Foreigner woman falls in love with 70 years old sadhu, couple reaches court to marry

loveKasrawad (Madhya Pradesh): A devotee from Finland, who had been living in the ashram on the banks of river Narmada for last 8 years, fell in love with its 70 years old Mahant Anandpuri Siddho Baba. On Saturday, 59 years old devotee Tulsi Tarja Anelsee reached the court to marry.

Tulsa had come to India in year 2007. She had met Anandpuri Siddho Baba in Haridwar. Impressed by him, she came with him to his ashram at village Khal Buzurg. Anelsee has embraced Hindu religion. Her visa is valid till April, 2017 and efforts are being made to extend it.

विदेशी महिला का 70 साल के साधु पर आया दिल, शादी करने कोर्ट पहुंचा कपल

इंदौर/खरगोन. अध्यात्म के लिए नर्मदा किनारे बसे कसरावद के पास खलबुजुर्ग आश्रम में आना फिनलैंड (यूरोप) की महिला को रच-बस गया। 8 साल आश्रम में रही तो यहीं के महंत से लगाव हो गया। उसने महंत से शादी की इच्छा जताई। दोनों की सहमति हुई। शनिवार को दोनों वकील के साथ कोर्ट मैरिज करने के लिए जिला मुख्यालय पहुंचे। 2007 में भारत आई थी महिला…

– जिले के कसरावद क्षेत्र की खलबुजुर्ग मां नर्मदा आश्रम 70 वर्षीय महंत आनंदपुरी सिद्धो बाबा के साथ फिनलैंड (यूरोप) की 59 वर्षीय तुलसी तारजा एनेली कलेक्टोरेट पहुंची।

– महंत के वकील खंडवा निवासी सुरेशचंद्र वर्मा ने बताया दोनों अध्यात्म से जुड़े होने के चलते संपर्क में आए। विदेशी महिला तुलसी 2007 में भारत आई थी। महंत से हरिद्वार में मुलाकात हुई।

– उनसे प्रभावित होकर खलबुजुर्ग आश्रम में पहुंची। उसके बाद से महिला का आश्रम में आना-जाना लगा रहा। आठ साल से विदेशी महिला महंत के साथ आश्रम में ही निवास कर रही है।

– एनेली सनातनी संस्कृति से प्रभावित है। उसने हिंदू धर्म अपनाया और हिंदी भाषा भी सीखी। आश्रम में नियमित पूजा-अर्चना के साथ ही अन्य सेवा कार्य स्वयं करती है।

– शादी के लिए कोर्ट पहुंच कपल ने जरूरी कागजात तैयार किए, लेकिन पंजीयन अधिकारी नहीं होने से उन्हें लौटना पड़ा।

– वकील ने बताया विवाह के लिए आवेदन देंगे। यदि किसी को आपत्ति नहीं हुई तो 30 दिन के बाद दोनों विवाह में बंध जाएंगे। यहां कलेक्टोरेट में अफसर नहीं होने से दोनों खलबुजुर्ग लौट गए।

पासपोर्ट अधिकारी ने जांचे दस्तावेज

– विदेशी महिला के विवाह की सूचना मिलने पर पासपोर्ट अधिकारी सुरेश नरवरे कलेक्टोरेट पहुंचे और महिला के दस्तावेजों की जांच की।

– नरवरे ने बताया महिला 2007 से टूरिस्ट वीजा पर भारत में है। फिलहाल महिला का वीजा अप्रैल17 तक वैध है। विवाह के बाद वीजा की अवधि बढ़ाने की प्रक्रिया की जा सकती है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *