Engineer wife burns husband to death after writing this on her social media account

murderIndore. Engineer graduate woman along with his in-laws and other relatives burned her husband to death after writing this on her social media account. She wrote a philosophical posts about remaining happy before the cold-blooded act. Accused Reena of Nagda city was married in 2012 to Narendra Goyal, an advocate. However, she started fighting with in-laws soon after the marriage. On this Shivratri festival, she went to house of her parents, but did not return. Recently, Reena called Narendra on the pretext of compromise. When Narendra reached her parents’house, she and ohter accused poured petrol and set him on fire. They fled away after the incident. The police has filed a case and is searching them.
FB पर ये लिखा इंजीनियर पत्नी ने, फिर पति पर पेट्रोल डाल लगा दी आग
इंदौर।पति से नाराज इंजीनियर लड़की ने FB आईडी पर खुश रहने का फलसफा डाला और थोड़ी देर बाद मां, बाप और भाई के साथ मिलकर अपने पति को पेट्रोल डालकर जला दिया।कई दिनों
तक मौत से संघर्ष के बाद पति ने शनिवार को दम तोड़ दिया। पत्नी, उसके माता- पिता और भाई के खिलाफ हत्या का प्रकरण दर्ज कर पुलिस इनकी तलाश कर रही है। मृतक खुद वकील था जबकि उसके पिता जाने-माने पहलवान औऱ पुलिस आरक्षक है| पढ़ें पूरा मामला…
– झाबुआ में वरिष्ठ आरक्षक जगदीशचंद्र गोयल ने बताया कि उनके बेटे नरेंद्र की शादी 2012 में नागदा निवासी रीना से हुई थी। रीना ने इंजीनियरिंग की पढाई की थी जबकि बेटा वकील था। उनकी एक 4 साल की बेटी भी है। शादी के बाद से बहू रीना लगातार किसी ना किसी बात को लेकर घर में विवाद करती थी।
– शिवरात्रि के दौरान विवाद के बाद वह घर छोड़कर मायके चली गई थी। काफी दिनों तक मायके में रहने के बाद उसने नरेंद्र को फोन कर उसे लेने आने को कहा था। इस पर नरेंद्र 25 मई को पत्नी को लेने गया। वहां विवाद होने पर पत्नी रीना और उसके माता-पिता और भाई ने मिलकर नरेंद्र पर पेट्रोल डालकर जला दिया। चीखते हुए वह घर से बाहर रोड पर भागा तो आसपास के लोगों ने आग बुझाकर उसे नागदा के अस्पताल पहुंचाया।
– वहां से उज्जैन और फिर वहां हालत बिगड़ने पर उसे इंदौर के निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया था। महीनेभर चले इलाज के बाद शनिवार को उसने दम तोड़ दिया।
FB पर लिखा खुशियों का ये फलसफा, फिर पति को जला दिया …
– रीना को लेने के लिए नरेंद्र 25 मई को नागदा पहुंचा था। उसी दिन विवाद के बाद रीना और उसके परिजनों ने मिलकर उसे जला दिया था। 25 मई को रीना ने अपने FB आईडी पर अपना प्रोफाइल पिक चेंज किया था| नए प्रोफाइल पिक पर उसने खुश रहने को लेकर यह कोटेशन लिखा था।

” खुश रहा करो, क्योंकि परेशान होने से कल की मुश्किल दूर नहीं होती, बल्कि …आज का सकून भी चला जाता है ”
– नरेंद्र के परिजनों के मुताबिक़ रीना काफी दिनों से मायके में रह रही थी, 4 साल की बिटिया वंशिका भी उसके साथ में ही थी। घटना के कुछ दिनों पहले रीना और उसके पिता ने नरेंद्र को फोन करके कहा था कि वो नागदा आकर रीना को ससुराल ले जाए। इस पर नरेंद्र के पिता ने उसकी मां को बहू को लेने भेजा था। मायके वालों ने सास के साथ रीना को भेजने से इनकार कर दिया था इसलिए उसे लेने नरेंद्र गया था। उसे नहीं पता था कि उसकी पत्नी उसकी मौत में अपनी खुशियां ढूंढ रहीं थी।
जल्द होगी आरोपियों की गिरफ्तारी…

नागदा थाने के एसआई अविनाश सिंह राठौर ने बताया नरेंद्र के बयान के आधार पर ससुर पीरू जाजौरिया, सास कमलाबाई, बसंती बाई, पत्नी रीना और साले विनोद के खिलाफ जानलेवा हमला व अन्य धाराओं में केस दर्ज किया था। नरेंद्र की मौत के बाद पत्नी रीना सहित सभी आरोपियों पर हत्या की धारा बढ़ा दी गई है। आरोपीगण घटना के बाद से ही फरार है उन्हें जल्द ही पकड़ा जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *