Property dealer having illicit relations NRI’s wife murdered

murderCHANDIGARH: A property dealer was shot dead in Kurkshetra on Tuesday morning. The incident occurred when the victim, Surender Singh aka Jalandhar Singh, was sitting in the office of another property dealer near Circuit House.

According to sources, a group of 3-4 assailants forcibly entered the office and shot Surender from close range leaving him unconscious in a pool of blood. The caretaker of the office ran away after hearing gun shots. He later informed the local residents about the incident after which the cops were called.

Surender, a resident of Fatehpur village, received seven gunshot wounds. Some bullets had also hit windows and walls of the room.

Soon after the incident, Kurukshetra City station house officer (SHO), superintendent of police (SP) Abhishek Garg and forensic experts rushed to the spot. Police suspect that the incident is an outcome of an old rivalry.

“We have registered a murder case on the complaint of the victim’s kin. The complainant has named some persons while others are unidentified. Our teams from the crime investigation agency (CIA) wing have been put on the job. We hope to arrest the accused in the next two days,” the SP said.

प्रॉपर्टी डीलर के थे NRI की पत्नी से रिलेशन, पति ने 10 लाख देकर कराई थी हत्या

कुरुक्षेत्र (हरियाणा). प्रॉपर्टी डीलर सुरेंद्र उर्फ जालंधर के मर्डर मामले में पुलिस ने सॉल्व कर दिया है। जींद के काला पेगा और उसके गैंग से जुड़े चार अन्य युवकों को गिरफ्तार किया है। हत्या के पीछे तीन वजह बताई गई है। इनमें प्लॉट पर कब्जे का विवाद, चीमा गैंग के साथ जालंधर की उसकी दुश्मनी और एक जर्मन एनआरआई की पत्नी से अवैध संबंध होना शामिल है। बता दें कि चार जुलाई को सुरेंद्र को गोलियों से भून दिया था।आगे पढ़ें पूरा मामला

10 लाख बराबर बांटने थे

नवीन, जसविन्द्र उर्फ काला,  अक्सर व  विकास उर्फ वीका जाम्बा,सीला , विनीत उर्फ काला, लवप्रीत  ने मिलकर प्लानिंग की। लवली को रैकी में लगाया। तय हुआ कि जो 10 लाख रुपए मिलेंगे, उन्हें बराबर बांटेंगे।  संजू पंडित व नवीन का भतीजा जसमेर उर्फ जसू भी साथ में आए। नवीन के पास  315 बोर का देसी कट्टा और 9 एमएम की पिस्टल व एक देसी पिस्तौल थी।  करीब दस दिन तक सीला, वीका जांबा व लवप्रीत  रैकी की।

पहले तीन को थी प्लानिंग

नवीन उर्फ काला पेगा ने दोस्त दिनेश से हरिद्वार के लिए कार मांगी। पहले तीन जुलाई को हत्या की प्लानिंग सिरे नहीं चढ़ी। नवीन ने लवप्रीत को  बाइक पर जालंधर की रैकी करने को कहा। चार जुलाई को लवप्रीत ने  जालंधर के  एक प्रापर्टी डीलर के आफिस में होने की सूचना दी। नवीन, संजू और जसू वैगनआर में वहां पहुंचे।  आते ही जालंधर पर गोलियां दी। हत्या के बाद  संजू और जसू को पानीपत में छोड़कर नवीन हरिद्वार चला गया।

कार व पिस्टल करनी है बरामद : सिटी प्रभारी संदीप सिंह के मुताबिक उक्त पांचों को कोर्ट में पेश कर तीन दिन के रिमांड पर लिया है। इनसे कार और पिस्तौल बरामद करनी हैं।

  1. दर्रा खेड़ा में प्लॉट का झगड़ा

दर्रा खेड़ा में दो लोगों के बीच प्लाट को लेकर विवाद चल रहा है। इसमें एक पक्ष की  तरफ से नवीन तो दूसरी तरफ जालंधर खड़ा हो गया। पूछताछ में नवीन ने बताया कि उक्त प्लाट विनीत के दोस्त ओमप्रकाश का है। इस मामले में उसने जालंधर को दूर रहने के लिए कहा। जालंधर को आधा हिस्सा देने की बात हुई। तब जालंधर ने कहा कि वह इस मामले में नहीं आएगा।  इस मामले में पंचायत भी हुई, जिसमें उन्हें बुलाया। वे लोग पंचायत में चले गए। जबकि  जालंधर अपने साथियों के साथ प्लाट पर कब्जा लेने पहुंच गया।  वहां उनके साथियों पर फायरिंग की। इस पर वे उसे सबक सिखाना चाहते थे।

  1. गवाही से इनकार पर प्लानिंग

नवीन की जेल में बंद चीमा गैंग के गुरुमंत्र उर्फ गगन चीमा व तरसेम उर्फ काकू से भी दोस्ती है। उधर कुछ समय पहले गुरुमंत्र व तरसेम की प्रापर्टी विवाद के चलते जालंधर संग अनबन हो गई। पिछले सात मार्च को जालंधर पर अनाज मंडी में हुए हमले में उक्त दोनों का नाम आया। चीमा व काकू चाहते थे कि जालंधर गवाही से बैठ जाए।   नवीन के मुताबिक  जालंधर ने गवाही से बैठने से इंकार कर दिया। साथ ही एक प्लाट में हिस्सा देने से भी इंकार किया। इस पर चीमा व काकू ने जालंधर का काम तमाम करने के लिए कहा।  दोनों ने अक्षय से बातचीत कराई।

3 पत्नी से संबंध पर एनआरआई ने दी थी नवीन को सुपारी

अक्षय ने नवीन को बताया कि एक महिला के साथ जालंधर के संबंध हैं।  एनआरआई पति जर्मनी में रहता है। गुरमीत जालंधर के साथ पत्नी के संबंध से खफा होकर उसकी हत्या कराना चाहता था। वॉट्सऐप पर नवीन की गुरमीत से बातचीत हुई। गुरमीत ने जालंधर की हत्या के लिए दस लाख रुपए देना तय किया। पैसा हत्या के बाद बैंक खाते में डालना था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *