस्‍टमॉर्टम के लिए भेज दिया। उस वक्त तक सुसाइड नोट नहीं मिला था।

पोस्‍टमॉर्टम के दौरान अंडर गारमेंट से मिला सुसाइड नोट

-जब सुमन को पोस्टमॉर्टम के लिए खोला गया तो उसकी अंडरवीयर में एक कागज का टुकड़ा मिला, जिसमें उसने अपनी मां के नाम एक लेटर लिखा था, जिसमेंं अंतिम में वाक्य अधूरा छूट गया है।

-इंस्पेक्टर धूमनगंज बीआर सिरोही ने बताया कि सुसाइड नोट में लिखा था कि सुमन किसी और से प्यार करती थी, लेकिन परिवार के लोग उसकी पसंद के बजाय किसी और से शादी कर दिए, जिससे वह असंतुष्ट थी।

-उसका पति से आए दिन झगड़ा हो रहा था। दो-तीन दिन से वह किसी से बातचीत नहीं करती थी।

-ज्यादातर अपने कमरे में बंद रहती थी, इसलिए किसी ने ध्यान नहीं दिया। अंतिम बार वह रविवार रात में खाना खाने निकली थी। उसी रात में ही फांसी लगा लिया था।

-हालांकि, उसके भाई दिलीप पांडेय ने उसके पति पर दहेज हत्या का आरोप लगाया है। उसने इस संबंध में धूमनगंज थाने में लिखित तहरीर भी दी है। उसके इस कदम से परिवार में मातम छा गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *