Grandson turned out to be robber after caught with another robber

rajatNEW DELHI: An aged couple in Rohini were in for a shock when the identities of two helmeted robbers who attacked them in their house on Saturday afternoon were revealed.

Trying to escape after the 80-year-old house owner dispossessed them of their weapon and raised an alarm, the duo were caught by neighbours. When their helmets were removed, one of the intruders turned out to be the grandson of the couple.

Apparently, Rajat (21) knew that his grandfather, Ram Lal Miglani, had recently sold a property for Rs 50 lakh and kept the money in his house in H Block of Rohini Sector 7. The law student got his friend, Rishabh, a 22-year-old medical student, to help him in an audacious plan to rob his own grandparents.

Read this story in Gujarati

On Saturday afternoon, Miglani, a retired manager of a private firm, was overseeing some electrical repairs and distractedly left the house entrance open. This was the chance the youths were looking for, and they quickly entered the house with a toy pistol and a hammer, their faces hidden by helmets.

Miglani’s wife, 70-year-old Shakuntala, was cleaning the bedroom, when the duo attacked her with the hammer, smashing her teeth in the process. Miglani heard her feeble calls for help and ran to the bedroom. There he saw two men holding his wife at gunpoint.

After they asked Miglani to hand over the keys to the locker, the octogenarian bent down as if to pick something up. Instead, he lashed out hard at the hand of the youth holding the pistol. As the robber dropped the weapon, Miglani raised an alarm. The security guard and a few neighbours heard the din, and their approach panicked the intruders, who tried to make a dash for freedom.

“One of the youths got on a white scooter and tried to ride away, but I was able to pin him to the ground,” said Raghuraj Singh. The second youth, meanwhile, frantically tried to climb over another gate, but was apprehended.

The pair were first thrashed and then tied to the gate. When the crowd removed the helmets, Miglani was shocked to see that one of the men was Rajat. “The grandson started pleading to his grandfather to prevent the people from beating him,” said Chhanda, a household help who assisted the security guard in grabbing Rajat. The cops were duly informed, while Shakuntala was admitted to Dr Baba Saheb Ambedkar Hospital in Rohini for treatment. Rajat and Rishabh told police that they needed money for their travel plans. Police have registered a case of trespassing and assault against them.

दिल्ली के रोहिणी में एक सीनियर सिटीजन दंपती उस वक्त हैरान रह गए जब उन्हें अपने ऊपर हमला करने वाले की पहचान के बारे में पता चला। दंपती पर शनिवार को उनके घर में अटैक किया गया था। 80 साल के बुजुर्ग ने इस मुश्किल वक्त में साहस से काम लिया और अलार्म बजा दिया। साथ ही उन्होंने अपने पास मौजूद हथियार से अपनी रक्षा की।

अलार्म की आवाज सुनकर पड़ोसी इकट्ठा हो गए। जब लूटने आए दोनों लुटेरों के चेहरे पर से हैल्मेट हटाया गया तो सब दंग रह गए। 2 लुटेरों में से एक उनका अपना पोता ही था। पता चला है कि 21 साल के रजत को यह पता था कि उसके दादा राम लाल मिगलानी ने हाल ही में अपनी एक प्रॉपर्टी बेची है। घर में इस वक्त उन्होंने 50 लाख रुपए कैश रखे हुए हैं।

रजत लॉ की पढ़ाई कर रहा है। उसने अपने एक दोस्त ऋषभ को इस प्लान का हिस्सा बनाया। रोहिणी सेक्टर 7 के H ब्लॉक में अपने दादा-दादी के घर में पैसे लूटने की पूरी तैयारी कर ली। पता चला है कि ऋषभ भी मेडिकल की पढ़ाई कर रहा है। शनिवार को वृद्ध मिगलानी अपने घर में हो रहे इलेक्ट्रिशन के काम को देख रहे थे। उस वक्त घर का प्रवेश द्वार खुला था।

लूटने की योजना बना चुके दोनों युवाओं के लिए घर में घुसने का यह सबसे अच्छा मौका था। दोनों ने एक पिस्टल का भी इंतजाम कर लिया था और घर में हैल्मेट पहनकर घुस गए। उस वक्त 70 साल की शकुंतला अपने बेडरूम की सफाई कर रही थीं, जब रजत और ऋषभ ने उन पर अटैक किया। लुटेरों को सामने देखकर शकुंतला डर गईं और मदद के लिए आवाज लगाने लगीं।

मिगलानी ने पत्नी की आवाज सुनी और वह बेडरूम में आए। उन्हें देखकर दोनों ने लॉकर की चाबी देने के लिए कहा। जिस वक्त चाबी लेने के लिए उनमें से एक झुका, मिगलानी ने उसके हाथ पर अटैक कर पिस्टल छीन ली और घर का अलार्म बजा दिया। अलार्म की आवाज सुनकर सिक्यॉरिटी गार्ड और कुछ पड़ोसी तुरंत पहुंच गए।

अलार्म बजता देखकर दोनों लुटेरों ने भागने की सोची, लेकिन सफल नहीं हो सके। पड़ोसी रघुराज सिंह कहते हैं, ‘उनमें से एख लुटेरा सफेद रंग के स्कूटर पर आया था, उसने भागने की कोशिश की। उसको भागता देख हम चौंकन्ने हो गए और उसे पकड़ लिया। वहीं, दूसरा घर के गेट पर चढ़कर दूसरी तरफ कूदने की कोशिश कर रहा था। वह भी सफल नहीं हो सका और पकड़ा गया।’

घर में काम करने वाली सहायिका चंदा ने बताया कि जब दोनों के चेहरे पर से हैल्मेट हटाया गया तो हम दंग रह गए। चंदा कहती है, ‘दोनों में से एक रजत था। पकड़े जाने के बाद रजत दादा-दादी के सामने पुलिस से बचाने के लिए गिड़गिड़ाने लगा। हालांकि, पुलिस को सूचना दे दी गई और पुलिस ने दोनों के खिलाफ लूट की कोशिश और शारीरिक चोट पहुंचाने का केस दर्ज कर लिया है।’

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *