He married Bengali girl in US, brought to Bhopal, murdered and buried her under rostrum (chabutra)

murderBhopal: West Bengal police reach Bhopal in search of a missing girl following which her boyfriend revealed mystery of her disappearance. He confessed to having murdered here. After murder, he buried the body in his own house and constructed a rostrum to hide the crime. The house is situated in Govindpura area of Bhopal.

Accused Udyan Das had married Akansha Shwet in the US and later brought her to Bhopal. After sometime, disputes occurred between them. Fed up routine domestic fights, Uday Das murdered Akansha. Das is the son of a lady Indrani Das who have been DSP in Madhya Pradesh and Chhattisgarh.

murder2The West Bengal police reached Bhopal after an FIR was lodged by girl’s father at Bankura district in Bengal showing apprehension that she had been kidnapped to Bhopal by Udyan Das.

“Uday has confessed his crime but he is changing his statements. We are trying to verify the facts and get answers to many unanswered questions,” sub-inspector Ramesh Rai said on Friday.

Das told police they fought often as Akanksha used to talk to her ex-boyfriend. On December 27, they again had an argument and he strangled her.

He stuffed the body in a wooden box and poured cement on it. Das waited for the cement to dry up before building a concrete platform and fixing marble tiles over it.

 According to police, Akanksha, a resident of Bankura in West Bengal, met Das on a social media site in 2007 and left her home in June last, telling her parents she had got a job in New York. But, she came to Bhopal and started living with Das, who owns two luxury cars. Police are investigating the source of Das’s income as he doesn’t have a job but maintains a lavish lifestyle.

For a month, the woman remained in touch with her family, telling them she was in New York. But after July, her family didn’t hear from her. Her parents lodged a police complaint while her brother traced the location of his sister’s cellphone to Bhopal, police said.

Das was evasive about his relationship with Akanksha. He told police they got married in New York but changed the statement later to say the ceremony was held in a local temple. Das told police his father used to work for BHEL and his mother retired as a deputy superintendent of police. He also claimed to be an IIT-Delhi passout. But police will crosscheck his claims as he is changing statements repeatedly. Some neighbours told police that Das had locked his house and used to enter it through a window.

Murdered parents and buried bodies in Raipur house, says accused

Police said that Udyan Das  may have also murdered his parents seven years ago.

Sub-inspector Ramesh Rai said Udyan Das confessed during an interrogation session that he had murdered his parents and buried their bodies at a house in Shanti Nagar, Raipur, in 2010. He reportedly felt disturbed by the “parental interference” in his life.

“We have been informed that Das killed his parents here in Shanti Nagar. We will exhume their remains tomorrow in the presence of the Bhopal police and a forensic team,” said Raipur inspector general (IG) Pradeep Gupta.

 

बंगाल की लड़की से US में की कोर्ट मैरिज, फिर भोपाल में मर्डर कर लाश पर बनाया चबूतरा

भोपाल. सात महीने से लापता एक लड़की की तलाश में वेस्ट बंगाल पुलिस गुरुवार को भोपाल पहुंची। जिसके बाद उसके मर्डर का खुलासा हुआ। प्रेमी ने प्रेमिका से अमेरिका में कोर्ट मैरिज की, फिर दोनों भोपाल आकर रहने लगे। बाद में झगड़ों से तंग आकर आरोपी ने पत्नी का मर्डर कर दिया। इतना ही नहीं, उसने पत्नी की बॉडी को घर के अंदर दफन कर उसके ऊपर चबूतरा भी खुद ही बना दिया, ताकि किसी को शक न हो। पूछताछ में आरोपी ने अपना जुर्म कबूल किया है। आरोपी की मां मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ पुलिस में डीएसपी रह चुकी हैं। लड़की के पिता ने दर्ज करवाया था अपहरण का मामला…

– गोविंदपुरा थाने के सब-इंस्पेक्टर रमेश राय ने बताया कि वेस्ट बंगाल के बाकुरा डिस्ट्रिक्ट के रहने वाले देवेंद्र कुमार शर्मा की 28 साल की बेटी आकांक्षा श्वेत 24 जून 2016 से लापता थी।

– देवेंद्र ने बाकुरा थाने में अपनी बेटी के अपहरण का मामला दर्ज करवाया था।

– देवेन्द्र शर्मा को शक था कि आकांक्षा किसी उदय दास (32) नाम के लड़के के साथ भोपाल के गोविंदपुरा में रह रही है।

– लिहाजा आकांक्षा के पिता की निशानदेही पर बाकुर थाना पुलिस एमआईजी/62 सेक्टर 3-ए साकेत नगर गोविंदपुरा एड्रेस पर पहुंची और लोकल पुलिस की मदद से उदय दास को अरेस्ट कर लिया।

भोपाल में अकेले रहता था आरोपी

– आरोपी उदय दास के पिता का नाम पीके दास और मां का नाम इंद्राणी दास है।

– इंद्राणी दास पहले मध्य प्रदेश पुलिस और बाद में छत्तीसगढ पुलिस में डीएसपी रही हैं। वीके दास भेल में काम करते थे और फोरमैन पोस्ट से रिटायर हुए।

– आरोपी भोपाल में अकेले रहता था। बताया गया है कि उसके माता-पिता दिल्ली में रहते हैं।

 

2007 में हुई थी दोस्ती, न्यूयॉर्क में की थी कोर्ट मैरिज

– पुलिस के मुताबिक, आरोपी उदय दास ने बताया कि 2007 में उसकी दोस्ती आकांक्षा से हुई थी। जो बाद में प्यार में बदल गई।

– जून 2015 में उदय और आकांक्षा ने न्यूयाॅर्क (अमेरिका) में कोर्ट मैरिज कर ली थी।

– शादी के बाद से ही दोनों के बीच झगड़ा होने लगा। लिहाजा परेशान होकर उदय ने आकांक्षा की हत्या कर दी।

 

दीवार कूदकर आता-जाता था उदय

– आरोपी उदय के एक पड़ोसी ने बताया कि करीब दो महीने पहले उदय दास ने अपने घर में कांक्रीट का एक चबूतरा बनवाया था।

– चबूतरे को उदय ने बिना किसी लेबर की मदद लिए खुद ही बनाया था।

– उदय अक्सर चबूतरे के पास ही बैठा रहता था और किसी को उसके पास फटकने भी नहीं देता था।

– चबूतरा बनने के बाद वह अपने घर के मेन दरवाजे से अंदर आने के बजाए दीवार कूदकर अंदर आता-जाता था।

 

पड़ोसी ने जताया था शक

– पड़ोसी ने पुलिस को बताया कि करीब 4 महीने पहले उदय के साथ एक लड़की भी यहां रहती थी।

– दोनों के हाव-भाव देखकर लगता था कि दोनों बिना शादी किए साथ रह रहे थे।

– हालांकि कुछ दिनों बाद ही लड़की अचानक कहीं चली गई।

– पड़ोसी ने शक जताया था कि उदय ने लड़की की हत्या कर उसे अपने घर में दफना दिया और उसके ऊपर कांक्रीट का चबूतरा बना दिया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *