38 years old woman with 22 years old BF kills husband

murderLudhiana: A 38 years old woman Laxmi with 22 years old boyfriend Sonu and 2 others killed her husband 40 years old Parwas Ram. After the murder, she slept with Sonu whole night in the same room where his body was lying. Next day, they threw body of Parwas Ram in a nullah and lodged FIR about his disappearance.

Laxmi is mother of 6 children including 4 daughters and 2 son. They were married in year 2011.

लुधियाना. हरी सिंह अस्पताल रोड की रहने वाली छह बच्चों की मां 38 साल की लक्ष्मी देवी ने अवैध संबंधों के चलते अपने आशिक संग अपने 40 साल के पति परवास राम का गला दबाकर कत्ल कर दिया। इस वारदात में आशिक के अलावा दो और युवकों ने लक्ष्मी का साथ दिया। पत्नि ने पति को पिलाई शराब, फिर किया कत्ल…

– आशिक लंडे फाटकों के पास रहने वाला 22 साल का सोनू है और अन्य दो आरोपी परवास राम के मुलाजिम हैं।

– पीओपी के कारीगर परवास राम के कत्ल के आरोप में पुलिस ने फिलहाल तीन आरोपी काबू किए हैं, जबकि सोनू फरार है।

पत्नि ने पति को पिलाई शराब, फिर प्रेमी के साथ मिल किया कत्ल

– थाना सिटी एसएचओ इंदरजीत सिंह ने बताया कि लक्ष्मी देवी और परवास राम की शादी साल 2001 में हुई थी। इसके बाद दोनों के घर छह बच्चे, जिनमें 4 लड़कियां और 2 लड़के पैदा हुए।

– कुछ समय पहले लक्ष्मी देवी के अवैध संबंध सोनू निवासी लंडे फाटकों के साथ बन गए थे। आशिक सोनू ने ही परवास राम के साथ काम करने वाले दो युवकों मिल्टन और सोनू को अपने साथ मिलाया और 2 अप्रैल की रात को परवास राम का उसी के घर में गला घोंट कर कत्ल कर दिया।

– कत्ल करने से पहले परवास राम को लक्ष्मी ने जमकर शराब पिलाई और अपने सभी बच्चों को एक कमरे में सुलाकर बाहर से कुंडी लगा दी।

– इस दौरान एक नाबालिग सोनू ने परवास राम के पैर पकड़े और मिल्टन परवास राम की छाती पर बैठ गया। आशिक सोनू और पत्नी लक्ष्मी ने रस्सी से परवास राम को गला घोंट कर मार डाला।

रात भर आशिक के साथ सोई रही:

– पति का 2 अप्रैल को कत्ल करने के बाद लक्ष्मी उस रात आशिक सोनू के साथ बिस्तर पर सोई और उसी कमरे में पति की लाश बिस्तर में लिपटी पड़ी रही। अगले दिन सुबह 3 अप्रैल को बिस्तर में ही बंधी लाश रेहड़े में डाल आरोपी लंडे फाटकों के पास गंदे नाले में फेंक आए। फिर 4 को गुमशुदगी की रिर्पोट थाना सिटी में लिखवा दी।

– पुलिस को छह अप्रैल को शव गंदे नाले से मिला। इसके बाद शुरू हुई जांच में सारा भेद खुला। जांच अफसर बलजिंदर सिंह ने बताया कि मुख्य आरोपी प्रेमी सोनू फरार है, जबकि लक्ष्मी देवी, मिल्टन और सोनू को काबू कर लिया है। नाबालिग सोनू को बाल सुधार गृह भेज दिया गया है और बाकी दोनों दो दिन के पुलिस रिमांड पर हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *