Old man kept writhing in pain for 2 days, doctors act only after media intervention

BuzurgMuzaffarnagar (UP)> In a case of sheer apathy, an old man kept writhing in pain for 2 days outside emergency ward of district hospital here. No one including doctors paid any attention to him. Doctors acted only after media intervention and admitted him. His condition is better now.

2 दिन तक हॉस्प‍िटल के बाहर तड़पता रहा बुजुर्ग, कैमरा देख हरकत में आए डॉक्टर

मुजफ्फरनगर. यूपी के मुजफ्फरनगर के जिला हॉस्पि‍टल में इमरजेंसी के बाहर 2 दिन से बीमार बुजुर्ग नग्न अवस्था में पड़ा हुआ है। इलाज तो दूर किसी ने उसकी तरफ देखा भी नहीं। जब मीडिया हॉस्प‍िटल पहुंची तो उसे देखकर इमरजेंसी के डॉक्टर हरकत में आए बुजुर्ग को तुरंत स्ट्रेचर पर लिटा कर प्राथमिक इलाज करना शुरू कर दिया। ये है पूरा मामला…

– मुजफ्फरनगर जिला हॉस्पि‍टल के एमरजेंसी वार्ड के बाहर बने वेटिंग रूम का है। जहां 2 दिनों से इमेरजेंसी के सामने एक लाचार वृद्ध नग्न अवस्था में कई घंटे तक भीषण गर्मी में जमीन पर तड़पता रहा। बताया जा रहा है कि ये बजुर्ग रोटा गांव जिला मेरठ निवासी विजयपाल पुत्र बारू 2 दिनों से यहीं था।

– वेटिंग रूम के बाहर 24 घंटे पुलिसकर्मी के मौजूद रहने के बावजूद भी किसी पुलिसकर्मी ने वृद्ध का हालचाल जानने की कोशि‍श नहीं की। ना ही इमेरजेंसी वार्ड में मौजूद डॉक्टर और जिला हॉस्पिटल के किसी कर्मचारी ने बूढ़े व्यक्ति को इलाज देने की कोशिश की।

– सूचना मिलने पर जैसे ही मीडियाकर्मी वहां पहुंचे जिला हॉस्पिटल के कर्मचारियों ने आनन फानन में बुजुर्ग को स्ट्रेचर पर लिटा कर इमरजेंसी वार्ड में ले गए।

– जिला मुख्य चिकित्सा अधिकारी पीएस मिश्रा ने बीमार बुजुर्ग को इलाज के साथ-साथ खाने पीने की व्यवस्था की है।

अधिकारियों ने ये कहा

– जिला मुख्य चिकित्सा अधिकारी पीएस मिश्रा ने बताया है कि बुजुर्ग की हालत अभी ठीक है उम्र ज्यादा होने के कारण दिमागी संतुलन ठीक नहीं है। लगता है की किसी ने अपने बूढ़े पिता को यहां छोड़ दिया है। अगर कोई डॉक्टर या कर्मचारी की लापरवाही सामने आती है तो निश्चित रूप से कार्रवाई की जाएगी |

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *