Why this IT engineer committed suicide in Pune?

suicideA software engineer from Andhra Pradesh, who had started working in Pune three days ago, jumped to his death in the early hours of Wednesday, according to the Vimatal police. He was identified as Gopikrishna Durgaprasad (25), said assistant police inspector (API) Dilip Jaisingkar of Vimantal police station.
A note, written and signed in English, that Gopikrishna left behind read, “In IT there is no job security. I’m worried a lot about my family”. The note was found in his hotel room, according to the police. The incident was reported in the light of massive lay-offs by IT companies in the city. The IT employees are now in the process of forming a union to stand up against such practices by IT companies.
Indian IT industry still hiring, reports of layoffs wrong: Nasscom
Hailing from Andhra Pradesh, he had worked in Delhi, Hyderabad and had recently started working in Pune, according to the police. He was placed in a software company in Pune three days ago, said API Jaisingkar. He was provided with accommodation at a hotel in Viman Nagar, where he wrote a suicide note and inflicted 25 cuts on his left wrist with a knife, the police said. When that did not work out, he went to the terrace of the four-storied hotel and jumped to his death, API Jaisinghkar said.
The incident was reported by the manager of the hotel around 4 am on Wednesday, the police said. The body of the 25-year-old engineering graduate from Krishna district in Andhra Pradesh was taken to Sassoon General Hospital for post-mortem and shifted to Andhra Pradesh by afternoon. The hospital report showed fractured ribs and right arm, the police said.
सुसाइड नोट में लिखा: ‘IT में नहीं है जॉब सिक्यूरिटी’ और कर लिया सुसाइड
पुणे. शहर की एक आईटी कंपनी में काम करने वाले 25 साल के सॉफ्टवेयर इंजीनियर ने एक होटल की छठवीं मंजिल से छलांग लगा कर सुसाइड कर लिया है। पुलिस के मुताबिक, होटल के अंदर से एक सुसाइड नोट बरामद हुआ है। जिसमें लिखा है कि आईटी सेक्टर में जॉब सिक्यूरिटी नहीं है। तीन दिन पहले शुरू किया था काम…
– पुलिस के मुताबिक, सुसाइड करने वाले शख्स का नाम गोपीकृष्ण गुरुप्रसाद है। वह आंध्रप्रदेश के कृष्णा जिले का रहने वाला था।
– गोपी ने पुणे की एक सॉफ्टवेयर कंपनी में मरने से तीन दिन पहले यानी 9 जुलाई को काम शुरू किया था। कंपनी ने उसके रुकने के लिए विमाननगर इलाके के एक होटल में व्यवस्था की थी।
– बुधवार देर रात 1:40 मिनट पर उसने होटल की छठवीं मंजिल की बालकनी से छलांग लगाकर सुसाइड कर लिया।
– उसके गिरने की आवाज सुनकर होटल स्टाफ से जुड़े लोग मौके पर पहुंचे तब तक उसकी सांस चल रही थी। इसके बाद उसे हॉस्पिटल ले जाया गया। जहां डॉक्टर्स ने उसे मृत घोषित कर दिया।
क्या लिखा है सुसाइड नोट में?
– मामले की जांच कर रहे असिस्टेंट पुलिस इंस्पेक्टर जय सिंहकर ने बताया कि,”हमें इनके रूम से एक सुसाइड नोट बरामद हुआ है।
– जिसमें लिखा हुआ है कि,”मुझे डर लग रहा है कि मैं अपने परिवार की ठीक ढंग से देखभाल नहीं कर सकता। प्लीज मेरी फैमिली की देखभाल करें।”
– नोट में आगे लिखा गया है कि,”सॉरी दोस्तों, मैं अपने फ्यूचर को लेकर काफी चिंतित हूं, लव यू आल। आईटी में कोई जॉब सिक्यूरिटी नहीं है। मुझे अपनी फैमिली को लेकर चिंता है।”
– इंस्पेक्टर ने आगे बताया कि, उनकी बॉडी को पोस्टमार्टम के बाद उनकी फैमिली को सौंप दिया गया है।
– पुणे आने से पहले गोपीकृष्ण गुरुप्रसाद दिल्ली और हैदराबाद की आईटी कंपनी में काम कर चुके थे।
– फिलहाल पुलिस उनकी फैमिली और साथियों से पूछताछ कर मामले में जांच को आगे बढ़ा रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *