Bodies of two girls missing from Bhopal found at Bhedaghat in Jabalpur

drownedBhopal/Jabalpur: Bodies of two girls missing from Bhopal found at  Bhedaghat in Jabalpur. Both were from Maihar in Satna district and engineering students students at Bhopal. Kajal Singh and Neha Namdev were fast friend. Both came from poor families.

Mystery shrouds their death since they were assumed to be kidnapped. Intriguingly, when  missing complaint was filed and their mobiles were put on surveillance, their mobile location was found at Bhopal. However, their dead bodies were found in the river at Bhedaghat, which evokes suspicsion. Police is scouring their mobile call details to find further clues.

नदी में इस हालत में मिली 2 लड़कियों की लाश, फिर सामने आई ये कहानी

बायें से काजल सिंह और नेहा नामदेव। यूं मिली दोनों की लाश।

भोपाल/जबलपुर। माढ़ोताल स्थित इंजीनियरिंग कॉलेज में पढ़ने वालीं दो छात्राओं के मंगलवार को नर्मदा नदी के भेड़ाघाट के सरस्वती घाट पर शव मिलने से सनसनी फैल गई। दोनों सहेलियां 2 फरवरी से लापता थीं। दोनों की लाश साथ पढ़ती, रहती और खाती-पीती थीं…

भोपाल में भी मिली थी लोकेशन…

-काजल सिंह और नेहा नामदेव जबलपुर के माढ़ोताल स्थित इंजीनियरिंग कॉलेज में पढ़ती थीं।

-दोनों सहेलियों 2 फरवरी को कॉलेज के लिए निकली थीं, लेकिन उसके बाद घर नहीं लौटीं।

-उनकी गुमशुदगी की रिपोर्ट पुलिस में कराई गई थी।

-माढ़ोताल पुलिस के अनुसार, लड़कियों की लोकेशन पहले भोपाल में मिली थी। लेकिन मंगलवार सुबह दोनों की लाश भेड़ाघाट के सरस्वती घाट पर मिली।

-दोनों छात्राएं सतना जिले के मैहर की रहने वाली थीं। वे ITI के सामने किराये का कमरा लेकर पढ़ाई कर रही थीं। पहले पुलिस ने दोनों के अपहरण की आशंका जताई थी।

-जबलपुर ASP जीपी पाराशर के मुताबिक, दोनों के मोबाइल की कॉल डिटेल निकलवाई जा रही है।

मेहनत की कमाई से पढ़ा रहे थे बेटी को

नेहा की फैमिली मैहर की पुरानी बस्ती स्थित किला चौक में किराये के मकान में रहती है। उसके पिता रामनारायण नामदेव(45) टेलरिंग का काम करते हैं। वहीं मां मधु महर्षि स्कूल में प्यून हैं। नेहा की एक छोटी बहन पलक(12) और भाई सागर(18) है। वहीं काजल के पिता श्रीकांत मैहर में ही कटरा बाजार में एक होटल पर मजदूरी करते हैं।

गहरी दोस्ती थी…

पड़ोसियों के मुताबिक दोनों के बीच काफी गहरी दोस्ती थी। दोनों ने मैहर के महाकाल स्कूल से 12वीं की थी। नेहा ने स्कूल में टॉप किया था। इसके बाद दोनों साथ ही इंजीनियरिंग करने जबलपुर गई थीं। वहां भी दोनों एक ही किराये के कमरे में रहती थीं। खाना-पीना, घूमना सबकुछ साथ में होता था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *