Why this woman airport worker committed suicide?

suicideJaipur: Awoman airport worker committed suicide here. Pavitra devi (26) hailed from Sikkim and lived in a rented room at Saraswati Nagar under Jawahar Nagar Circle. She had not opened door of her morning. When landlord peeped from window, he saw her body haning by ceiling fan. No suicide note has been found. She was an employee of Indo Thai Airlines.
खिड़की से देखा तो अंदर लटकी थी लड़की का लाश, एयरपोर्ट पर करती थी काम
जयपुर।जयपुर में शुक्रवार को एक एयरलाइन्स कर्मी ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। कोई सुसाइड नोट नहीं छोड़ने के कारण आत्महत्या के कारणों का अभी पता नहीं चल पाया है। मकान मालिक ने पुलिस को इस बारे में सूचना दी। पुलिस मामले की जांच में जुटी है। जानिए और इस बारे में …
– पुलिस के अनुसार पवित्रा श्रेत्री (26) जवाहर नगर सर्किल स्थित सरस्वती नगर में किराए के मकान में रहती है। वह इंडो-थाई एयरलाइंस में कस्टमर सर्विस एजेंट के पद पर काम करती है।
– सुबह उसके कमरे का दरवाजा नहीं खुला। मकान मालिक को यह अजीब लगा। जब उन्होंने खिड़की से झांका )तो देखा कि पवित्रा पंखे से लटकी हुई है। यह देखकर मकान मालिक के होश उड़ गए।
– उनके हल्ला मचाने पर आस-पास के लोग वहां आ गए। मकान मालिक ने पुलिस को सूचना दी। – पुलिस ने आकर शव को पंखे से उतारा तथा उसके बारे में पूछताछ की। पुलिस ने एफएसएल टीम को भी बुला लिया।
– पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भिजवाया। पुलिस ने मृतका के परिजनों को सूचित किया तथा मामले की जाचं में जुट गई है।
ऐसा दी जान
– पवित्रा ने पंखे से लटककर जान दी। उसने कुर्सी पर खड़े होकर पंखे से चुन्नी को बांधकर फांसी का फंदा अपने गले में बांध लिया। इसके बाद वह उस पर झूल गई।
सिक्किम की रहने वाली थी
– मृतका सिक्किम के सिंगटम की रहने वाली है। वह पिछले कुछ समय से यहां काम कर रही थी।
– मकान मालिक के अनुसार उसके हाव-भाव से नहीं लगा कि वह सुसाइड कर सकती है।
नहीं छोड़ा सुसाइड नोट
– पुलिस के अनुसार पवित्रा ने कोई सुसाइड नोट नहीं छोड़ा है। इसलिए यह सवाल पेचीदा हो गया है कि उसने सुसाइड क्यों किया।
– अब उसके दोस्तों, सोशल मीडिया तथा कंपनी के लोगों से पूछताछ से ही आत्महत्या के कारणों का पता चल सकेगा।
दो साल से कर रही थी नौकरी
– पवित्रा पिछले दो साल से इंडो-थाई एयरलाइन्स में नौकरी कर रही थी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *