Every line of this woman’s suicide note is a mystery

suicideKanpur: A married woman Shalu alias Shalini committed suicide in a locality under Babupurva police station here. Every line of this woman’s suicide not is a mystery. However, parents of the woman have described it as murder. Police are making further investigtions.
Om sai ram..से सुसाइड नोट की शुरुआत, लाइन का हर शब्द बना रहस्य
यूपी के कानपुर में एक विवाहिता ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली।
कानपुर. यूपी के कानपुर में एक विवाहिता ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। विवाहिता ने एक सुसाइड नोट भी लिखा है, जिसमें उसने अपने बाबा से पूछा है, ”बाबा सब मुझ पर झूठा इल्जाम लगा रहे हैं, कहते हैं मैं बुरी हूं। आप बताओ क्या आजतक मैंने किसी का बुरा सोचा। प्लीज सबको आप बताओ न कि मैं ऐसी नहीं हूं, मैं सबका प्यार चाहती हूं।”
सुसाइड नोट की हर लाइन बनी रहस्य…
”बाबा कहां हो आप, मैं बहुत उदास हूं, प्लीज मुझसे बात करिए। आज कोई भी नहीं मेरे साथ, जिससे मैं अपने दिल की बात कहूं, इसलिए आप को बता रही हूं। आज मुझे उस डायरी की बहुत याद आ रही है, जिसके द्वारा मैं आप से बात करती थी। आज वो डायरी नहीं मेरे पास, लेकिन इस लेटर को डायरी समझ आप से बता रही हूं। बाबा मेरी शादी क्यों कराई, आप को पता है न मैं मम्मी-पापा से कितना प्यार करती हूं। आप ने मुझे दूर ही कर दिया, ऐसी जगह भेज दिया जहां मुझे कोई नहीं समझता। मैं अंदर ही अंदर मर रही हूं, यहां कुछ ठीक नहीं है। बाबा सब मुझ पर झूठा इल्जाम लगा रहे हैं, कहते हैं मैं बहुत बुरी हूं। आप बताओ क्या आज तक मैंने किसी का बुरा सोचा है। प्लीज सबको आप बताओ न कि मैं ऐसी नहीं हूं, मैं बस सबका प्यार चाहती हूं।”

घर लौटा पति तो पंखे पर लटका मिला पत्नी का शव

– मामला कानपुर के बाबुपुरवा थाना क्षेत्र का है। साइड नंबर वन कॉलोनी में रहने वाले संदीप की 4 साल पहले कानपुर के ब्रह्मनगर की रहने वाली शालू उर्फ शालिनी से शादी हुई थी। परिवार में इनके अलावा पिता हैं, संदीप की मां का 20 साल पहले निधन हो गया था।
– संदीप ने बताया, ”गुरुवार को मैं पिता के साथ मंडी गया था, घर पर शालू अकेली थी। जब हम वापस लौटै, तो काफी देर आवाज देने के बाद भी उसने गेट नहीं खोला। मैं गेट फांदकर अंदर गया। रूम का दरवाजा अंदर से बंद था। किसी तरह लॉक तोड़कर अंदर गया तो उसका शव फंखे से लटक रहा था।”
– ”पत्नी का शव देख मुझे कुछ समझ नहीं आया और मैं वहीं गिर गया। पापा ने पुलिस और शालू के घरवालों को घटना की जानकारी दी।”
– संदीप की चचेरी बहन ने बताया, ”शालू अक्सर घर पर अकेली रहती थी। उससे बात करने वाला भी कोई नहीं था। वह अक्सर मुझसे कहती थी कि तुम्हारे भैया और बड़े पापा बिजनेस के लिए चले जाते थे और वह घर पर तन्हा रह जाती है।”
– ”भाभी भैया से छिपकर फेसबुक और Whatsaap चलाती थी। जब भैया घर आते थे, तो Whatsaap अनस्टाल कर देती थी। भईया कई बार उन्हें सोशल साइट चलाने के लिए मना कर चुके थे।”
– वहीं, शालू की मां कमला के मुताबिक, ”मेरी बेटी सुसाइड नहीं कर सकती, वह बहुत बहादुर थी। उसको मैं जितना जानती हूं, उतना कोई नहीं जानता होगा। वह किसी बात को लेकर परेशान थी, उसे उसकी तन्हाई ने डिस्टर्ब कर दिया था।”

पुलिस का क्या है कहना…

– किदवाई नगर थानाध्यक्ष शेष नारायण पाण्डेय के मुताबिक, शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है। रिपोर्ट आने के बाद ही मौत की वजह स्पष्ट हो पाएगी। घटना से जुड़े सभी पहलुओं की जांच की जा रही है। मृतका के पति से भी पूछताछ की जा रही है।
– मृतका के परिजन जो भी तहरीर देंगे, उसी आधार पर जांच के बिन्दुओं को आगे बढ़ाया जाएगा। लड़की ने नोट में लिखा है- ”सब उसपर झूठा इल्जाम लगा रहे हैं। कहते हैं मैं बहुत बुरी हूं…” हम सुसाइड नोट की हर लाइन पर पूछताछ करेंगे। क्योंकि इस बात पर अभी कोई कुछ भी बोलने को तैयार नहीं है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *