Relatives living abroad get killed youth through Rs 20 lakh supari

murderJind (Haryana) After investigation it has become clear that Relatives living abroad get killed youth Anand through Rs 20 lakh supari. Anand was the only heir to property of his father so some relatives got him murdered,.
विदेशी रिश्तेदारों ने कराया इंडियन लड़के का कत्ल, दी थी लाखों रुपए की सुपारी
जींद (हरियाणा).छात्र आनंद की हत्या उसके अपनों ने ही सुपारी देकर कराई थी। प्रॉपर्टी को लेकर आनंद के पिता के साथ पिछले समय उनका झगड़ा भी चला था। फिलहाल सामने आया है कि इसी रंजिश में ऑस्ट्रेलिया, इंग्लैंड में रह रहे रिश्तेदारों ने अकेले वारिस आनंद को रास्ते से हटाने के लिए साजिश के तहत करीब 15-20 लाख की सुपारी देकर मरवाया। 5 जून को दिनदहाड़े फायरिंग कर हत्या करने के मामले में पुलिस ने चार लोगों को गिरफ्तार किया है।कहीं बच न जाए, इसलिए की थी अंधाधुंध फायरिंग…
– एसपी शशांक आनंद ने बुधवार को पत्रकारों से बातचीत में आनंद हत्याकांड का खुलासा किया। – उन्होंने बताया कि 5 जून को रोहतक रोड पर एक प्राइवेट हॉस्पिटल के पास स्कूटी पर बैठकर चाय पी रहे आनंद पर अंधाधुंध फायरिंग कर कुछ लोगों ने हत्या कर दी थी। इसके लिए डीएसपी सिटी कप्तान सिंह के नेतृत्व में एसआईटी का गठन किया गया था।
– सीआईए इंचार्ज सुरेंद्र सिंह की टीम, साइबर सेल के इंचार्ज नवदीप व सिक्योरिटी सेल ने सीसीटीवी फुटेज व कॉल डिटेल के आधार पर हत्यारों को पकड़ा।
– छात्र आनंद को 14 गोलियां मारी थी। गोली मारने वाले आरोपी बनारसी उर्फ काला व बिजेंद्र उर्फ नहला ने पूछताछ में कबूला कि उन्होंने इतनी गोलियां इसलिए मारी थी कि ताकि आनंद किसी भी सूरत में जिंदा न बच पाए।क्योंकि इससे पहले उन्होंने हिसार जिले के गांव बास के पास मोहला गांव के महेंद्र को गोली मारी थी, जिसमें वह बच गया था। इस पर उन्हें सुपारी की पूरी रकम नहीं मिल पाई थी।
भानू ने फर्जी आईडी पर उपलब्ध कराया था सिम
– दिल्ली का रहने वाला आरोपी भानू ने फर्जी आईडी तैयार कर हत्यारोपियों को सिम उपलब्ध कराया था। जबकि जुलाना वासी राजकुमार को हत्याकांड की साजिश के आरोप में गिरफ्तार किया है।
– हत्यारोपियों ने कबूला कि आनंद की हत्या सुपारी देने के तार विदेश से जुड़े हैं। हत्या में मिडियेटर जोगेंद्र उर्फ जोगी वासी धामड़ जिला रोहतक है।

आनंद के बड़े भाई की मौत की होगी जांच
एसपी ने बताया कि ढाई साल पहले आनंद के बड़े भाई की वाटर वर्क्स में डूबने से मौत हुई थी, उसकी भी दोबारा से जांच कराई जाएगी।
एेसे दिया हत्या को अंजाम
– आरोपी बनारसी ने साल 2014 में सहगल ज्वेलर्स रोहतक की दुकान में डकैती की थी जिसमें धामड़ गांव का रहने वाला भूपेंद्र इसका साथी था जिसके कारण बनारसी का संपर्क भूपेंद्र के भाई जोगेंद्र उर्फ जोगी से हुआ था।
– जोगेंद्र का संपर्क विदेश में रहने वाले एक एनआरआई से है। जोगेंद्र के माध्यम से ही आनंद की सुपारी देकर हत्या करवाई गई है।
– आनंद को उसके रिश्तेदार द्वारा लंदन से भेजा गया सामान देने के बहाने हत्यारों ने 5 जून को सुबह सामान देने के बहाने आनंद को एक निजी अस्पताल के सामने रोहतक रोड पर बुलाया और वहां उसकी गोली मारकर हत्या कर दी गई।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *