Man poisons entire family and commits suicide by jumping from train

murderDhanbad (Jharkhand) : Om Prakash Kumar of Bharat Cooking Coal Limited at Barora under Baghmara police station here poisoned to death his entire family and then committed suicide by jumping from train. His dead body was recovered from railway track on Monday.

First the accused murdered his wife three days ago and stayed in the  house with his two children. When his sister-in-law reached the house, he also killed her as well as his children. The matter came to light when his brother-in-law came searching for his missing sister at about 10 in the night of Sunday.

He found dead bodies of Om Prakash’s sons Piyush Kumar (12) and Harshit Kumar (8) Piyush’s wife Suman Devi (32) and her sister Neetu Kumari (18).

Reason behind murder is not known, but police is working on the theory of over affair of Om Pradesh with his sister-in-law.

छोटे से घर के अंदर था मुर्दाघर जैसा नजारा, ऐसे हुआ इस मामले का खुलासा

धनबाद (झारखंड)।यहां के बाघमारा थाना क्षेत्र के बरोरा में भारत कुकिंग कोल लिमिटेड (बीसीसीएलकर्मी) ओमप्रकाश कुमार ने गुरुवार को अपनी पत्नी और रविवार की रात दो बेटों सहित साली को मार डाला। इस सनसनीखेज वारदात को अंजाम ओमप्रकाश ने अपने घर में ही दिया। इसके बाद खुद गोमो जंक्शन पर चलती ट्रेन की आगे कूद कर अपनी जान दे दी। सोमवार सुबह उसकी लाश रेलवे ट्रैक से बरामद की गई। क्या है मामला…?

-आेमप्रकाश ने चारों को जहर देकर मार डाला। आरोपी ने तीन दिन पूर्व पत्नी की हत्या की और फिर बच्चों के साथ अपने घर में मौजूद रहा। रविवार को जब फुसरो से उसकी साली पहुंची तो उसने उसके साथ अपने दोनों बेटों को भी मार डाला।

-घटना का खुलासा तब हुआ, जब सुबह से लापता अपनी बहन की तलाश में ओमप्रकाश का साला विनोद नोनिया रविवार की रात लगभग दस बजे बरोरा पहुंचा।

-उसने अपने जीजा के घर का दरवाजा खटखटाया तो कुंडी ओमप्रकाश ने ही खोली। साले को देखते ही ओमप्रकाश उसे धक्का देकर भाग गया।

-इसके बाद विनोद अंदर गया तो पहले कमरे में उसे ओमप्रकाश के दोनों पुत्र पीयूष कुमार (12 साल) और हर्षित कुमार (8 साल) के शव दिखे तो दूसरे कमरे में उनकी बहन सुमन देवी (32), जो ओमप्रकाश की पत्नी थी, की लाश पड़ी थी।

-सुमन के ठीक बगल में ही सुबह से लापता उसकी दूसरी बहन नीतू कुमारी (18) का शव औंधे मुंह गिरा पड़ा था।

-चारों का शरीर जहर के प्रभाव से गहरा नीला पड़ा हुआ था। यह नजारा देख विनोद ने शोर मचाया तो लोग जुटे। उसके बाद बरोरा पुलिस को इसकी सूचना दी गई।

पड़ोसियों ने बताया कि ओमप्रकाश का अपनी साली से प्रेम प्रसंग था

-पुलिस शवों को उठाकर बाघमारा स्वास्थ्य केंद्र ले आई। उसके बाद शवों को बरोरा थाना और फिर रात पौने एक बजे पीएमसीएच भेजा गया।

-आरोपी ओमप्रकाश ब्लॉक टू क्षेत्र में डंपर ऑपरेटर के पद पर कार्यरत था और लंबे समय से पियोर बरोरा में ही रह रहा था।

-पुलिस ने ओमप्रकाश के साले विनोद और पड़ोसियों से वारदात को लेकर जानकारियां लीं। कई पड़ोसियों ने बताया कि ओमप्रकाश का अपनी साली से प्रेम प्रसंग था।

ब्यूटी पाॅर्लर जाने की बात कहकर घर से निकली थी साली

-पुलिस ने जब रात में ओमप्रकाश के आवास का मुआयना किया तो हर कमरे में उल्टियां पसरी हुई थीं। जहां बच्चों के शव मौजूद थे, वहां की उल्टियां ज्यादा पुरानी नहीं थी।

-निशान भी चंद घंटे पूर्व के लग रहे थे, परंतु जिस कमरे में सुमन और नीतू के शव थे, वहां दो किस्म की उल्टियों के निशान मिले।

-एक सुखी हुई और दूसरी चंद घंटे पूर्व की। इसी के आधार पर पुलिस ने भी अनुमान लगाया कि सुमन की हत्या पहले हुई और नीतू समेत दोनों की रविवार को किसी टाइम पर।

-ओमप्रकाश की साली नीतू कुमारी का आवास फुसरो में है। नीतू के भाई विनोद नोनिया ने पुलिस को बताया कि उसकी बहन सुबह 10 बजे ब्यूटी पाॅर्लर जाने की बात कहकर घर से निकली थी। शाम तक घर नहीं लौटी तो खोजबीन शुरू हुई।

-उसने अपने जीजा ओमप्रकाश को फोन किया तो उसने कहा कि रात 8 बजे तक तुम्हारी बहन घर पहुंच जाएगी।

-उनकी बात पर शंका हुई तो वह फुसरो से बरोरा के लिए रवाना हो गया। यहां जीजा ने ही दरवाजा खोला। इसके बाद ही पूरा मामला खुला।

चारों की मौत की वजह जहर

-बाघमारा स्वास्थ्य केंद्र में जब चारों शव जांच के लिए लाए गए तो ओमप्रकाश की पत्नी सुमन देवी की लाश विकृत होने लगी थी।

-आरंभिक जांच के बाद केंद्र के चिकित्सक डॉ. आलोक कुमार ने पुलिस को बताया कि सुमन देवी के लाश की स्थिति बता रही है कि इसकी मौत 70 से 75 घंटे पूर्व हुई है, जबकि शेष तीनों की मौतें रविवार दोपहर से शाम के बीच हुई है।

-शव को देखकर प्रतीत होता है कि चारों की मौत की वजह जहर खाना है। एक कमरे में पुलिस को खून के छीटें भी मिले हैं। पुलिस को आशंका है कि ओमप्रकाश की साली के साथ मारपीट भी हुई है।

-इधर, घटनास्थल पर देर रात एसएसपी मनोज रतन चोथे, ग्रामीण एसपी एचपी जनार्दनन, डीएसपी लॉ एंड ऑर्डर डीएन बंका, कतरास इंस्पेक्टर सुषमा कुमारी समेत अन्य अधिकारी पहुंच मुआयना किया।

प्रेम-प्रसंग सहित सभी बिंदुओं की हो रही जांच

-धनबाद एसएसपी मनोज रतन चोथे ने कहा कि प्रथम दृष्टया बीसीसीएलकर्मी ओमप्रकाश कुमार ही आरोपी प्रतीत हो रहा है।

-उन्होंने कहा- उसने ही अपनी पत्नी, साली और दोनों बच्चों को जहर देकर मार डाला। जीजा-साली के प्रेम प्रसंग समेत अन्य बिंदु की जांच में शामिल किया गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *