Two wives had deserted, third wife deserted him then man cuts her throat

murderBhopal; A man Ram Babu Kalawat, resident of Maseedpur, slit throat of her third wife with a sword when she refused to accompany him to his house. Ram Babu had earlier married twice, but both the wives had deserted him. On April 14, 2016, he married 19 years old Bhuri Bai (19). Disputes between them started soon after marriage. On January 24, 2017, Bhuri Bai left home for marriage of her younger sister, but did not return home and started living separately. Ram Babu had gone to bring her. When she refused, he attacked her with sword killing Bhuri Bai on the spot.

दो पत्नियां भागी तो ले आया तीसरी, जब उसने भी छोड़ा साथ तो किया ये हाल

भोपाल.पत्नी के ससुराल न आने से युवक ने तलवार से उसकी गला काटकर हत्या कर दी। पत्नी की दादी को भी आरोपी ने निशाना बनाया। जब इस वारदात को अंजाम दी तो आस-पड़ोस के लोग घर के बाहर जमा होकर चीख सुन रहे थे, लेकिन किसी ने भी महिला को बचाने की हिम्मत नहीं जुटाई। पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है। पहले ही भाग चुकी थी 2 बीवियां…

– टीआई प्रवीण चौहान ने बताया कि महिला नपं कार्यालय के पास स्थिति लक्ष्मी निवास में रह रही थी। आरोपी रामबाबू कलावत भी इसी क्षेत्र में रहता है।

– 14 अप्रैल 2016 को आरोपी का विवाह विदिशा जिले के मसीदपुर निवासी भूरी बाई (19) से हुआ था, शादी के बाद से ही दोनों के बीच विवाद चल रहा था।

– 24 जनवरी को भूरी की छोटी बहन की शादी हुई थी। इस वजह से वह अपने मायके चली गई थी।

– आरोपी लेने पहुंचा तो महिला ने साथ आने से इंकार कर दिया और स्वयं ही एक रिश्तेदार अनीता के यहां अपनी दादी सूरज बाई के साथ आकर रहने लगी।

– यहीं आकर उसने तलवार से उसकी हत्या कर दी। वहीं मृतका की मां रूपवती का कहना है कि हम तो बेटी को भेजना चाहते थे लेकिन वह खुद ही विवाद कर रहा था।

– आरोपी ने एक दिन पहले खुद को चाकू से जख्मी कर ससुर की भी थाने में शिकायत की थी। बाद में उसे समझाकर घर भेज दिया था।

कई बार मनाया पर नहीं मानी

– आरोपी रामबाबून ने बताया कि पहले भी दो शादी कर चुका हूं। दोनों पत्नी भाग चुकी थीं। मुश्किल से तीसरा विवाह हुआ था, लेकिन पत्नी रहना नहीं चाहती थी।

– कई बार मनाने की कोशिश की, लेकिन वह नहीं मानी। पत्नी मेरे साथ नहीं रहना चाहती थी। वह छोड़कर न चली जाए, इसलिए यह कदम उठाया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *