BJP MLA’s sex video goes viral, another major scandal after ISI spying case

BJP sex videoNew Delhi: another major scandal after ISI spying case, Bharatiya Janata Party is facing another embarrassment as a sex CD its MLA from Morigaon, Assam has gone viral on social media. In the CD, MLA Ramakant Dewri is seen in objectionable condition with a woman.

According to new, the sex CD is being shown on several local TV networks in Assam. Meanwhile, Dewri has filed a case against three local channels in this connection.

असम में एक सेक्स वीडियो वायरल हुआ है। जिसमें महिला के साथ आपत्तिजनक हालत में दिख रहे शख्स को बीजेपी का MLA रमाकांत देउरी बताया गया है। हालांकि देउरी ने वीडियो में खुद की मौजूदगी से इनकार किया है। उन्होंने इसे अपने खिलाफ राजनीतिक साजिश करार दिया है। वीडियो के फोरेंसिक टेस्ट की मांग…

– न्यूज एजेंसी के मुताबिक वीडियो कई लोकल टेलीविजन चैनल्स पर वायरल हुआ है।

– विधायक रमाकांत देउरी ने कहा, “वीडियो में मौजूद शख्स मैं नहीं हूं, इसे स्वार्थ वश बनाया गया और मीडिया में बांटा गया, यह मेरे खिलाफ राजनीति साजिश का हिस्सा है, यह मुझे बदनाम करने की साजिश है।”

वीडियो के फोरेंसिक टेस्ट की मांग

– मोरीगांव असेंबली सीट से विधायक देउरी ने कहा, “इस बार कैबिनेट के होने वाले विस्तार में मेरा भी नाम शामिल किए जाने की चर्चा है, ऐसे में विरोधी मेरे खिलाफ साजिश रच रहे हैं।”

– विधायक ने वीडियो के फोरेंसिक टेस्ट की मांग की और कहा, “मैं प्रोपैगंडा करने वालों के खिलाफ कानूनी कार्रवाई करूंगा। अगर फोरेंसिक टेस्ट में आरोप सच साबित हो गया तो मैं राजनीति छोड़ दूंगा।”

तीन चैनलों के खिलाफ केस दर्ज

– मोरीगांव डिस्ट्रिक्ट सुपरिटेंडेंट ऑफ पुलिस स्वपनिल डेका ने बताया, “देउरी ने 3 लोकल टीवी चैनलों के एडिटर्स के खिलाफ केस दर्ज कराया है।”

– “इन चैनलों ने वीडियो ब्रॉडकास्ट किया था, इस मामले में हमारी जांच जारी है।”

– “अब तक की जांच में पाया गया है कि 4 चैनलों को वीडियो की 4 कॉम्पैक्ट डिस्क्स (CDs) बांटी गई थी, लेकिन 3 चैनलों ने ही इसे चलाया।”

– विधायक देउरी ने यूनियन इन्फॉर्मेशन एंड ब्रॉडकास्टिंग मिनिस्ट्री के तहत निजी चैनलों पर निगरानी रखने वाली कमेटी को एक मेमोरेंडम भी भेजा है।

स्टेट बीजेपी का क्या कहना है?

– असम बीजेपी के प्रेसिडेंट रंजीत दास ने इस मामले पर चिंता जताई है।

– दास ने कहा, “मीडिया ने मोरीगांव विधायक की इमेज खराब करने की कोशिश की।”

– “चैनलों ने जो वीडियो फुटेज दिखाई है, वो पूरी तरह से फर्जी है। चैनलों ने विधायक के कैरेक्टर की हत्या की है।”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *