Why this beautiful woman commit suicide?

suicideKhanna (Jalandhar) Gagandeep Kaur committed suicide shooting herself with her father’s licensed revolver. In her suicide note in Enlish addressed to her father she wrote that “Nothing is more important than self respect that is why I am ending my life”.
इज्जत से बढ़कर कुछ नहीं लिख पिता की पिस्टल से खुद को मार ली गोली
गगनदीप ने अपने पिता भाग सिंह की लाइसेंसी पिस्टल से शुक्रवार सुबह 5 बजे सुसाइड कर लिया।
गगनदीप कौर और इंग्लिश में लिखा सुसाइड नोट।
जालंधर. खन्ना। पंजाब के खन्ना में एक लड़की ने अपने पिता की लाइसेंसी पिस्टल से खुद को गोली मार ली। मृतका गगनदीप की उम्र 30 साल के लगभग है। उसका 14 जुलाई को तलाक हुआ था।लड़की ने मरने से पहले आराम से एक सुसाइड नोट लिखा था, जिसमें उसने आत्महत्या करने की एक-एक वजह लिखी है। गांव के लोगों से थी परेशान…
– पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार गगनदीप ने अपने पिता भाग सिंह की लाइसेंसी पिस्टल से शुक्रवार सुबह 5 बजे सुसाइड कर लिया। गगनदीप कौर की शादी कोटलाकला के रहने सरनदीप सिंह से हुई थी। दोनों का पिछले महीने 14 जुलाई को ही तलाक हुआ था। पुलिस ने सुसाइड नोट जब्त कर इस मामले की जांच शुरू कर दी है।
सुसाइड नोट में लिखा, पापा मैं जानती हूं आप मुझसे बहुत प्यार करते हैं…
– पापा, आपने मुझे मेरे भाई से ज्यादा प्यार दिया। मैं खुद भी आपको बहुत प्यार करती हूं।
– आपने मेरी शादी, मेरी खुशी और भले के लिए की। आपने मुझे वो सब दिया जो मैंने मांगा।
– लेकिन अपने गांव जोटी के गुरिंदर सिंह, उसकी दादी बलजिंदर कौर और मां गुरमीत कौर ने मेरी लाइफ बर्बाद कर दी।
– इन लोगों ने मेरे सुसराल वालों के सामने मुझे बदनाम किया। इसका नतीजा यह हुआ कि मैं अपनी हेप्पी फैमिली से दूर हो गई और मेरा तलाक हो गया।
– इन लोगों ने तलाक के बाद भी सबके सामने धमकियां दी कि अगर मैंने दूसरी शादी की तब भी यह ऐसे ही परेशान करेंगे।
– सुसाइड नोट में आगे लड़की गगनदीप ने लिखा है कि गुरिंदर मुझे अमेरिका से फोन करता और मैसेज करता था।
– वह मैसेज में लिखता था कि जहां भी मैं जाऊंगी वह वहां आएगा और मेरी लाइफ को नरक बना देगा।
-उसकी दादी और मां कहती थी कि गुरिंदर मुझसे पांच लाख रुपए मांगे।
– मैंने वो सारे मैसेज डर के मारे डिलीट कर दिए। मैं इन लोगों से बहुत डर गई थी।
– मैं अब जिंदा नहीं रहना चाहती। मेरे लिए आपकी इज्जत से बढ़कर कुछ भी नहीं है।
-पापा, मैं आपको उदास और चिंतित नहीं देख सकती।
– आप पहले ही मेरी दो बार जान बचा चुके हैं। मैं जानती हूं आप मुझे बहुत प्यार करते हैं।
– लेकिन इन तीनों ने मुझे बहुत बुरी तरह प्रताड़ित किया है।
– मैं अब जिंदा नहीं रहना चाहती। इन लोगों ने मेरी लाइप को नरक बना दिया है और जिंदा रहने लायक ही नहीं छोड़ा है।
– मैंने आपको मम्मी से बात करते हुए सुना है कि मैं दोबार शादी कर लूं।
– लेकिन मैं बहुत डरी हुई हूं और जानती हूं कि गुरिंदरऔर उसकी फैमिली मुझे सुख से नहीं रहने देंगे।
– मैं बेमतलब की और प्रताड़ित होने वाली लाइफ नहीं जीना चाहती।
– मेरी मौत के जिम्मेदार गुरिंदर सिंह, उसकी दादी बलजिंदर कौर और मां गुरमीत कौर हैं।
– पापा आप और मम्मी अपना ध्यान रखना।
बेवजह परेशान कर रहा था गुरिंदरः पुलिस
इस मामले में आरोपियों के खिलाफ आत्महत्या के लिए उकसाने का केस दर्ज कर लिया है। आरोपी गुरिंदर सिंह से गगनदीप की शादी से पहले जान-पहचान थी। लेकिन अब वह बेवजह उसे परेशान कर रहा था। आरोपियों की अभी गिरफ्तारी नहीं हो सकी है, वे फरार हैं। –

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *