Why this businessman committed suicide

suicideMeerut: A businessman Rajneesh committed suicide after sending suicide note by email to two persons. Reason for suicide is not clear.
मौत से पहले 2 दोस्तों को किया email, ध्यान रखना वो श्मशान घाट न आएं
यूपी के मेरठ में एक बिजनेसमैन ने गुरुवार को अपने ऑफिस में खुद को गोली मारकर सुसाइड कर लिया।
यूपी के मेरठ में एक बिजनेसमैन ने अपनी रिवॉल्वर से गोली मारकर सुसाइड कर लिया।
मेरठ. यूपी के मेरठ में एक बिजनेसमैन ने गुरुवार को अपने ऑफिस में खुद को गोली मारकर सुसाइड कर लिया। घटना की जानकारी देर रात करीब 12 बजे उस समय हुई जब वह अपने घर नहीं पहुंचा। परिजन तलाश करते हुए ऑफिस पहुंचे। दरवाजा तोड़कर देखा तो बिजनेसमैन का खून से लथपथ शव पड़ा था।
दरवाजा खोला तो फर्श पर पड़ी थी बिजनेसमैन की डेडबॉडी…
– मेरठ के सदर थाना क्षेत्र में रजनीश अपनी फैमिली के साथ रहता था। उसने इंटरनेशनल स्पोर्टस प्राइवेट लिमिटेड की फ्रेंचाइजी ले रखी थी। पत्नी रितु ने बताया, गुरुवार को रजनीश रोजाना की तरह सुबह अपने ऑफिस गए थे। लेकिन देर शाम को घर नहीं लौटे।
– मैंने उनके मोबाइल पर फोन किया, तो रिसीव नहीं हुआ। मैंने नौकर अमरदीप को फोन किया। उसने बताया कि रात 10 बजे वह रजनीश को आफिस में ही छोड़कर घर चला आया। मैंने उसे वापस आॅफिस भेजकर पता करने को कहा।
– अमरदीप ने बताया आॅफिस का दरवाजा अंदर से बंद है, जिसके बाद हम भी वहां पहुंच गए। बाहर से काफी आवाज दी गई, लेकिन कोई जवाब नहीं मिला। इसके बाद दरवाजा तोड़ा गया।
– अंदर रजनीश का शव खून से लथपथ जमीन पर पड़ा था, पास ही उनका लाइसेंसी पिस्टल भी पड़ा था। पति की मौत के बाद पत्नी रितू का रो-रोकर बुरा हाल हो गया है। परिजनों का भी बुरा हाल है।
– रितू ने बताया, कभी भी रजनीश ने कोई ऐसी बात शेयर नहीं की, जिससे लगे कि वो टेंशन में हैं।
– सूचना पर पहुंचे एसपी सिटी मानसिंह चौहान ने घटना की जांच पड़ताल की। एसपी सिटी का कहना है कि अभी मामला सुसाइड का सामने आ रहा है। मरने से पहले रजनीश ने अपने परिचितों को ईमेल पर सुसाइड नोट भेजा था। मामले की जांच की जा रही है।

सुसाइड से पहले किया ये EMail

– एसपी सिटी मानसिंह चौहान ने बताया, आॅफिस के अंदर रजनीश के कम्प्यूटर की जांच-पड़ताल में सुसाइड नोट मिला। जिसे रजनीश ने अपने रिलेट‍िव को ईमेल किया था।
– एक मेल उसने किसी पुनीत नाम के व्यक्ति को किया, जिसे उसने बॉस कहकर संबोधित किया है। पुनीत को किए गए मेल में उसने लिखा है, ”जो भी मेरठ में मेरे क्लाइंट हैं, वो पवन को डिटेल दे देना। डोमेंस की या और कोई रिस्पॉन्सबिल हो, जो क्लाइंट को सर्विस दे सके।
– बाकी बॉस आई एम गोइंग- बस जी ली अपनी जिदंगी, इटस ओवर नाऊ। हो सके तो बच्चों का ख्याल रखना। बड़े हो गए, तो उनके करियर में कुछ सपोर्ट कर देना। बस एक और ध्यान रखना कि मेरे जाने के बाद मेरे ऊपर वाले श्मशान घाट भी न आएं। अगर वो आए तो मेरी आत्मा को शांति नहीं मिलेगी।
– घर का सेटलमेंट करा देना, नहीं तो मेरी तरह बच्चों की जिंदगी भी टेंशन में रहेगी। एक मेल उसने विशाल को की है, उसमें उसने लिखा है कि भाई इट्स ओवर नाऊ, आई एम गोइंग। अपनी मर्जी से सुसाइड कर रहा हूं। इस मेल को पुलिस वालों को दिखा देना।
– तुम्हारा बहुत सपोर्ट रहा पर कुछ कर नहीं पाया लाइफ में। अब और हिम्मत नहीं है यार।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *