Lady don murdered by slitting throat on the road

murderBhopal: The 25 years old lady don Sunita Singh was murdered by slitting throat on the road in the night. Running a paan shop in Piplani area, Sunita was a drug peddler. She had come out of jail only 10 days ago.

In the night, she was riding a scooter with a male friend when a motorcyclist stopped her. Before she could understand anything, the motorcyclist stabbed her repeatedly in the neck and fled away while her drunk companion could not do anything.

बीच सड़क लड़की की गला रेतकर की हत्या, लेडी डॉन के नाम से थी मशहूर

भोपाल. मंगलवार रात एक बदमाश ने सरेराह एक 25 साल की लड़की की गला रेतकर हत्या कर दी। महिला दिवस से एक दिन पहले हुई वारदात के वक्त वह अपने परिचित के साथ स्कूटर से घर लौट रही थी। लड़की हफ्तेभर पहले ही गांजा तस्करी के आरोप में जेल से छूटी थी। इलाके में उसे लेडी डॉन के नाम से जाना जाता था। पुलिस को हमले के पीछे उसके एक परिचित पर ही शक है। लेडी डॉन के नाम से थी मशहूर…

– डीआईजी डॉ. रमन सिंह सिकरवार के मुताबिक, चांदबड़ की रहने वाली सुनीता सिंह पिपलानी इलाके में पान की गुमठी चलाती थी।

– मंगलवार रात करीब सवा आठ बजे सुनीता दुकान बंद कर घर लौट रही थी। लाला लाजपत राय कॉलोनी में राधाकृष्णन मंदिर के पास बाइक सवार एक बदमाश ने उसे हाथ देकर रोका।

– इसके बाद बदमाश ने ताबड़तोड़ उसके गले पर चाकू से वार कर दिए। वारदात के बाद बदमाश बाइक लेकर भाग निकला।

– वहां से गुजर रहे एक राहगीर ने अशोका गार्डन पुलिस को सूचना दी। पुलिस मौके पर पहुंची तो खून से लथपथ सुनीता सड़क पर पड़ी थी। पास ही नशे में धुत उसका साथी खड़ा था।

– एसपी साउथ सिद्धार्थ बहुगुणा ने बताया कि सुनीता के खिलाफ कई क्राइम दर्ज हैं। उसका आपराधिक रिकॉर्ड भी खंगाला जा रहा है।

– पिपलानी इलाके में उसे लेडी डॉन के नाम से जाना जाता था। उसकी गिरफ्तारी के बाद इलाके के लोगों ने पिपलानी पुलिस को बधाइयां भी दी थीं।

भाई का आरोप- पुरानी रंजिश में कर दी मेरी बहन की हत्या

– पिपलानी पुलिस ने सुनीता को उसके साथी मंसूर खान के साथ बीती 4 फरवरी को गिरफ्तार किया था।

– गांजा तस्करी के मामले में मंसूर फिलहाल जेल में है, जबकि सुनीता को 10 दिन पहले जमानत मिल गई थी।

– वारदात की सूचना पर सुनीता का भाई शक्ति मौके पर पहुंचा। उसके अनुसार, सुनीता को किसी से 10 हजार रु. लेने थे। उसकी कुछ लोगों से रंजिश भी चल रही थी।

– सुनीता के बड़े भाई दुर्गा ठाकुर को बजरिया पुलिस ने दो दिन पहले ही अवैध शराब के साथ गिरफ्तार किया था। हालांकि, जांच के दौरान पुलिस का शक मंसूर के एक करीबी पर गहरा गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *