Woman wanted to marry brother in law, when refused got him murdered

murderYouth Anand (23) was sipping tea with his friend at a stall when two motorcycle borne assailants fired at them indiscriminately at Jeend in Harayana. Anand received 14 bullets and died on the spot. His father has accused wife of his elder son Suman, her father Ishwar and brother Sumit of the murder.

Anand’s elder bother died two years ago. Since then, the widow wanted to marry Anand. However, Anand refused to do so. On this, Suman filed false cases against him.

भाभी करना चाहती थी देवर से शादी, मना किया तो गोलियां मरवा करा दिया कत्ल

जींद (हरियाणा). सोमवार सुबह स्कूटी पर बैठकर दोस्त के साथ चाय पी रहे एक स्टूडेंट पर बाइक सवार दो बदमाशों ने अंधाधुंध फायरिंग कर दी। इस दौरान 23 साल के आनंद को 14 गोली लगने से मौके पर ही मौत हो गई। आनंद के पिता ने नरसिंह ने पुलिस को दिए बयान में कहा है कि उन्हें शक है उनके बेटे की हत्या उनकी बड़ी बहू सुमन, उसके पिता ईश्वर और भाई सुमित ने करवाई है। दो बदमाशों ने तीन पिस्तौल से मारी गोलियां…

– सीसीटीवी में कैद वारदात में सामने आया कि एक बदमाश के दोनों हाथों में पिस्तौल थे। वारदात के बाद हमलावर पिस्तौल लहराते हुए फरार हो गए।

– पीठ बैग लटकाए हुए युवक के हाथ में दो पिस्तौल थे जबकि दूसरे के हाथ में एक पिस्तौल थी। दोनों पास में ही अपने दोस्त के साथ स्कूटी पर बैठ कर चाय पी रहे आनंद की तरफ बढ़े और उसके पास पहुंचे ही तीनों पिस्तौल से उस पर फायरिंग शुरू कर दी।

– इस दौरान आनंद ने भागने की कोशिश तो की लेकिन गोली लगने से वह पास में ही गिर गया। इसके बाद फिर से बदमाशों ने उस पर फायरिंग जारी रखी।

– 7 बजकर 51 मिनट पर दोनों बदमाश बाइक पर सवार होकर रोहतक रोड पुलिस चौकी की ओर भाग निकले। इस दौरान उनका हेलमेट नीचे गिर गया। बीच रास्ते तक एक साइकिल सवार आया तो उस पर पीछे बैठे युवक ने फायर किया।

– पोस्टमार्टम के दौरान छात्र आनंद के शरीर पर गोली के कुल 14 निशान मिले। इस दौरान तीन बुलेट शरीर के अंदर से निकाले गए।

पिता ने कहा- दो दिन से आनंद रोहतक रोड पर जा रहा था सामान लेने

– मृतक आनंद के पिता नरसिंह ने पुलिस को बताया कि पिछले दो दिनों से आनंद कुछ सामान लेने के लिए घर से रोहतक रोड पर जाने की कह रहा था।

– रविवार सुबह भी उसके पास किसी का फोन आया था कि वह रोहतक रोड से सामान उठा लाए। इस दौरान सामान आया हुआ नहीं मिला। सोमवार सुबह फिर से उसके पास सामान उठाकर लाने का फोन आया और वह साढ़े सात बजे घर से निकल गया था।

– आनंद के बड़े भाई की करीब ढाई साल पहले शहर के हांसी ब्रांच नहर के साथ बने वाटर वर्क्स में डूबने से मौत हो गई थी। वह शादीशुदा था और एक छह माह की बेटी का पिता था। इसके बाद से उसकी भाभी सुमन व परिजनों की आपस में तकरार रहने लगी।

– मृतक के पिता ने बताया कि सुमन उसके छोटे बेटे आनंद से शादी करना चाहती थी, लेकिन वह इसके लिए तैयार नहीं था। इस पर सुमन अपने मायके में शहर के पटियाला चौक पर रहने लगी। उसने इस दौरान उन पर कई झूठे केस भी दर्ज करवा दिया।

– मृतक के पिता नरसिंह ने पुलिस को दिए बयान में कहा है कि उन्हें शक है उनके बेटे की हत्या सुमन, उसके पिता ईश्वर व भाई सुमित ने करवाई है।

– मृतक आनंद के शव का पोस्टमार्टम होने के बाद फैमिली वालों ने उसे सिविल हॉस्पिटल से उठाने से इंकार कर दिया। इसके बाद डीएसपी कप्तान सिंह मौके पर पहुंचे और उन्हें समझाया। बाद में परिजनों व अन्य लोगों ने एसपी शशांक आनंद से मुलाकात की।

– एसपी के परिजनों को पुलिस सुरक्षा मुहैया करवाने और जल्द ही आरोपियों की गिरफ्तारी का आश्वासन देने के बाद ही परिजन शाम को अस्पताल से शव ले जाने को तैयार हुए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *