Tuition teacher makes obscene video clips of 25 children of 5 to 15 years

rapeJaipur: The police has arrested a tuition teacher Rameez for sexually assaulting children. Not only this, but the teacher also shot video clips of 25 children of 5 to 15 years. On the basis of these clips, Rameez used to extort money from children or their parents. As many as 76 video clips have been recovered from teacher’s house. Two pen drives and hard disc has also been seized.

The matter came to light when parents of student saw his obscene video on WhatsApp and complaint to the police. Rameez has confessed to his crime.

ट्यूशन पढ़ने वाले 25 बच्चों का टीचर ने किया यौन शोषण, 76 वीडियो क्लिपिंग मिलीं

जयपुर.ट्यूशन पढ़ाने वाले 26 साल के टीचर रमीज का घिनौना चेहरा सामने आया है। यह 5 से 15 साल के बच्चों का न केवल यौन शोषण करता था, बल्कि उनकी वीडियो क्लीपिंग बनाकर उन्हें डराता भी था। पुलिस को उसके मोबाइल से 76 क्लिपिंग मिली हैं। शुरुआती जांच में 25 बच्चों के यौन शोषण की बात सामने आ रही है, लेकिन यह नंबर और बढ़ सकते हैं। जांच में सामने आया है कि रमीज तीन साल से यह घिनौना काम कर रहा था। सोमवार को वॉट्सऐप ग्रुप में एक वीडियो अपलोड होने के बाद बच्चे के परिवार तक पहुंच गया। परिवार ने इसकी शिकायत पुलिस में की। रमीज इसकी भनक लगते ही फरार हो गया था। पोर्न साइट से संबंध होने का शक…

– पुलिस ने गुरुवार को रमीज को गिरफ्तार किया। शुक्रवार को पूछताछ के दौरान उसने बच्चों के यौन शोषण की बात स्वीकारी।

– पुलिस को उसके पास दो पैन ड्राइव व हार्ड डिस्क होने की जानकारी भी मिली है। इसके बारे में पूछताछ की जा रही है।

– शुक्रवार को एक और बच्चे के परिजन शिकायत लेकर थाने पहुंचे।

– एडिशनल एसपी नॉर्थ समीर दुबे ने बताया कि रमीज के मोबाइल में मिली क्लिपिंग को देखने पर लग रहा है कि वह अन्य किसी की मदद से बनाई गई हैं।

– ऐसे में पुलिस को शक है कि रमीज का संबंध किसी पोर्न साइट से हो सकता है। पुलिस जांच कर रही है कि वह अश्लील क्लिपिंग्स को बेचता तो नहीं था।

स्कूल ने निकाला, पर पुलिस को नहीं दी यौन शोषण की जानकारी

– आरोपी रमीज एक निजी स्कूल में वाइस प्रिंसिपल था।

– बताया जा रहा है कि रमीज से पीड़ित कुछ छात्रों ने स्कूल के कम्प्यूटर की हार्ड डिस्क निकाल कर स्कूल प्रशासन को दी थी। इसमें बच्चों की क्लिपिंग थी।

– स्कूल ने रमीज को तो 23 जनवरी को निकाल दिया, लेकिन मामले को दबा दिया। रमीज एमए, बीएड है और स्कूल में अंग्रेजी विषय पढ़ाता था।

– इससे पहले भी रमीज को दो स्कूलों से निकाला जा चुका था। पुलिस हार्ड डिस्क को बरामद करने का प्रयास कर रही है।

बच्चों से भी करवाई रिकॉर्डिंग, घर से पैसे भी मंगवाता था रमीज

– पुलिस की जांच में सामने आया है कि रमीज जिस स्कूल में पढ़ाता था, उनके बच्चों को गारंटी से पास कराने की बात कहकर ट्यूशन के लिए बुलाता था।

– रमीज किसी बच्चे की अश्लील क्लिप बनाता था और बाद में उसी को दिखाकर अन्य बच्चे से रिकॉर्डिंग भी कराता था।

– पीड़ित बच्चों ने जानकारी दी है कि रमीज डरा-धमकाकर घर से पैसे लाने के लिए भी मजबूर करता था।

– पुलिस कमिश्नर संजय अग्रवाल ने कहा- थाने में मामला दर्ज नहीं करने के मामले की जांच की जा रही है। मैं खुद मामले की मॉनिटरिंग कर रहा हूं। कोई भी परिजन मामले की सूचना गुप्त रूप से दे सकता है। उनकी पहचान उजागर नहीं की जाएगी।

गंदी फिल्में दिखाते थे ‘सर’

– एक स्टूडेंट ने बताया कि टीचर स्कूल में फेल करने की धमकी देकर ट्यूशन के लिए मजबूर करता था।

– जब उनके घर पढ़ने गए तो वहां कंप्यूटर में रखी गंदी फिल्में दिखाता था और हमारे व अन्य दोस्तों के साथ गंदा काम करता था।

– पहले तो डर लगा लेकिन बाद में उसने यह कहा कि कुछ नहीं होगा। यह भी धमकी दी कि घर वालों को या स्कूल में किसी को बताया तो फेल कर दूंगा।

– इसी धमकी में घर से पैसे भी मंगवाता था। कई बार हमने उसे पैसे भी दिए, पैसे घर से चोरी करते थे।

– दूसरे स्टूडेंट ने बताया कि मेरी पढ़ाई अच्छी चल रही थी, नंबर भी अच्छे लाता था, लेकिन टीचर ने फिर भी फेल करने की धमकी दी और ट्यूशन पर बुलवा लिया।

– वहां गंदे काम करने को कहा और फेल होने की धमकी के कारण हम कुछ नहीं बोले। मम्मी-पापा को बताने पर घर पर पिटाई का डर था, इसलिए किसी को नहीं बताया।

बच्चों के सर ऐसे होंगे, सोचा न था

– एक अभिभावक ने बताया कि बच्चों की परसेंट अच्छी बनने और दूसरे बच्चों से ज्यादा नंबर लाने के लालच में मैंने बच्चे को ट्यूशन पर भेज दिया। मुझे तो विश्वास भी नहीं हो रहा कि मेरे बच्चे के साथ ऐसा हुआ।

– बच्चा घर पढ़ाई नहीं करता तो उसे हम टीचर को बताने की धमकी देते थे और टीचर की तारीफ करते थे, जबकि अब सोचकर दिल दहल जाता है कि बच्चा वहां जाकर धमकियों का शिकार हो रहा था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *