Three gangsters shoot self when surrounded by police

suicideThree gangsters committed suicide after they were cornered by the Faridkot police team along with members of the local police at their Haryana hideout. Two gangsters, namely Bunty Dhillon and Jaspreet Jumpy, were listed as ‘category A’ and committed suicide at around 5:15 am on Tuesday at Asakhera village in Sirsa district in Haryana, Punjab Police said.

An official said another ‘category B’ gangster Nishan Singh also shot himself and later died at the hospital. “Acting on a reliable input, Faridkot police team along with local police of Dabwali Sadar police station had surrounded their hideout at 4 am today,” said the official.

“Bunty and Jumpy were dreaded gangsters of Devinder shooter gang and were lately associated with Vicky Gounder gang too,” police said.

कत्ल कर FB पर बताते थे पीछे की कहानी, पुलिस ने घेरा तो तीनों ने की सुसाइड

बठिंडा (अमृतसर ).पंजाब पुलिस के ऑपरेशन में घेराबंदी में आए तीन गैंगस्टरों ने खुद को गोलीमारकर सुसाइड कर लिया। हरियाणा के डबवाली में एनकाउंटर किए गए दंविंदर बंबीहा गैंग के तीनों गैंगस्टर्स का कनेक्शन लुधियाना जेल में बंद गैंगस्टर शरणजीत सिंह शरणी से था। वह मोबाइल के जरिए फरार गैंगस्टर बंटी ढिल्लों और जंपी डॉन के संपर्क में था। शरणजीत सेसेवाला कत्लकांड में सजा काट रहा है। बता दें कि आरोपी गैंगस्टर कत्ल के बाद फेसबुक आईडी अपडेट कर उसकी जिम्मेदारी लेते थे और कारण भी बताते थे। मौसी के नए घर पर रूकवाया था गैंगस्टरों को…

 

– शरणजीत सिंह ने अपनी मौसी परमजीत कौर के घर में डबवाली के गांव अबूबशहर की ढाहनी के पास इन्हें शरण दिलाई थी।

– कुछ महिने पहले ही परमजीत कौर व उसके बेटे सुखपाल ने ढाहनी में कोठी बनाई थी और उसमें शिफ्ट हुए थे।

– गैंग के सदस्यों पर कत्ल और लूटपाट के कई मामले दर्ज हैं। हर वारदात के बाद ये लोग नई गाड़ी गनप्वाइंट पर लूटते थे और फरार हो जाते थे।

– वारदात में इंपोर्टेड वैपन इस्तेमाल करते थे। कत्ल के बाद फेसबुक आईडी अपडेट कर उसकी जिम्मेदारी लेते थे और कत्ल के पीछे की कहानी भी बताते थे।

नेता के कत्ल में हरियाणा पुलिस को थी तलाश

– कुछ महीने पहले हरियाणा के चौटाला में स्थित कीनू प्रोसेसिंग फार्म में इनेलो नेता समेत दो लोगों का गोलियां मार कत्ल कर दिया था।

– हरियाणा पुलिस ने मास्टरमाइंड छोटू भाट को पिछले दिनों गिदड़बाहा से पकड़ लिया था लेकिन बंटी ढिल्लों फरार था।

– इसे पकड़ने के लिए हरियाणा पुलिस पंजाब-राजस्थान में रेड कर रही थी। मगर बंटी अपने साथी जंपी डॉन और निशान के साथ डबवाली में छुपा हुआ था।

आरोपी जंपी घर का आखिरी चिराग था ढिल्लों का परिवार घर से गायब

– गैंगस्टर जंपी डॉन गांव रोड़ीकपूरा का रहने वाला था उसने घर आना ही छोड़ दिया था। जंपी के माता-पिता की पहले मौत हो चुकी है।

– वह घर का आखिर चिराग था, बताया जा रहा है कि 2012 में उनका जमीन को लेकर गांव के ही कुछ लोगों से झगड़ा हुआ था।

– इस पर परिवार ने गैंगस्टर रणजीत की मदद ली थी। उधर बंटी ढिल्लों हिम्मतपुरा बस्ती का था। पूरा परिवार घर पर ताला लगा कहीं चला गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *