Policeman becomes thief to fulfill wife’s passion, caught red-handed

thiefPatiala: In a bizarre case, assistant sub-inspector of police of Sangroor was caught red-handed while committing theft in a showroom here. He was assisted in this act by his wife. However, the police hushed up the matter by asking the cop to give price of stolen goods.

पत्नी का ये शौक पूरा करने के लिए ASI बना चोर, दुकान में रंगे हाथों पकड़ाया

पटियाला।पत्नी को महंगे सूट पहनने का शौक था, इसी ख्वाइश को पूरा करने के लिए संगरूर का एएसआई चोर बन गया। इसमें पत्नी ने भी उसका पूरा साथ दिया। हालांकि, इन दोनों की चोरी ज्यादा दिन नहीं चल सकी। शनिवार रात एक शोरूम में कपड़े चोरी करते हुए पति-पत्नी सीसीटीवी कैमरे में कैद हो गए और दोनों मौके पर पकड़े गए। दुकान मालिक से समझौता कराया…

– मामला पुलिस के पास पहुंचा तो स्टाफ की बात होने के कारण लीपापोती शुरू हो गई। पुलिस ने चोरी किए माल की कीमत दिलाकर और नौकरी चले जाने का वास्ता देकर दुकान मालिक से समझौता करा दिया।

– थाने में एएसआई ने खुद माना कि बीवी को महंगे कपड़े पहनने का बहुत शौक है, इस कारण ऐसा करना पड़ा।

– दुकान में लगे सीसीटीवी कैमरे के फुटेज के मुताबिक, शाम 7:45 बजे महिला और उसका पति दुकान में दाखिल होते हैं।

– 5 मिनट में ही ये सूट चुराकर चले जाते हैं। इसी शोरूम से दोनों ने पहले भी एक सूट, कैंची चोरी की थी।

– आरोपी मुलाजिम की पहचान केवल सिंह के रूप में बताई जा रही है, जो संगरूर में तैनात है।

एएसआई स्टाफ को बातों में लगाता, पत्नी चुरा लेती

– संगरूर का एएसआई केवल सिंह और उसकी पत्नी के चाेरी का तरीका भी काफी शातिर था। एएसआई शोरूम के स्टाफ काे बातों में बिजी कर लेता था और पत्नी सूट चुरा लेती थी।

– दुकान मालिक चमनलाल गोयल ने बताया कि शाम को पति-पत्नी सूट खरीदने आए। सूट देखने के दौरान मुलाजिम नरेश को शक हुआ तो उसने सीसीटीवी चेक किया।

– फुटेज में दिखा कि महिला सूट छिपा रही थी। इसी दौरान स्टाफ ने उनका पीछा किया। कुछ दूर जाकर दोनों को पकड़ लिया।

– पकड़े जाने पर एएसआई ने पहले धौंस दिखाई, फिर गुनाह मान लिया। इस दौरान हंगामा होने पर बाकी दुकानदार भी इकट्ठे हो गए।

मेरी नॉलेज में मामला आया है। कार्रवाई की जाएगी। इस घटना की फुटेज देखेंगे। एक्शन भी लेंगे।

– एस भूपति, एसएसपी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *