Guinness record holder rubber man of India, flexes body like rubber

rubber manFarmers aren’t renowned for being particularly supple.

But Rammehar Punia has bucked the trend with record-breaking results.

The 35-year-old has been dubbed ‘Rubber Man’ thanks to his remarkable ability to make his shoulders meet in front of his chest.

And he has used this flexibility to smash the Guinness World Record for the number of CDs broken between the shoulders – 60 in just one minute.

His suppleness also allows him to wrap his left hand around his neck so far that he can grab hold of his left ear.

Mr Punia set himself the challenge of breaking records when he was at school and began training his body to reach the extreme limits he achieves today.

He broke his first Guinness World Record in 2011 when he cracked 41 CDs in a minute.

This was later beaten, but he went on to win it back by breaking 60 in as many seconds after training for up to four hours a day while holding down his job as a farmer.

Mr Punia, from Panipat, India, has performed shows in various cities across his homeland and abroad, including in Italy. He broke his first Guinness World Record in 2011 when he cracked 41 CDs in a minute.

This was later beaten, but he went on to win it back by breaking 60 in as many seconds after training for up to four hours a day while holding down his job as a farmer.

Mr Punia, from Panipat, India, has performed shows in various cities across his homeland and abroad, including in Italy.

 

ये हैं रबर मैन राममेहर, देश ही नही विदेशों में दिखा चुके हैं अपने कंधे की करामात

पानीपत (हरियाणा).गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड में अपना नाम दर्ज कराने वाले रबर मैन एक बार फिर चर्चा में हैँ। राममेहर पूनिया गांव के ही ऑर्गेनाइज एक प्रोग्राम में अपने टैलेंट को दिखाते नजर आएंगे। बता दें कि 37 साल के राममेहर पूनिया के पास वो हुनर है जो शायद ही किसी और के पास हो। राममेहर अपने कंधों को न सिर्फ सीने के आगे जोड़ देते हैं बल्कि अपने बाएं हाथ को गले में ऐसे लपेट सकते हैं कि वह बायां कान पकड़ लें। जानें कैसे की शुरुआत….

– राममेहर पूनिया बताते हैं कि एक बार पांचवीं क्लास में उनके टीचर ने बताया था कि एक ऐसी किताब है जिसमें विश्व के रिकॉर्ड दर्ज होते हैं।

– राममेहर ने उसी दिन से ठान ली थी कि एक दिन इस किताब में अपना नाम जरूर दर्ज करवाएंगे।

– राममेहर ने अपने शरीर को लचीला बनाना शुरू किया और तीन साल की कड़ी मेहनत के बाद राममेहर ने सीने के आगे दोनों कंधों को मिलाने में सफलता हासिल की। जब स्कूल में उनके साथियों को यह बात पता चली तो वे राममेहर को अक्सर एेसा करने के लिए कहते थे और राममेहर बिना झिझक के कंधों को जोड़ देते थे।

दो बार किया गिनीज बुक में रिकॉर्ड अपने नाम

37 साल के राममेहर बताते हैं कि उन्होंने सबसे पहले एक मिनट में 41 सीडी तोड़कर साल 2011 में गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड में दर्ज कराया। इसके बाद प्रिटी जिंटा के प्रोग्राम में 60 सीडी तोड़कर दोबारा अपना ही रिकॉर्ड तोड़ा। इसके बाद लिम्का बुक ऑफ रिकॉर्ड में अपना नाम दर्ज कराया।

खेती के साथ-साथ हर रोज चार घंटे करते हैं प्रैक्टिस

राममेहर अपने घर का खर्च चलाने के लिए खेती करते हैं और रोज चार घंटे कड़ा प्रैक्टिस भी करते हैं। राममेहर बताते हैं कि उन्होंने अपने शौक के लिए आजीविका के रास्ते में इस कला को मरने नहीं दिया। निरंतर प्रयास किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *