Why this loco engineer’s daughter committed suicide?

suicideKanpur: Young and talented daughter of chief loco inspector committed suicide here. after doing MBA she had secured a job in Delhi. after some time she resigned from job and started preparing for competitive exams in which she failed.
लड़की ने लगाई फांसी, वजह छोटे भाई-बहन की सक्सेस और Unluck
यूपी के कानपुर रेलवे विभाग में चीफ लोको इंस्पेक्टर की बेटी ने शनिवार शाम फांसी लगा ली।
कानपुर.यूपी के कानपुर रेलवे विभाग में चीफ लोको इंस्पेक्टर की बेटी ने शनिवार शाम फांसी लगा ली। लड़की ने एमबीए करने के बाद दो साल दिल्ली में नौकरी की। इस समय वो नौकरी छोड़ कंपटीशन की तैयारी कर रही थी। जब उसे सफलता नहीं मिली तो उसने मौत को गले लगा लिया। सुसाइड की सूचना पर पहुंची फॉरेंसिक टीम ने घटना स्थल का निरीक्षण किया और शव को पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया।

छोटे भाई-बहन से कम समझती थी खुद को
– गोविंद नगर थाना क्षेत्र के रेलवे कॉलोनी में रहने वाले रणजीत कुमार रॉय चीफ लोको इंस्पेक्टर के पद पर तैनात हैं। परिवार में पत्नी रेनू, बेटा हिमांशु, बेटी रितांजलि (27) और गीतांजलि (25) साथ रहते हैं।
– मृतका रितांजलि एमबीए कर चुकी थीं और इसके बाद उसने दो साल दिल्ली में नौकरी भी की। लेकिन उसका मन नहीं लगा तो नौकरी छोड़कर कंपटीशन की तैयारी करने लगी।
– उसे सीएस, बैंकिंग समेत कई एग्जाम्स में सफलता नहीं मिली। उसके भाई बहन आईआईटी करने के बाद बैंग्लोर में जॉब कर रहे थे। इसलिए वो खुद को उनके मुकाबले अयोग्य समझती थी।
मां ने देखा तो लटक रही थी बॉडी
– रितांजली की मां ने बताया- शनिवार की शाम मैं फिजियोथीरैपी के लिए गई थी और रितांजली के पापा टूंडला स्टेशन के लिए निकले थे। बेटी घर पर अकेली थी।
– जब मैं वापस लौटी तो उसे आवाज लगाई, लेकिन कोई जवाब नहीं आया। उसे ढूंढते हुए जब मैं छत पर पहुंची तो टीन शेड के एंगल से उसकी बॉडी लटक रही थी।
– ये देखते ही मैं शॉक हो गई। किसी तरह खुद को संभाला और उसके पापा-पुलिस को इसकी जानकारी दी।
क्या कहती है पुलिस ?
– एसपी साउथ अशोक वर्मा के मुताबिक, ये लड़की कंपटीशन की तैयारी कर रही थी। लेकिन कई बार असफल की वजह से उसने फांसी लगा ली। माैके से कोई सुसाइड नोट नहीं मिला है।
– मृतका के भाई-बहन आईआईटी करने के बाद जॉब कर रहे हैं। फॉरेंसिक टीम ने भी घटना स्थल का निरीक्षण किया है। शव को कब्जे में लेकर पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *