Father and his GF burn daughter alive

murderShahjahanpur (UP) A Father and his GF burned his daughter Shalini alive since she had come into knowledge of their illicit relations. The police has arrested accused Manoj Yadav,his girlfriend and three accomplices.
जहां पढ़ती थी, उसी में बेटी को जिंदा जलाया, बाप-GF ने इसलिए किया ऐसा
दो माह पहले हुई इस वारदात में पुलिस ने रविवार को खुलासा करते हुए बताया कि ये हत्या लड़की के पिता ने की थी।
शाहजहांपुर.यूपी के शाहजहांपुर में 6 अप्रैल 2017 में पुलिस को एक लड़की की हत्या की सूचना मिली थी। दो माह पहले हुई इस वारदात में पुलिस ने रविवार को खुलासा करते हुए बताया कि ये हत्या लड़की के पिता ने की थी। पिता ने दूसरी महिला से अवैध संबंधों के चलते प्रेमिका के साथ मिलकर बच्ची की पहले हत्या की, बाद में जला दिया। मां के मुताबिक, लड़की को पिता के अवैध संबंधों का पता चल गया था।5-5 हजार का इनाम था आरोपियों पर…

– करीब दो महीने पहले हुई हत्या लड़की की मां की तहरीर पर पुलिस ने पिता, उसकी प्रेमिका और तीन साथियों के खिलाफ केस दर्ज कर उनकी तलाश शुरू कर दी थी।
– गिरफ्तारी न हो पाने के कारण पुलिस ने पिता और उसकी प्रेमिका पर पांच-पांच हजार का इनाम घोषित किया था। रविवार को पुलिस ने मुखबिर की सूचना पर सभी को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है।
क्या है पूरा मामला?
– शाहजहांपुर के भिलावां थाना क्षेत्र में रहने वाले मनोज यादव का गांव की ही रहने वाली एक महिला के साथ अवैध संबंध था।
– इसके बारे में एक रात मनोज की 16 साल की बेटी शालिनी को पता चल गया। वो महिला उसकी स्कूल के टीचर भी थी। रोज टीचर को घर में आते देख लड़की अपने पिता से झगड़ा करने लगी थी। वो अपने पिता से मां को वापस लाने की जिद करती।
– बता दें, मनोज की पत्नी उसकी हरकतों की वजह से अलग रहती थी। शालिनी का विरोध और मां को घर वापस लाने की जिद रोज बढ़ती जा रही थी।
पुलिस ने दरवाजा तोड़कर निकाला था अधजला शव
– शालिनी की बढ़ती नाराजगी को देखते हुए मनोज और उसकी प्रेमिका ने मिलकर उसको रास्ते से हटाने का प्लान बनाया।
– 6 अप्रैल 2017 की रात दोनों ने उसकी हत्या कर दी। गुनाह छिपाने के लिए दोनों ने स्कूल में ही शव को जला दिया। लाश को आग लगाने के बाद पिता व प्रेमिका मौके से फरार हो गए।
– सूचना पर मौके पर पहुंची पुलिस ने स्कूल का दरवाजा तोड़कर अधजला शव बरामद कर लिया था।

पकड़े गए तो बोले- मैंने नहीं मारा बेटी को
– आरोपी पिता मनोज के मुताबिक, उसने अपनी बेटी को नहीं मारा है। शालिनी के फोन पर इलाहाबाद से एक लड़के का फोन आया, जिसके बाद मैंने उसे डांटा था।
– डांट से नाराज होकर बेटी ने जहर पी लि‍या था। रात में ही उसे अस्पताल में भर्ती कराया। ठीक होने पर उसे घर ले आए थे।
– रात में अचानक उसकी तबि‍यत फिर बिगड़ने लगी और उसकी मौत हो गई। बेटी की हालत खराब देख मैं डॉक्टर को लेने गया था, तभी डर के कारण बच्ची के दादा जी ने उसे जला दिया।
– शालिनी की मां मेरे ऊपर गलत आरोप लगा रही है। मेरे उस महिला से अवैध संबंध नहीं हैं, क्योंकि हमने एक-दूसरे से शादी की है।
प्रेमिका ने क्या कहा?
– वहीं आरोपी प्रेमिका नीरजा यादव के मुताबिक, मैंने मनोज यादव से शादी की है। मुझे पता था कि मनोज शादी हो चुकी थी, उसके बच्चे भी हैं।
– लेकिन बेटी की हत्या का आरोप झूठा लगाया जा रहा है। उस रात जब मैं घर पहुंची थी, तो लाश जल रही थी। लेकिन मैं इतना डर गई थी कि पुलिस को सूचना नहीं कर पाई। यहीं वजह है अब मुझे हत्यारा बताया जा रहा है।
क्या कहती है पुलिस ?
– एसपी ग्रामीण मनोज चंद शाक्य ने बताया कि मनोज ने प्रेमिका नीरजा यादव के साथ मिलकर बेटी की हत्या की थी। बाद में लाश को अपने स्कूल में ही जला दिया था।
– बच्ची की मां की तहरीर के आधार पर पिता-प्रेमिका के खिलाफ हत्या का मुकदमा दर्ज कर लिया गया था। दोनों आरोपी फरार थे।
– रविवार को पुलिस ने दोनों को अरेस्ट कर लिया है। साथ ही दो लोगों को अपराधियों को शह देने के आरोप में गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *