Woman, brother murder grandmother for property, hid body in bathroom

murderJaipur: A married woman Sushila, wife of Pinto, along with her boyfriend and cousin murdered grandmother Heera Devi for property and hid body in bathroom. Heera Devi had two houses and a plot in her possession. She wanted to adopt Peetam and give all her proprty to him. After this, sister and brother hatched the conspracy to kill the old woman.
पोते-पोती ने मिलकर की दादी की हत्या, बाथरूम में छिपाकर रखी थी लाश
कोली मोहल्ले में गत सप्ताह वृद्धा की हत्या उसी की पोती व पोते ने मिलकर लाठी-डंडों से पीटकर की थी।
पोते-पोती ने मिलकर की दादी की हत्या, बाथरूम में छिपाकर रखी थी लाश
मृतका की पोती व पोते ने दादी की जायदाद हड़पने के लिए हत्या की साजिश रची थी।
महवा/जयपुर।कोली मोहल्ले में पिछले सप्ताह वृद्धा की हत्या उसी की पोती व पोते ने मिलकर लाठी-डंडों से पीटकर की थी। इसका खुलासा करते हुए पुलिस ने मृतका की पोती को गिरफ्तार किया है। आरोपी पोता अभी फरार है। थानाधिकारी कालूराम मीणा ने बताया कि 2 जुलाई को कोली मोहल्ले में हीरा देवी पत्नी चिरमोली जाति कोली की हत्या कर उसके शव को मकान के बाथरूम में बंद कर ताला जड़ दिया था। मामले में पुलिस अधीक्षक योगेश यादव व अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक प्रकाश कुमार ने महवा थाना अधिकारी कालूराम मीणा के नेतृत्व में टीम गठित कर मामले का खुलासा करने के निर्देश दिए थे।

ऐसे खुला राज
टीम ने पड़ोसियों से पूछताछ के आधार पर शक होने पर घटना से 1 दिन पूर्व घर से फरार हुई मृतका की पोती सुशीला पत्नी पिंटू जाती कोली निवासी बरोदा थाना वजीरपुर सवाईमाधोपुर से थाने लाकर सख्ती से पूछताछ की, उसने अपने भाई के साथ मिलकर वृद्धा की हत्या कर शव को बाथरूम में बंद करने की बात स्वीकार कर ली। पुलिस ने आरोपी पोती सुशीला को गिरफ्तार कर लिया, जिसे शनिवार को न्यायालय में पेश किया जाएगा।
कुनबे के पीतम को गोद लेना चाहती थी
मृतका की पोती व पोते ने दादी की जायदाद हड़पने के लिए हत्या की साजिश रची थी। सूत्रों के अनुसार मृतका के पास कोली मोहल्ले में दो मकानों के साथ मम्मू कॉलोनी मोठूका रोड पर भी कई भूखंड थे। आरोपित पोती सुशीला ने पूछताछ में पुलिस को बताया कि उसकी दो बहनों द्वारा तीन माह पूर्व जलकर आत्महत्या करने के बाद से वह अपने पीहर में भाइयों व मां के साथ रह रही थी। यहां रहने के दौरान उसकी दादी हीरा देवी आए दिन उसे ससुराल जाने के लिए दबाव बनाकर लड़ती थी। साथ ही अपनी संपत्ति को परिवार के ही पीतम को गोद लेकर उसे देना चाहती थी। इससे खफा होकर उसने भाई के साथ मिलकर दादी को ठिकाने लगाने की ठान ली। इसके तहत 29 जुलाई को भाई के साथ मिलकर पास के ही दूसरे घर मे दादी हीरा देवी को लाठी-डंडों से उसके सिर व गले पर वार कर उसकी हत्या कर दी और तीन माह पूर्व दो बहिनों के आत्मदाह करने के बाद से बंद पड़े दूसरे घर मे शव को बाथरूम में छिपाकर बाथरूम व मकान के ताला लगा दिया। जिससे किसी को शक न हो।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *