This Muslim tribe gives full freedom to women, men remain in Hijab

womenFor centuries the nomadic Tuareg tribe have crossed the Sahara desert, sometimes being led by the blind who used their heightened sense of smell and taste to pick a safe path across the ever-shifting sands.

Their men became known as the ‘blue men of the Sahara’ because the dye from their distinctive indigo scarves rub off onto their faces giving them a mysterious air. The Tuareg evoke images of a long forgotten and romantic age.

But behind the ancient way of life is a culture so progressive it would even make some people in liberal western cultures blush. Women are allowed to have multiple sexual partners outside of marriage, keep all their property on divorce and are so revered by their sons-in-law that the young men wouldn’t dare eat in the same room.

What is even more surprising is that even though the tribe has embraced Islam they have firmly held onto some of the customs that would not be acceptable to the wider Muslim world.

It is the men, and not the women, who cover their faces, for example.

Photographer Henrietta Butler, who has been fascinated by the Tuareg since she first followed them through the desert in 2001, once asked why this was. The explanation was simple.

‘The women are beautiful. We would like to see their faces.’

But this is certainly not the only place the Tuareg, related to the Berbers of North Africa, differ from the Muslim world of the Middle East, and even other parts of their own continent.

 

इस मुस्लिम ट्राइब में महिलाओं को मिलती है पूरी आजादी, पर्दे में रहते हैं पुरुष

हमारी दुनिया अजीबोगरीब परंपराओं और रीति-रिवाजों से भरी पड़ी हैं। आज हम आपको फोटोज के जरिए एक ऐसी ही जनजाति के बारे में बताने जा रहे हैं, जिनके रिवाज दूसरों की तुलना में बहुत ही अलग है। पश्चिमी अफ्रीका के नाइजर में रहने वाली तुआरेग ट्राइब्स में महिलाएं को अपनी मर्जी से कोई भी काम करने की आजादी है। यहां महिलाओं को शादी से पहले कई मर्दों से संबंध बनाने की इजाजत है, लेकिन पुरुषों को पर्दे में रहना पड़ता है। और भी जानिए इनके बारे में…

तुआरेग ट्राइब्स की महिलाओं को दुनियाभर के मर्दोंं के बराबर अधिकार मिले हुए हैं। वो बेखौफ घूमती हैं, जबकि लड़के को पर्दें में रहना पड़ता है। परंपरा के मुताबिक महिलाएं अपनी मर्जी से शादी कर सकती हैं। इतना ही नहीं, शादी के बाद भी वह किसी गैर मर्द के साथ संबंध बना सकती हैं। वहीं, पुरुषों को अपना चेहरा समाज से छिपाकर रखना होता है। तुआगो जनजाति में महिलाएं कभी भी चाहें तो पति को हमेशा के लिए छोड़ सकती हैं। बता दें कि यहां शादियां और तलाक काफी आम है। यहां तलाक मिलने पर पत्नी के घरवाले जश्न मनाते हैं। इतना ही नहीं तलाक होने पर महिलाओं को जो चाहिए वह मांग सकती हैं। इसके अलावा महिलाएं किसी तरह का कोई पर्दा नहीं करेंगी क्योंकि उनके चेहरों को मर्दों को दिखाया जाना चाहिए। यहां बड़े-बड़े फैसले लेने के लिए मर्दोंं को स्त्रियों की इजाजत लेनी पड़ती है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *